विज्ञापन

पौड़ी

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

नाबालिगों से काम कराने पर चार व्यवसायियों पर मुकदमा दर्ज

श्रीनगर। बाल श्रम के आरोप में शहर के चार व्यवसायियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। इन व्यवसायियों के प्रतिष्ठानों में नाबालिग बच्चों को काम करते हुए पाया गया था। पुलिस का कहना है कि जांच के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।
बीते 14 जून को बाल कल्याण समिति ने श्रम विभाग व पुलिस के साथ मिलकर शहर के विभिन्न व्यावसायिक प्रतिष्ठानों में छापेमारी अभियान चलाया था। इस दौरान विभिन्न प्रतिष्ठानों में सात नाबालिग कार्य करते हुए पाए गए थे। हालांकि बाद में दो बच्चों ने अपनी अंक तालिकाएं समिति के समक्ष पेश की थी, जिससे स्पष्ट हुआ था कि उक्त बच्चे पढ़ाई करते हैं और अपने अभिभावकों के साथ यहां रह रहे हैं। छापे के दौरान मिले अन्य पांच नाबालिग बच्चों से प्रतिष्ठानों में काम कराए जाने के आरोप में शहर के चार व्यवसायियों के खिलाफ रविवार को कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया है। कोतवाल एनएस बिष्ट ने बताया कि बाल कल्याण समिति व श्रम निरीक्षक की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जांच के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष इंदू वशिष्ठ ने बताया कि नाबालिग बच्चों को उनके परिजनों के सुपुर्द कराया जा रहा है।

तीन दिन बाद टीम को आई बच्चों की याद
श्रीनगर। बाल कल्याण समिति व छापेमारी टीम को तीन दिन बाद प्रतिष्ठानों में काम करने वाले बच्चों की याद आई। 14 जून को टीम ने विभिन्न व्यावसायिक प्रतिष्ठानों में नाबालिग बच्चों को काम करते हुए पाया था, लेकिन उस दिन टीम ने इन बच्चों को अपने संरक्षण में लेने के बजाय केवल फोटो व वीडियोग्राफी कर औपचारिकता पूरी कर ली। जब रविवार को बाल कल्याण समिति की टीम मुकदमा दर्ज करने कोतवाली पहुंची तो पुलिस ने बच्चों के बारे में पूछा। तब एक बार फिर बाल कल्याण समिति व श्रम विभाग की टीम पुलिस के साथ बच्चों की तलाश में बाजार में घूमती रही । देर शाम बच्चों को तलाश कर लिया गया था।
... और पढ़ें

चोरी के मोबाइल फोन सहित युवक को धर दबोचा

श्रीनगर। बिल्वकेदार में स्कूटी से मोबाइल फोन चुराने वाले युवक को पुलिस ने धर दबोचा। आरोपी से चोरी के तीन मोबाइल फोन भी बरामद किए गए। आरोपी को गिरफ्तार कर पुलिस ने न्यायालय भेज दिया है।
9 जून को शहर के वीर चंद्र सिंह गढ़वाली मार्ग निवासी अमन कंडारी ने तहरीर दी थी कि 31 मई को वह अपने दोस्तों के साथ बिल्वकेदार गया था। उन लोगों ने अपने 3 मोबाइल फोन स्कूटी की डिग्गी में रख दिए थे। जब वह वापस आए, तो फोन गायब मिले।
उन्होंने अपर बाजार निवासी अंकित नौटियाल (20) पर चोरी का शक जाहिर किया था। पुलिस ने अंकित के खिलाफ चोरी की नामजद रिपोर्ट दर्ज कर लिया। एसआई मुकेश ने रविवार देर शाम अंकित को हिरासत में ले लिया। कोतवाल एनएस बिष्ट ने बताया कि आरोपी से तीनों मोबाइल फोन बरामद होने पर उसे गिरफ्तार कर लिया। अंकित ने स्वीकारा है कि उसने मास्टर की से स्कूटी की डिग्गी खोलकर मोबाइल फोन चुराए थे।
अंकित कुछ माह पूर्व मोटर साइकिल चुराने के मामले में दोस्तों के साथ पकड़ा गया था।
... और पढ़ें

मेले में शराब बेचेने ला रहे व्यक्ति को पकड़ा

उत्तराखंड: पौड़ी जेल में बंद कुख्यात नरेंद्र वाल्मीकि ने रची तीन हत्याओं की साजिश, तीन शूटर गिरफ्तार 

उत्तराखंड की जेलों में बदमाशों का नेटवर्क टूटने का नाम नहीं ले रहा है। अब पौड़ी जेल में बंद कुख्यात नरेंद्र वाल्मीकि का नाम एक नहीं बल्कि तीन-तीन हत्याओं की साजिश रचने में सामने आया है। वह मुकदमे के गवाह व पुराने दुश्मन और एक युवती को मारने की साजिश रच रहा था। युवती की हत्या के लिए उसने 10 लाख रुपये की सुपारी भी ले ली थी। एसटीएफ ने उसके बुलाए तीन शूटरों को आशारोड़ी चेकपोस्ट से गिरफ्तार कर लिया है। इनके पास से तमंचे और कारतूस बरामद हुए हैं। एसटीएफ पौड़ी जेल में नरेंद्र वाल्मीकि से पूछताछ कर रही है। 

एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि एसटीएफ जेलों में बंद कुख्यातों के नेटवर्क पर नजर रखे हुए है। इस दौरान पता चला कि पौड़ी जेल में बंद कुख्यात नरेंद्र वाल्मीकि भी जेल से अपना नेटवर्क चला रहा है। वह मंगलौर क्षेत्र में अपने किसी पुराने मुकदमे के गवाह और एक अन्य व्यक्ति की हत्या कराना चाह रहा है। यही नहीं जांच में यह भी सामने आया कि उसने एक युवती की हत्या कराने के लिए 10 लाख रुपये की सुपारी भी ली है। इन सब हत्याओं के लिए वह उत्तर प्रदेश के कुछ शूटरों को बुला रहा है। एसटीएफ ने नरेंद्र वाल्मीकि से पौड़ी जेल में पूछताछ की। जांच में सामने आया कि उसके एक साथी पंकज ने तीन शूटरों को बुलाया है, जो देहरादून स्थित चंद्रबनी के एक मकान में रुकने वाले हैं। 

इस पर शूटरों को गिरफ्तार करने के लिए चार टीमों का गठन किया गया। रविवार रात देहरादून आशारोड़ी चेकपोस्ट के पास से इन तीनों शूटरों को गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में इन्होंने अपने नाम नीरज पंडित निवासी मोहना, चाईशा, फरीदाबाद, हरियाणा, सचिन निवासी सोरम, भाहपुर, बुढ़ाना, मुजफ्फरनगर और अंकित निवासी सलारपुर, गंगोह, सहारनपुर बताए। इनके पास से दो तमंचे 315 बोर, एक तमंचा 312 बोर, छह कारतूस, एक मोटरसाइकिल और एक स्कूटर बरामद हुआ। इन शूटरों के खिलाफ क्लेमेंटटाउन थाने में आर्म्स एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। तीनों को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है। 
... और पढ़ें
शूटर गिरफ्तार शूटर गिरफ्तार

उत्तराखंड: पत्नी की हत्या कर फंदे से लटका दिया था शव, आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

उत्तराखंड में पौड़ी के पैठाणी थानाक्षेत्र के खंडखिल गांव निवासी महिला की हत्या के आरोप में पुलिस ने पति को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार आरोपी ने घरेलू विवाद में पत्नी की हत्या कर दी थी। बाद में उसने इसे आत्महत्या का रूप देने की साजिश भी रची। 

18 सितंबर को राजस्व उपनिरीक्षक सुनील सिंह ने थाना पैठाणी में सूचना दी थी कि ग्राम खंडखिल में पुष्कर सिंह रावत की पत्नी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। पुलिस के अनुसार महिला के गले पर फंदे का निशान था और शरीर पर किसी और चोट का निशान नहीं था।

अगले दिन फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंची और साक्ष्य जुटाए। थानाध्यक्ष प्रताप सिंह ने बताया कि 19 सितंबर को महिला के भाई विनोद सिंह चौहान ने जीजा पर हत्या का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया था। एसएसपी पौड़ी पी रेणुका देवी ने मामले में सभी पहलुओं पर जांच के निर्देश दिए थे। बताया कि जांच में पति से सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने हत्या की बात कबूल कर ली। पुलिस ने सोमवार को आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। 

पुलिस के अनुसार 18 सितंबर को पति और पत्नी के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया था। इसी विवाद में पति ने चुन्नी से गला घोंटकर पत्नी की हत्या कर दी थी और बाद में उसका शव फंदे से लटका दिया था। इसके बाद आरोपी ने पड़ोसियों और रिश्तेदार को सूचना दी कि उसकी पत्नी ने आत्महत्या कर ली है। हालांकि, पुलिस की पूछताछ में उसने हत्या का बात कबूल कर ली। 
... और पढ़ें

श्रीनगर : नशीले पदार्थ और हथियार रखने के आरोप में एक युवती समेत पांच लोगों पर मुकदमा

श्रीनगर पुलिस ने अवैध रूप से नशीले पदार्थ और अवैध हथियार रखने के जुर्म में एक युवती और 4 युवकों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों से अवैध तमंचा, जिंदा कारतूस, चरस, शराब और बीयर सहित 21 हजार रुपये नगदी बरामद की है। 

