उत्तराखंड : न्यायमूर्ति मलिमथ हो सकते हैं नैनीताल हाईकोर्ट में नए जस्टिस

सार

  • सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने की है कर्नाटक से उत्तराखंड हाईकोर्ट में भेजने की सिफारिश
विज्ञापन
alka tyagi न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नैनीताल Published by: अलका त्यागी
Updated Wed, 19 Feb 2020 07:51 PM IST
Karnataka Justice Ravi malimath Will become Uttarakhand High court New Chief Justice
- फोटो : फाइल फोटो

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें

विस्तार

कर्नाटक हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति रवि विजय कुमार मलिमथ उत्तराखंड हाईकोर्ट के नए जज हो सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट की कॉलेजियम ने 12 फरवरी को न्यायमूर्ति मलिमथ को उत्तराखंड हाईकोर्ट भेजने की सिफारिश की है। इसके अलावा, कॉलेजियम ने दिल्ली के न्यायमूर्ति डा. एस मुरलीधर को हरियाणा हाईकोर्ट और महाराष्ट्र हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति रंजीत वी मोरे को मेघालय हाईकोर्ट भेजने की भी सिफारिश की है। 
विज्ञापन

25 मई 1962 को जन्मे न्यायमूर्ति रवि विजयकुमार मलिमथ कर्नाटक हाईकोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश स्वर्गीय वीएस मलीमथ के पुत्र हैं। उन्होंने 28 जनवरी 1987 से बंगलौर में अधिवक्ता के रूप में मुख्यत: सांविधानिक, सिविल, क्रिमिनल, लेबर और सर्विस के मामलों की प्रैक्टिस शुरू की थी। इसके बाद उन्हें 18 फरवरी 2008 को कर्नाटक हाईकोर्ट के अतिरिक्त न्यायमूर्ति के रूप में नियुक्त किया गया। 17 फरवरी 2010 को वह स्थायी न्यायमूर्ति बने।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X