छत्तीसगढ़ सीडी विवादः पत्रकार विनोद वर्मा को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

टीम डिजिटल/अमर उजाला Updated Tue, 31 Oct 2017 10:44 PM IST
chhattisgarh sex cd row journalist vinod verma sent to judicial custody for 14 days
छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले की अदालत ने पत्रकार विनोद वर्मा को 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। वर्मा को अश्लील सीडी कांड में ब्लैकमेलिंग के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।
 
वर्मा के अधिवक्ता फैजल रिजवी ने मंगलवार को बताया कि प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी भावेश कुमार वट्टी की अदालत ने आज पत्रकार विनोद वर्मा को 13 नवंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

रिजवी ने बताया कि मंगलवार को पुलिस रिमांड की अवधि समाप्त होने पर पुलिस ने वर्मा को अदालत में पेश किया। जहां पुलिस ने वर्मा के लिए 14 दिनों के न्यायिक हिरासत की मांग की।

अधिवक्ता ने बताया कि बचाव पक्ष ने अदालत के समक्ष कहा है कि इस मामले में उगाही के लिए धमकी का अपराध भी पंजीकृत हुआ है, लेकिन इसके साक्ष्य नहीं हैं। अत: उनके मुवक्किल को रिहा किया जाए।  

छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले की पुलिस ने पत्रकार विनोद वर्मा को इस महीने की 27 तारीख को उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद से गिरफ्तार किया था।

 

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Lucknow

बीजेपी सरकार कर रही निजीकरण के जरिए आरक्षण की संवैधानिक व्यवस्था पर प्रहार: बसपा सुप्रीमो मायावती

कोयला खदानों को निजी कंपनियों को देने के केंद्र सरकार के फैसले का बसपा सुप्रीमो मायावती ने विरोध किया है। शनिवार को जारी एक बयान में कहा कि मोदी सरकार की यह नीति धन्नासेठों के तुष्टीकरण की एक और नीति है।

24 फरवरी 2018

Related Videos

रमन सिंह की नींद हुई हराम, रात को लगाने पड़ रहे हैं पैग: कांग्रेस नेता

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव से ठीक पहले राज्य में बयानबाजी का दौर शुरू हो गया है। राज्य में कांग्रेस के आदिवासी नेता और विधायक कवासी लखमा ने राज्य के मुख्यमंत्री रमन सिंह को लेकर विवादित बयान दिया है।

16 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen