शहर से गांव तक पेयजल योजनाओं के प्रस्ताव तैयार

Dehradun Bureau Updated Wed, 15 Nov 2017 01:34 AM IST
जलसंस्थान ने शासन को भेजे 15 करोड़ के पांच प्रस्ताव
-- नलकूप, जलाशय निर्माण व पेयजल वितरण प्रणाली बिछाने का कार्य है शामिल

अमर उजाला ब्यूरो
ऋषिकेश।
जल संस्थान, ऋषिकेश की ओर से नगर व समीपवर्ती ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल किल्लत से जूझ रहे इलाकों में जलापूर्ति व्यवस्था सुचारु रखने के लिए शासन को 15.10 करोड़ का प्रस्ताव भेजा है। तैयार किए गए पांच प्रस्तावों में नगर के कुछ इलाकों के अलावा श्यामपुर, आईडीपीएल व रायवाला क्षेत्र में सर्वाधिक पेयजल प्रभावित इलाकों में नलकूप व जलाशय निर्माण के साथ ही पाईप लाइन बिछाने का कार्य शामिल हैं। योजना के क्रियान्वयन से कई प्रभावित इलाकों में हजारों लोगों को पेयजल सुलभ हो सकेगा।
ग्रीष्मकाल में आईडीपीएल, श्यामपुर, रायवाला के साथ ही नगर के कुछ इलाकों में लोगों को जलापूर्ति बाधित होने, लो-प्रेशर जैसी समस्याओं से जूझना पड़ता है। जिसके चलते अक्सर किसी न किसी इलाके के लोग जलकल अभियंता कार्यालय व अधिकारियों के चक्कर लगाते दिखाई पड़ते हैं। समस्या का समाधान नहीं होने पर कई लोगों को धरना-प्रदर्शन के लिए मजबूर होना पड़ता है।
लोगों की पेयजल समस्या के निराकरण के लिए जल संस्थान के स्तर से पहल की गई है। विभाग की ओर से जलकल अभियंता कार्यालय की ओर से क्षेत्र के सर्वाधिक प्रभावित इलाकों के लिए पांच योजनाओं के प्रस्ताव मांगे गए हैं। विभाग को तैयार कर भेजे गए मसौदे में नलकूप निर्माण, जलाशय, पुरानी पाइप लाइनों की मरम्मत व कुुछ स्थानों पर नई पाईप लाइन बिछाकर विस्तारीकरण का प्रस्ताव शामिल हैं।

कहां कितने बजट की दरकार
- 4.80 करोड़- ऋषिकेश में भरत विहार, उग्रसेननगर में दो नलकूपों का निर्माण, सर्वहारानगर, इंदिरानगर, नेहरूग्राम, गीतानगर, आशुतोषनगर में पाइप लाईनों का विस्तारीकरण आदि।
-3 करोड़- पशुलोक विस्थापित क्षेत्र आमबाग व सी ब्लॉक में नलकूप, जलाशय निर्माण व पाईप लाइन का विस्तारीकरण आदि।
-2.80 करोड़- रायवाला, खांडगांव में नलकूप निर्माण, जलाशय निर्माण, पाईप लाइन का विस्तारीकरण।
- 2.50 करोड़- श्यामपुर, नंबरदार फार्म, खैरीकलां में जलाशय निर्माण व पाईप लाइन का विस्तारीकरण।
-2 करोड़- बापूग्राम, सुमन विहार में नलकूप निर्माण व पेयजल लाइन का विस्तारीकरण आदि।

क्या कहते हैं अफसर
विभाग की ओर से ऋषिकेश व आसपास के क्षेत्रों में पेयजल किल्लत से संबंधित पांच प्रस्ताव मांगे गए थे। जल संस्थान कार्यालय की ओर से क्षेत्र के सर्वाधिक प्रभावित इलाकों में पेयजल किल्लत को दूर करने के लिए पांच प्रस्ताव भेजे जा चुके हैं। योजना मद में धनावंटन के बाद निर्माण कार्य शुरू कराया जाएगा।
- एवीएस रावत, जलकल अभियंता, जलसंस्थान कार्यालय ऋषिकेश।

Spotlight

Most Read

Chandigarh

बॉर्डर पर तनाव का पंजाब में दिखा असर, लोगों में दहशत, BSF ने बढ़ाई गश्त

बॉर्डर पर भारत और पाकिस्तान में हो रही गोलीबारी का असर पंजाब में देखने को मिल रहा है, जहां लोगों में दहशत फैली हुई है। बीएसएफ ने भी गश्त बढ़ा दी है।

21 जनवरी 2018

Related Videos

बेकाबू होकर फैलती जा रही है बागेश्वर के जंगलों में लगी आग

उत्तराखंड के बागेश्वर में पिछले हफ्ते जगलों में लगी आग अबतक काबू में नहीं आई है। बेकाबू होकर फैल रही जंगल की आग की जद में आसपास के कई गांव आ गए हैं।

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper