विज्ञापन
विज्ञापन
Home ›   Video ›   Sports ›   Know the difference between match-fixing and spot-fixing

जानिए मैच फिक्सिंग और स्पॉट फिक्सिंग में फर्क, किन खिलाड़ियों पर पड़ा फर्क

1.9K Views
वीडियो डेस्क, अमर उजाला डॉट कॉम Updated Sat, 16 Mar 2019 02:52 PM IST

वैसे क्रिकेट या दूसरे खेलों के लिए फिक्सिंग शब्द कुछ नया नहीं है। मगर पिछले कुछ समय में उपजे इस स्पॉट फिक्सिंग ने कई बार जेंटलमेंस गेम कहलाए जाने वाले क्रिकेट की छवि धूमिल की है। ऐसे में यह समझना जरूरी है कि आखिर स्पॉट फिक्सिंग और मैच फिक्सिंग होता क्या है।

अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Latest

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree