बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
SBI भर्ती 2021: शुरू होने वाली है भारतीय स्टेट बैंक में क्लर्क भर्ती, ऐसे करें तैयारी
Safalta

SBI भर्ती 2021: शुरू होने वाली है भारतीय स्टेट बैंक में क्लर्क भर्ती, ऐसे करें तैयारी

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

छात्रा से दुराचार के आरोपियों से पोस्को हटी

श्रीनगर। छात्रा को बहला फुसला कर ले जाने और दुराचार के मामले में नया मोड़ आ गया है। शैक्षणिक दस्तावेजों के अनुसार, छात्रा बालिग निकली, जिसके चलते पुलिस ने मामले में पोक्सो धारा हटा दी।
18 मई को महिला थाने में कक्षा 10 की छात्रा के साथ दुराचार का केस दर्ज हुआ था। पीड़िता के अनुसार, उसका दोस्त और एक अन्य युवक उसे घूमने के बहाने ले गए। वह रात में एक रिश्तेदार के यहां रुक गए। जहां उन्होंने उसे नशीला पेय पिलाया। रात में दोस्त के साथ आए युवक ने उसके साथ दुराचार किया, जिस पर पुलिस ने दुराचार के आरोपी युवक के खिलाफ पोक्सो और पीड़िता के दोस्त के खिलाफ बहलाने फुसलाने व पूरे प्रकरण में सहयोग करने का मुकदमा दर्ज किया था। विवेचना के दौरान पुलिस ने छात्रा के शैक्षणिक दस्तावेजों की जांच की। सभी में उसकी उम्र अलग-अलग निकली। कुछ में वह नाबालिग थी, तो कुछ में बालिग। महिला थानाध्यक्ष एसआई संध्या नेगी ने बताया कि शैक्षणिक दस्तावेज को आयु का प्रामाणिक दस्तावेज माना जाता है। शैक्षणिक दस्तावेजों में उसकी उम्र घटना के दिन 18 साल से ऊपर थी। जिस पर पोक्सो की धाराओं को हटा दिया गया है।
... और पढ़ें

ग्रामीणों व छात्रों के बीच मारपीट, हंगामा

पौड़ी। जीबी पंत अभियांत्रिकी एवं प्रौद्योगिकी संस्थान घुड़दौड़ी परिसर में छात्रों व ग्रामीणों के बीच मारपीट होने से हंगामा हो गया। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले को शांत किए जाने का प्रयास किया, लेकिन मामला शांत नहीं होता देख पुलिस दोनों पक्षों को मेडिकल के लिए जिला चिकित्सालय पौड़ी ले आई, जहां दोनों पक्षों का मेडिकल किया जा रहा है। वहीं हंगामे के बाद संस्थान परिसर में पुलिस बल तैनात कर लिया गया है।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार देर शाम जीबी पंत अभियांत्रिकी एवं प्रौद्योगिकी संस्थान घुड़दौड़ी परिसर के समीप एक छात्र व छात्रा बैठे थे। इस बीच वहां अचानक चार ग्रामीण आ धमके और उन्होंने छात्र-छात्रा से बहस शुरू कर दी, जो देखते ही देखते मारपीट में तब्दील हो गई। दोस्त के साथ मारपीट किए जाने की बात सुन परिसर के और छात्र घटनास्थल पर पहुंचे, जिससे पूरे परिसर में हंगामा हो गया। इसे देखकर ग्रामीण छात्रों से मारपीट के लिए हॉकी स्टीक लेकर आ गए। घटना की सूचना पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची। सीओ सदर अनिल कुमार जोशी व कोतवाल पौड़ी एलएस कठैत ने छात्रों और ग्रामीणों को शांत करने का प्रयास किया, लेकिन दोनों पक्ष एक-दूसरे पर आरोप लगाते रहे। छात्रों का कहना है कि ग्रामीण स्थानीय व्यापारी भी है। वह अपने चार साथियों के साथ परिसर में शांतिपूर्वक बैठे एक छात्र व छात्रा से उलझ गया। ग्रामीण ने बिना कारण छात्र के साथ मारपीट और छात्रा सेे गाली-गलौच शुरू कर दी। उन्होंने कहा कि छात्र को गंभीर चोटें आई हैं। सीओ सदर अनिल कुमार जोशी ने बताया कि पुलिस दोनों पक्षों को मेडिकल के लिए जिला चिकित्सालय पौड़ी लाई है। कहा कि मेडिकल रिपोर्ट के बाद कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
... और पढ़ें

दोस्त ने की दोस्त ही हत्या, आरोपी गिरफ्तार

पौड़ी। विकास खंड पाबौ के एक गांव में एक दोस्त ने दूसरे दोस्त की हत्या कर दी है। पुत्र की तहरीर पर पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार विकास खंड पाबौ के पटोटी गांव के दो दोस्त भोपाल सिंह और प्रेम सिंह बकरियां खरीदने चौंरीखाल गए। उनमें से प्रेम सिंह बकरियां लेकर गांव लौटा, लेकिन भोपाल सिंह घर नहीं आया। परिजनों से उस रात कोई खोजबीन नहीं की, लेकिन दूसरी सुबह गांव लौटा प्रेम सिंह फरार हो गया, जिससे परिजनों को आशंका हुई। इस बीच एक ग्राम प्रहरी की शव मिलने सूचना पर परिजन नेगी खिला नामक स्थान पर पहुंचे, जहां गदेरे में एक शव पड़ा था, जो पटोटी गांव के भोपाल सिंह का था। घटना की सूचना पर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय पौड़ी भेजा। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है। मृतक के पुत्र की तहरीर पर पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज करने के साथ आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। कोतवाल पौड़ी लक्ष्मण सिंह कठैत ने बताया कि पटोटी गांव के भोपाल सिंह की हत्या उसके दोस्त ने की है। मामले में हत्या का मुकदमा दर्ज कर आरोपी प्रेम सिंह उर्फ पृथ्वी सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि आरोपी को 27 मई सोमवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा।
... और पढ़ें

पौड़ी: दुष्कर्म के आरोपियों के परिजनों ने पीड़िता को पीटा, राजस्व पुलिस पर कार्रवाई न करने का आरोप

उत्तराखंड के पौड़ी में एक गांव में दुष्कर्म के आरोपियों के परिजनों ने पीड़िता को पीट दिया। घटना तब सामने आई जब पीड़िता किसी तरह खुद को बचाकर जिला अस्पताल पौड़ी पहुंची। यहां पीड़िता ने मीडिया को अपनी आपबीती सुनाई। पीड़िता ने बताया कि विगत 20 मार्च को गांव के ही दो युवकों ने उसके साथ दुष्कर्म किया, जिनमें एक आरोपी सेना में तैनात है। पीड़िता ने आरोप लगाया कि मामले की शिकायत राजस्व पुलिस में दर्ज कराई थी, लेकिन राजस्व पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। 

दुष्कर्म पीड़िता ने बताया कि 20 मार्च को वह गांव से बाजार जा रही थी। इस दौरान गांव के ही दो युवकों ने उसके साथ दुष्कर्म किया। साथ ही घटना की जानकारी किसी को भी बताने पर जान से मारने की धमकी भी दी। पीड़िता ने घटना की जानकारी परिजनों को दी।

इस पर पीड़िता के परिजनों ने राजस्व पुलिस में 21 मार्च को दोनों आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। पीड़िता ने बताया कि बुधवार को आरोपियों के परिजनों ने मुझे अपने घर बुलाया और मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाते हुए मेरे साथ मारपीट की। मारपीट में मेरे हाथ और पैरों पर चोटें आई हैं। पीड़िता ने आरोप लगाया कि शिकायत दर्ज कराने चार दिन बाद भी राजस्व पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया।

दूसरी ओर राजस्व उपनिरीक्षक गजेंद्र रतूड़ी ने बताया कि मामले में दो आरोपियों के खिलाफ एससीएसटी एक्ट, दुष्कर्म व जान से मारने की धमकी देने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोपी घटना के बाद से ही फरार हैं, जिनकी गिरफ्तारी के लिए संभावित ठिकानों पर दबिश भी दी गई है। वहीं एसडीएम सदर एसएस राणा ने बताया कि घटना की गंभीरता को देखते हुए मामला रेगुलर पुलिस को स्थानांतरित कर दिया गया है। हालांकि सीओ सदर पीएल टम्टा ने बताया कि मामले से जुड़ी आधिकारिक सूचना अभी नहीं मिल पाई है। 

