दिल्ली को बिहारियों से पाट देंगे: नीतीश कुमार

पटना/इंटरनेट डेस्क Updated Fri, 25 Jan 2013 11:10 AM IST
विज्ञापन
delhi will be filled by biharis : nitish kumar

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिल्ली में होने वाली अधिकार रैली को लेकर कहा कि दिल्ली को बिहारियों से पाट देंगे। मुख्यमंत्री जदयू के अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ द्वारा श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में वीरवार को आयोजित जननायक कर्पूरी ठाकुर के 89वें जयंती समारोह में संबोधित कर रहे थे। अधिकार रैली दिल्ली के रामलीला मैदान में 17 मार्च को होने वाली है।
विज्ञापन


नीतीश कुमार ने जयंती समारोह में हाथ उठवा कर लोगों को यह संकल्प दिलवाया कि वे दिल्ली चलेंगे। उन्होंने सभी को टिकट लेकर ही दिल्ली जाने की सलाह दी। साथ ही मुख्यमंत्री विरोधी दलों पर भी जमकर बरसे।


बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिये जाने के संदर्भ में मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग सबसे पहले साल 2006 में उठी थी। कई लोग कहते हैं कि तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में मेरी अध्यक्षता में एक कमेटी बनी थी। यह सफेद झूठ है।

उन्होंने कहा कि अब तो केंद्र सरकार भी मांग के पक्ष में बोलने लगी है। वित्त मंत्री ने राज्यसभा में इस मुद्दे पर मानदंड बदलने की बात कही। बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने के लिए आंदोलन जारी रहेगा और आज न कल केंद्र जरूर सुनेगा। 2014 के बाद तो सुनेगा ही। हाल ही में जयपुर में जब इस पर चर्चा हुई, तो कई लोग परेशान हो गये और फोन कर हालचाल लेने लगे कि कहीं समीकरण तो नहीं बदल रहा है। हम जहां हैं, वहीं रहेंगे।

कर्पूरी जयंती में विरोधियों पर निशाने साधते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि लोग नाक रगड़ कर मर जायेंगे, पर अब जात-पात, नफरत, तनाव, नरसंहार व फिरौती के लिए अपहरण के समय वाला बिहार नहीं लौटनेवाला है। जब हमारी चलती है, तो हम बिहार के हक की बात करते हैं। बाकी लोगों की चलने पर उनके मन में अहंकार, घमंड व सत्ता का नशा सवार हो जाता है। 1994 से जो हम कह रहे हैं, उस पर आज भी कायम हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो धोखा देते हैं, वे सभी को धोखेबाज समझते हैं। अपने राज में उड़नखटोला से जाते थे और अब सड़क मार्ग से जा रहे हैं, तो क्या यह बदलाव नहीं है। उन्हें परिवर्तन नहीं दिख रहा है, तो इलाज करायें। अब कब्जादारी नहीं चलेगी। सभी को पता है कि पहले लोग चुनाव कैसे जीतते थे। लेकिन, अब तनाव का माहौल पैदा नहीं होगा। बिहार में हो रहे बदलाव को देखने देश-दुनिया से लोग आ रहे हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X