बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

चारधाम यात्रा 2020: घोषित हुई तिथि, 30 अप्रैल को इस शुभ मुहूर्त में खुलेंगे बदरीनाथ धाम के कपाट

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चमोली Published by: अलका त्यागी Updated Wed, 29 Jan 2020 05:30 PM IST

सार

  • 30 अप्रैल को खुलेंगे भगवान बदरीनाथ धाम के कपाट
  • राजदरबार में ग्रह नक्षत्रों की दशा देखकर निकाला गया दिन
  • बदरीविशाल के महाभिषेक के लिए 18 अप्रैल को पिरोया जाएगा तिलों का तेल
विज्ञापन
Badrinath Dham gate will open on 30th April for char dham yatra 2020
- फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें

विस्तार

इस वर्ष भगवान श्री बदरीनाथ मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के लिए 30 अप्रैल को ब्रह्म मुहूर्त में सुबह 4.30 बजे पर खोले जाएंगे। वसंत पंचमी पर नरेंद्रनगर राजदरबार में कुल पुरोहितों ने महाराज मनुज्येंद्र शाह की जन्म कुंडली देखकर मंदिर के कपाट खोलने का मुहूर्त निकाला, जबकि भगवान बदरी विशाल के महाभिषेक के लिए तिलों का तेल 18 अप्रैल को पिरोया जाएगा।
विज्ञापन


राजदरबार में आचार्य कृष्ण प्रसाद उनियाल, संपूर्णानंद जोशी और हेतराम थपलियाल ने गणेश, पचांग और चौकी पूजन के बाद महाराजा मनुज्येंद्र शाह की जन्म कुंडली का अध्ययन और ग्रह नक्षत्रों की दशा देखकर भगवान श्री बदरीनाथ मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोलने की तिथि घोषित की। महाराजा ने सुखद यात्रा की शुभकामनाएं दी। भगवान बदरीविशाल के महाभिषेक के लिए स्थानीय सुहागिन महिलाएं महारानी माला राज्य लक्ष्मी शाह के नेतृत्व में 18 अप्रैल को राजदरबार में तिलों का तेल निकालेंगी।


उसके पश्चात गाडू घड़ा यात्रा को लेकर डिम्मर पंचायत के लोग अपने गंतव्य को प्रस्थान करेंगे। इस बीच यात्रा ऋषिकेश, श्रीनगर, रुद्रप्रयाग, कर्णप्रयाग, डिमर गांव और पांडुकेश्वर आदि विभिन्न स्थानों पर रुकने के बाद 29 अप्रैल को बदरीविशाल के मंदिर में पहुंचेगी। 30 अप्रैल को तिलों के तेल से बदरीविशाल का महाभिषेक के बाद मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए जाएंगे।

इस मौके पर बदरी-केदार मंदिर समिति के अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल, उपाध्यक्ष अशोक खत्री, चारधाम विकास परिषद के उपाध्यक्ष आचार्य शिव प्रसाद ममर्गाइं, बदरीनाथ के रावल ईश्वरी प्रसाद नंबूदरी, सीईओ बीडी सिंह, धर्माधिकारी भुवन उनियाल, डिमरी धार्मिक केंद्रीय पंचायत के अध्यक्ष विनोद डिमरी, सचिव राजेंद्र डिमरी, आशुतोष डिमरी, सुरेश डिमरी, सदस्य अरुण मैठाणी, चंद्रकला ध्यानी, राजपाल पुंडीर, राजपाल जड़धारी, इंद्रमणी गैरोला आदि उपस्थित रहे।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

बांह पर काली पट्टी बांधकर किया विरोध

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us