जनप्रतिनिधि भी खामोश
तहसील पौड़ी के एक गांव में दुष्कर्म जैसी घटना को लेकर जनप्रतिनिधियों की खामोशी भी सवालों के घेरे में हैं। क्षेत्र में युवती से दुष्कर्म की घटना, उसके बाद आरोपियों के परिजनों की ओर से पीड़िता को पीटने जैसा गंभीर प्रकरण सामने है, लेकिन क्षेत्र के किसी भी जनप्रतिनिधि ने पीड़िता के पक्ष में आवाज नहीं उठाई है। जबकि पीड़िता के गांव से ही क्षेत्र के ब्लाक प्रमुख, पूर्व ब्लाक प्रमुख, पूर्व जिला पंचायत सदस्य, पूर्व दर्जाधारी राज्य मंत्री भी हैं।
... और पढ़ें

श्रीनगर: लाखों रुपये के गबन के आरोपी बैंक के पूर्व शाखा प्रबंधक ने किया आत्मसमर्पण

55 लाख रुपये के गबन के आरोपी पंजाब नेशनल बैंक श्रीनगर शाखा के पूर्व प्रबंधक ने कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया। जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।  कोतवाली श्रीनगर में इसी साल 29 जून को पीएनबी श्रीनगर के शाखा प्रबंधक यशकांत बडोला ने पूर्व शाखा प्रबंधक अनूप बिंदोला निवासी ग्राम नवासू, (खेडाखाल) जिला रुद्रप्रयाग के खिलाफ तहरीर दी थी।

अनूप पर 29 जून 2018 से 29 जून 2019 तक (शाखा प्रबंधक के पद पर रहते हुए) बैंक में 54 लाख 97 हजार 427 रुपये के गबन का आरोप लगा था। तहरीर के अनुसार, अनूप ने बैंक प्रबंधक पद का दुरुपयोग करते हुए खाते धारकों के साथ धोखाधड़ी की। आरोपी ने कूट रचना कर उनके एफडीआर (सावधि जमा रसीद) की हूबहू दूसरी प्रति बनाई और उन्हें बैंक में गिरवी रखकर लोन ले लिया।

बडोला के यहां कार्यभार ग्रहण करने के बाद इस गड़बड़ी का पता चला। उन्होंने इस मामले की शिकायत उच्चाधिकारियों को दी। विभागीय जांच के बाद बिंदोला को सस्पेंड कर दिया गया था। मामले की जांच एसएसआई विनय कुमार कर रहे हैं। गिरफ्तारी से पहले ही आरोपी अनूप ने बुुधवार को न्यायिक मजिस्ट्रेट श्रीनगर के न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया। एसएसआई विनय ने बताया कि आरोपी को कोर्ट के आदेश पर जेल भेज दिया गया है।
... और पढ़ें

एक्टर सलमान खान की हत्या की साजिश रचने का आरोपी उत्तराखंड से गिरफ्तार, फरीदाबाद पुलिस ने पकड़ा

बॉलीवुड स्टार सलमान खान की हत्या की साजिश रचने के वाले आरोपी राहुल उर्फ सांगा को फरीदाबाद (हरियाणा) पुलिस ने पौड़ी तहसील के पातल गांव से गिरफ्तार किया। आरोपी यहां अपने दोस्त के साथ आया था। हालांकि मामले में स्थानीय पुलिस व राजस्व विभाग को गिरफ्तारी की भनक तक नहीं लगी। अब राजस्व विभाग इस मामले में जानकारी जुटाए जाने की बात कह रहा है। उधर, मंगलवार को रिमांड अवधि पूरी होने के बाद फरीदाबाद पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे न्यायिक हिरासत में नीमका जेल भेज दिया गया।

राहुल उर्फ सांगा शातिर बदमाश है। राजस्थान में हिरण मारने के मामले को लेकर रंजिशन लॉरेंस बिश्नोई व संपत नेहरा के कहने पर उसने जनवरी 2020 में मुंबई जाकर सलमान खान की रेकी की थी। इस रेकी का इनपुट उसने राजस्थान की जेल में बंद अपने आका लॉरेंस बिश्नोई को दिया था। उसने राहुल से मुंबई में सलमान खान की जनवरी 2020 में रेकी कराई। उसके मुंबई से लौट कर आते ही लॉकडाउन लग गया। इस वजह वह वह अपने मकसद में कामयाब नहीं हो सके।

