उत्तराखंड में कोरोना: मंगलवार को मिले 14 नए संक्रमित, दिसंबर तक पूरा हो जाएगा कोविड वैक्सीनेशन

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून Published by: अलका त्यागी Updated Tue, 07 Sep 2021 09:27 PM IST

सार

Coronavirus Cases in Uttarakhand Today: प्रदेश में मंगलवार को  पांच जिलों अल्मोड़ा, बागेश्वर, पौड़ी, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी में एक भी संक्रमित मरीज नहीं मिला है। वहीं, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि राज्य में 15 दिसंबर तक शत प्रतिशत कोविड टीकाकरण कर लिया जाएगा।
कोरोना वायरस की जांच (प्रतीकात्मक तस्वीर)
कोरोना वायरस की जांच (प्रतीकात्मक तस्वीर) - फोटो : Pixabay
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में 14 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। वहीं, एक मरीज की मौत हुई है। जबकि 21 मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गया। सक्रिय मामलों की संख्या 371 पहुंच गई है। 
विज्ञापन


उत्तराखंड में कोरोना टीकाकरण: तारीख गुजरी, वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाने नहीं आए चार लाख लोग


स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार, मंगलवार को 19646 सैंपलों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। जबकि पांच जिलों अल्मोड़ा, बागेश्वर, पौड़ी, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी में एक भी संक्रमित मरीज नहीं मिला है। उधर, चमोली, हरिद्वार, पिथौरागढ़, टिहरी और ऊधमसिंह नगर में एक-एक, चंपावत में दो, देहरादून में चार और नैनीताल में तीन संक्रमित मरीज सामने आए हैं। प्रदेश में अब तक कोरोना के कुल संक्रमितों की संख्या 343139 हो गई है। इनमें से 329327 लोग ठीक हो चुके हैं। प्रदेश में कोरोना के चलते अब तक कुल 7389 लोगों की जान जा चुकी है।

उधर, 72 हजार 661 लोगों को कोरोना वैक्सीन दी गई। अब तक प्रदेश में 68 लाख 32 हजार 935 लोगों को कोरोना की पहली वैक्सीन दी जा चुकी है। 22 लाख 24 हजार 121 को दोनों डोज दी जा चुकी हैं। 18 से 44 आयु वर्ग में अब तक चार लाख 74 हजार 203 को वैक्सीन की दोनों डोज दी जा चुकी हैं।

संक्रमण मुक्त होने के बाद टिहरी में कोरोना ने फिर दी दस्तक
कोरोना संक्रमण मुक्त होने के दूसरे दिन ही टिहरी जिले में एक मरीज संक्रमित मिला है। जिले में मरीजों की संख्या 15 हजार 293 पहुंच गई है। 26 अगस्त के बाद जिले में कोरोना संक्रमण का कोई भी केस नहीं मिला था। सोमवार को टिहरी जिला कोरोना संक्रमण से मुक्त हो गया था। सीएमओ डा.संजय जैन ने बताया कि मंगलवार को चंबा ब्लॉक के एक व्यक्ति में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। संक्रमण का जिले में एक ही एक्टिव केस है। बताया 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के 1,46,020 और 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के 1,77,122 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है।

दिसंबर तक पूरा हो जाएगा कोविड वैक्सीनेशन: सीएम

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि राज्य में 15 दिसंबर तक शत प्रतिशत कोविड टीकाकरण कर लिया जाएगा। प्रदेश में कोविड 19 से प्रभावित विभिन्न क्षेत्रों के लिए राहत पैकेज दिए गए हैं। चिकित्सा क्षेत्र में संसाधनों की कमी न हो, इसके लिए 205 करोड़ रुपये का पैकेज दिया गया है। कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत संचालित विभिन्न योजनाओं का प्रस्तुतिकरण दिया गया। 
सुभाष रोड स्थित एक होटल में स्वास्थ्य संवाद-2021 में बतौर मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाएं किस तरह और बेहतर हो सकती हैं, इस उद्देश्य से यह संवाद कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड की संभावित तीसरी लहर के दृष्टिगत सभी व्यवस्थाएं की गई हैं। चिकित्सा क्षेत्र के लिए राज्य सरकार ने 205 करोड़ का पैकेज दिया गया है।

पर्यटन, परिवहन, संस्कृति क्षेत्र से जुड़े लोगों को भी 200 करोड़ का राहत पैकेज दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग के कार्मिकों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, आशा फैसिलिटेटर, पटवारी से नायब तहसीलदार तक, विकास से संबंधित विभागों के कार्मिकों एवं कांस्टेबल से सब इंस्पेक्टर तक को कोविड में सराहनीय कार्यों के लिए प्रोत्साहन राशि दी जा रही है। 

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा कि राज्य में स्वास्थ्य सुविधाओं को मजबूती प्रदान करने के लिए इस तरह के स्वास्थ्य संवाद कारगर साबित होंगे। इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं के बारे में जानकारी दी। मीडिया को जनता एवं सरकार के मध्य की महत्वपूर्ण कड़ी बताते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि शीघ्र ही देहरादून, श्रीनगर और हल्द्वानी में भी मीडिया कर्मियों के लिए स्वास्थ्य संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। 

कार्यक्रम में सचिव स्वास्थ्य अमित नेगी, राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण के चेयरमैन डीके कोटिया, मिशन निदेशक एनएचएम सोनिका, महानिदेशक स्वास्थ्य डॉ.तृप्ति बहुगुणा, अपर सचिव अरुणेंद्र चौहान, अभिषेक त्रिपाठी, डॉ.कुलदीप टोलिया, डॉ.सरोज नैथानी, डॉ.मयंक बडोला, डॉ.जेसी पांडे सहित विभागीय अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

पर्वतीय क्षेत्र में मजबूत करनी होंगी स्वास्थ्य सेवाएं
स्वास्थ्य संवाद कार्यक्रम में प्रदेशभर से आए पक्ष-विपक्ष के विधायकों, नगर निगमों के मेयर, जिला पंचायतों के अध्यक्षों ने अपने विचार रखे। जनप्रतिनिधियों ने कहा कि सरकार को जिला चिकित्सालयों एवं संयुक्त चिकित्सालयों में और सुविधाएं बढ़ानी होगी, ताकि पर्वतीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को स्थानीय स्तर पर ही बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ मिल सके। नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि राज्य को शुरू में ही पृथक स्वास्थ्य मंत्री मिल गया होता तो प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाएं और मजबूत हो गई होतीं। भाजपा विधायक महेंद्र भट्ट ने कहा कि पहाड़ दूरस्थ क्षेत्रों के जिला अस्पतालों में हड्डी, महिला और बाल रोग विशेषज्ञों की अनिवार्य रूप से तैनाती हो। भाजपा विधायक मुन्ना सिंह चौहान ने कहा कि अच्छी चिकित्सा हर नागरिक का अधिकार है। जो दुर्गम में लोगों को नहीं मिल पा रही है। इसके लिए सरकार को हर सीएचसी और पीएचसी में टेलीमेडिसिन सेवा शुरू करनी चाहिए। 

इन्होंने भी रखी अपनी बात 
स्वास्थ्य संवाद कार्यक्रम में कांग्रेस विधायक मनोज रावत, हरीश धामी, काजी निजामुद्दीन, देहरादून के मेयर सुनील उनियाल गामा, हरिद्वार की मेयर अनिता शर्मा, हल्द्वानी के मेयर जोगेंद्र पाल सिंह आदि ने भी अपने सुझाव दिए।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00