राहुल अपने किसी दोस्त के साथ पौड़ी जिले के पातल गांव आया था। उसके दोस्त को भी नहीं पता था राहुल हरियाणा का वांछित अपराधी है। एसएसपी पौड़ी पी. रेणुका देवी ने बताया कि सलमान खान की हत्या की साजिश के आरोपी की गिरफ्तारी 15 अगस्त को पातल गांव से हुई है, जो राजस्व क्षेत्र में है। इसकी स्थानीय पुलिस को कोई जानकारी दी गई। वहीं एसडीएम सदर श्याम सिंह राणा ने कहा कि मामले में जानकारी जुटाई जा रही है। गांव में जिस व्यक्ति के यहां राहुल रह रहा था। उससे जानकारी ली जाएगी।
... और पढ़ें

Uttarakhand : नेपाली मजदूरों से लूट में एक राजस्व एसआई, दो पीआरडी स्वयंसेवक धरे

सांकेतिक तस्वीर
बासा स्टे होम खिर्सू में काम कर रहे नेपाली मजदूरों से लूटपाट राजस्व उप निरीक्षक और पीआरडी के दो स्वयंसेवकों ने की थी। लॉकडाउन का डर दिखाकर तीन नेपाली मजदूरों से लूट के दो मोबाइल फोन और 14 हजार रुपये पुलिस ने बरामद कर लिए हैं। 12 घंटे के भीतर मामले का खुलासा करने पर पुलिस टीम को ढाई हजार के इनाम की घोषणा की गई है।

एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने बताया कि आरोपियों की धरपकड़ के लिए दो टीम लगाई गई थीं। आरोपियों पर एक सप्ताह के अंदर गैगस्टर एक्ट भी लगाया जाएगा। उन्होंने बताया कि पुलिस को शुक्रवार शाम मौखिक रुप से जानकारी मिली कि बासा होम स्टे खिर्सू में काम कर रहे मजदूरों से कार में आए तीन लोगों ने खेड़ाखाल-श्रीनगर तिराहे पर मोबाइल फोन और नकदी लूट ली।

बताया गया कि इनमें से दो वर्दीधारी थे। इस पर पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू की। नेपाल निवासी रामबहादुर ने शनिवार को तीन लोगों के खिलाफ लूटपाट की रिपोर्ट दर्ज कराई।

पत्रकारों से वार्ता करते हुए एसएसपी कुंवर ने बताया कि पीड़ित ने जिस कार  संख्या का जिक्र किया था, वह राजस्व उप निरीक्षक (आरएसआई) गंगवाड़स्यूं सुनील रावत, निवासी पौड़ी के नाम पंजीकृत निकली। खिर्सू चेक पोस्ट पर तैनात पुलिस कर्मियों से जानकारी मिली कि शुक्रवार सुबह इस कार में सुनील अपने दो साथियों के साथ खेड़ाखाल की ओर गया था और शाम लगभग पांच बजे लौटा था।

सूचना पुख्ता होने पर पुलिस ने घटना में प्रयुक्त कार की तलाशी ली। कार के डैशबोर्ड से दो हजार रुपये मिले। इसके बाद आरएसआई रावत से सख्ती से पूछताछ की गई। आरोपी ने बताया कि इस वारदात में उसके साथ दो पीआरडी स्वयंसेवक रविंद्र कुमार, निवासी नवनु मल्ला और उमाकांत, निवासी तमलाक लोली भी शामिल थे। पुलिस ने रविंद्र के कब्जे से लूट के 10 हजार रुपये और एक मोबाइल फोन और उमाकांत के कब्जे से दो हजार रुपये और एक मोबाइल फोन बरामद किया। पत्रकार वार्ता में सीओ वंदना वर्मा भी मौजूद थीं।
... और पढ़ें

उत्तराखंड: पुलिस ने आलू के ट्रक से पकड़ा शराब का बड़ा जखीरा, तीन लोग गिरफ्तार

उत्तराखंड के पौड़ी में गुरुवार को थाना देवप्रयाग पुलिस ने शराब का बड़ा जखीरा पकड़ा। पुलिस ने रामकुंड चौराहे पर चेकिंग के दौरान 560 पेटी अवैध शराब बरामद की। चंडीगढ़ ब्रांड शराब की यह 560 पेटियां ट्रक में आलू की बोरियों के नीचे छुपाकर रखी गई थी, जो चमोली जिले को ले जाई जा रही थी।

बरामद शराब की कीमत करीब 40 लाख आंकी गई है। किसी को शक न हो, इसके लिए तस्करों ने ट्रक की नंबर प्लेट भी बदल दी थी। पुलिस ने मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर ट्रक को भी सीज कर लिया है।

 एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने मीडिया को बताया कि बृहस्पतिवार को देवप्रयाग थाना बाजार की पुलिस टीम रामकुंड तिराहे पर वाहनों की चेकिंग कर रही थी। तभी ऋषिकेश की ओर से आ रहे एक ट्रक को चेकिंग के लिए रोका गय। ट्रक की चेकिंग की गई तो आलू के बोरों के नीचे शराब छुपाकर रखी गई थी।

इसी दौरान केबिन में छिपाई गई ट्रक की असली नंबर प्लेट भी मिल गई। इसमें पंजाब का रजिस्ट्रेशन नंबर अंकित है। पुलिस ने चालक मुख्तियार सिंह निवासी कनोर लुधियाना, सुखवीर सिंह निवासी नूरपुर (पंजाब) और लोकेश थापा निवासी पोखड़ा (नेपाल) हाल निवासी रायपुर देहरादून को गिरफ्तार कर लिया।

एसएसपी ने बताया कि पंजाब के अंबाला से चंडीगढ़ ब्रांड की अवैध शराब देवप्रयाग से पौड़ी होते हुए चमोली जिले में सप्लाई के लिए लाई जा रही थी। मामले में आबकारी अधिनियम व धोखाधड़ी की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। एसएसपी ने पुलिस टीम को 2500 रुपये के नकद इनाम से पुरस्कृत किया है।
... और पढ़ें

कोटद्वार में दिनदहाड़े युवक की गोली मारकर हत्या, बदमाश फरार, पुलिस ने यूपी वॉर्डर पर की नाकेबंदी

पौड़ी के कोटद्वार थाना क्षेत्र में मंगलवार को दिनदहाड़े अपराह्न करीब साढ़े तीन बजे एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। बदमाश बाइक पर सवार होकर आए थे। हत्याकांड से क्षेत्र में दहशत बनी हुई है। सूचना मिलते ही कोतवाली पुलिस और वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे। मामले की छानबीन शुरू कर दी गई। देर शाम एसएसपी पौड़ी ने भी कोटद्वार में डेरा डाल लिया है। मृतक देहरादून का रहने वाला था। वह दो महीने से सिमलचौड़ में शिव केबल नेटवर्क के मुख्यालय में रह रहा था। 

सिमलचौड़ में एएसपी आवास और एआरटीओ कार्यालय के पीछे शिव केबल नेटवर्क का मुख्यालय है। यहीं पर केबल संचालक अजय सिंह रावत का आवास भी है। दो महीने से यहां पर शिमला बाईपास देहरादून निवासी शेखर चंद्र ढौंडियाल (43) पुत्र रमेश चंद्र रह रहा था। मंगलवार शाम करीब साढ़े तीन बजे शेखर केबल मुख्यालय के बाहर बरामदे में मोबाइल से बात करते हुए टहल रहा था। इसी बीच सड़क की ओर से पड़ने वाले छोटे गेट से बदमाशों ने उस पर फायर झोंक दिया। वह लहूलुहान होकर जमीन पर गिर गया।
... और पढ़ें

उत्तराखंडः फॉरेस्ट गार्ड भर्ती में नकल कराने वाले एक और आरोपी को जेल भेजा

फॉरेस्ट गार्ड भर्ती के दौरान नकल कराने वाले एक और आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। आरोपी रुड़की निवासी है। उसने मेरठ से पौड़ी में परीक्षा के दौरान नकल कराई थी। उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की ओर से 16 फरवरी को प्रदेशभर में फॉरेस्ट गार्ड भर्ती परीक्षा हुई थी।

भर्ती परीक्षा में नकल कराकर पास कराए जाने को लेकर मंगलौर निवासी गोपाल सिंह ने कोतवाली पौड़ी में 17 फरवरी को तीन युवकों के खिलाफ नामजद तहरीर दी थी। पुलिस ने मामले में पंकज, संजय व सौरभ के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया था। एसएसपी पौड़ी दलीप सिंह कुंवर ने बताया कि नकल कराने वाले गिरोह के एक और आरोपी कुलदीप राठी निवासी नारसन रुड़की को रुड़की से ही मंगलवार शाम को गिरफ्तार किया गया।

आरोपी कुलदीप मेरठ से पौड़ी में नकल कराने वाले मुख्य सूत्रधार सुधीर व अभ्यर्थी से मोबाइल और ब्लूटूथ के माध्यम से जुड़ा था। मामले में और भी लोगों की संलिप्तता होने से इंकार नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि आरोपी को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया गया। न्यायालय के आदेश पर उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।
... और पढ़ें

फरार आरोपी गिरफ्तार, न्यायिक अभिरक्षा में भेजा जेल

पौड़ी। मुख्यालय पौड़ी में हत्या कर शव फेंकने वाले फरार आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपी को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया। अदालत ने आरोपी को न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया।
मुख्यालय पौड़ी में 14 जनवरी 2019 को मां ने बेटे के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी थी। हत्या के बाद शव को नेपाली मूल के मजदूर ने मुख्यालय से सटी तिमली रोड पर फेंक दिया था। पुलिस की चीता टीम को गश्त के दौरान शव मिला था। घटना की सूचना के बाद पुलिस टीम मौके पर पहुंची। शव की शिनाख्त सतेंद्र सिंह नेगी पुत्र प्रताप सिंह निवासी एमआईसी रोड पौड़ी के रुप में हुई थी। पुलिस ने हत्या की आरोपी मां सुमित्रा नेगी और उसके बेटे मोहन सिंह को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया, जो वर्तमान में न्यायिक अभिरक्षा में हैं। शव फेंकने वाला आरोपी घटना के बाद से ही फरार चल रहा था। पुलिस की टीम ने आरोपी की तलाश में कई संभावित स्थानों पर दबिश दी। लंबे समय तक दबिश के बाद पुलिस टीम ने 23 जून को उसे आईएसबीटी देहरादून से गिरफ्तार कर लिया। उसे 24 जून को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया गया। अदालत ने आरोपी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।
एसएसआई उमेश कुमार ने बताया कि शव फेंकने वाले आरोपी मन बहादुर खत्री (39 वर्ष) निवासी ओड़ा, आंचल राप्ति, जिला सल्या नेपाल को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया है। आरोपी को गिरफ्तार करने वाली टीम में एसएसआई उमेश कुमार के साथ कांस्टेबल चेतन सिंह, शूरवीर भंडारी, हरीश लाल शामिल रहे।
... और पढ़ें

लाइन से चोरों ने पाइप पर किए हाथ साफ

पौड़ी। जिले के नौगडू-गडिगांव पेयजल योजना की लाइन से चोरों ने पाइप चुरा लिए हैं। इससे ग्रामीण विगत दो दिनों से पेयजल किल्लत से जूझ रहे हैं। बृहस्पतिवार को ग्राम पंचायत गडिगांव के प्रधान दरवान सिंह के नेतृत्व में ग्रामीणों से जिलाधिकारी से मुलाकात की। इस मौके पर उन्होंने बताया कि नौगडू-गडिगांव पेयजल योजना का निर्माण विगत 10 वर्ष पूर्व हुआ था। कहा कि योजना के पाइप लाइन से पलियोधार तोक, टिमरु रौला तोक व भैरव मंदिर के समीप से अनेक पाइप चोरी हो गए हैं। इससे ग्रामीणों को पेयजल किल्लत से जूझना पड़ रहा है। दरवान सिंह ने कहा कि राजस्व विभाग जांच कर आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे। इस अवसर पर जगत सिंह, उमा देवी व वीरेंद्र रावत आदि मौजूद थे। ... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X