रविवार को पुलिस क्षेत्राधिकारी एसडी नौटियाल ने इस प्रकरण का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि शनिवार शाम पुलिस कीर्तिनगर पुल पर चेकिंग कर रही थी। इस दौरान बिलकेदार सड़क पर जा रही एक कार को रोका गया। कार में एक युवती समेत 5 लोग सवार थे। तलाशी के दौरान पुलिस ने एक अवैध तमंचा (315 बोर), 3 जिंदा कारतूस, 465 ग्राम अवैध चरस, 19 बोतल शराब, 24 केन बीयर और 21 हजार रुपये बरामद किए। 

पकड़े गए युवकों ने पूछताछ में बताया कि वह सभी लोग चरस और शराब बिक्री का काम करते हैं। किसी को शक न हो, इसलिए वह अपने साथ महिला को रखते हैं। हालांकि पकड़ी गई युवती ने बताया कि वह आरोपियों के लिए खाना बनाने का काम करती है। लेकिन पुलिस को उसकी कहानी पर विश्वास नहीं हुआ।

नौटियाल ने बताया कि युवकों से तमंचे का लाइसेंस मांगा गया, तो वह दिखा नहीं पाए। नौटियाल ने बताया कि एक आरोपी ललित नेगी के खिलाफ लंबे समय से नशीले पदार्थ बेचने की शिकायत मिल रही थी। जिसके चलते उस पर नजर रखी जा रही थी। पुलिस टीम में पुलिस क्षेत्राधिकारी एसडी नौटियाल, कोतवाल हरिओम राज चौहान, एसएसआई रणवीर रमोला, कांस्टेबल सुंदर ङ्क्षसह, शैलेंद्र नौटियाल, अनुज कुमार, संजय, मनोज भट्ट एवं पूजा बडोनी शामिल थे।

आरोपी:

-ललित नेगी निवासी कोस्यात बिलकेदार
-भगवान भंडारी निवासी ग्राम ताल (पाबौ), पौड़ी, हाल निवास कमलेश्वर श्रीनगर
-नवीन रावत निवासी क्वीराली (कोट) पौड़ी, हाल निवास बिलकेदार श्रीनगर
- भरत बिष्ट निवासी सोना (पौड़ी)
- अंजली निवासी श्रीकोट गंगानाली (श्रीनगर)
... और पढ़ें

पौड़ी: दुष्कर्म के आरोपियों के परिजनों ने पीड़िता को पीटा, राजस्व पुलिस पर कार्रवाई न करने का आरोप

उत्तराखंड के पौड़ी में एक गांव में दुष्कर्म के आरोपियों के परिजनों ने पीड़िता को पीट दिया। घटना तब सामने आई जब पीड़िता किसी तरह खुद को बचाकर जिला अस्पताल पौड़ी पहुंची। यहां पीड़िता ने मीडिया को अपनी आपबीती सुनाई। पीड़िता ने बताया कि विगत 20 मार्च को गांव के ही दो युवकों ने उसके साथ दुष्कर्म किया, जिनमें एक आरोपी सेना में तैनात है। पीड़िता ने आरोप लगाया कि मामले की शिकायत राजस्व पुलिस में दर्ज कराई थी, लेकिन राजस्व पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। 

दुष्कर्म पीड़िता ने बताया कि 20 मार्च को वह गांव से बाजार जा रही थी। इस दौरान गांव के ही दो युवकों ने उसके साथ दुष्कर्म किया। साथ ही घटना की जानकारी किसी को भी बताने पर जान से मारने की धमकी भी दी। पीड़िता ने घटना की जानकारी परिजनों को दी।

इस पर पीड़िता के परिजनों ने राजस्व पुलिस में 21 मार्च को दोनों आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। पीड़िता ने बताया कि बुधवार को आरोपियों के परिजनों ने मुझे अपने घर बुलाया और मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाते हुए मेरे साथ मारपीट की। मारपीट में मेरे हाथ और पैरों पर चोटें आई हैं। पीड़िता ने आरोप लगाया कि शिकायत दर्ज कराने चार दिन बाद भी राजस्व पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया।

दूसरी ओर राजस्व उपनिरीक्षक गजेंद्र रतूड़ी ने बताया कि मामले में दो आरोपियों के खिलाफ एससीएसटी एक्ट, दुष्कर्म व जान से मारने की धमकी देने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोपी घटना के बाद से ही फरार हैं, जिनकी गिरफ्तारी के लिए संभावित ठिकानों पर दबिश भी दी गई है। वहीं एसडीएम सदर एसएस राणा ने बताया कि घटना की गंभीरता को देखते हुए मामला रेगुलर पुलिस को स्थानांतरित कर दिया गया है। हालांकि सीओ सदर पीएल टम्टा ने बताया कि मामले से जुड़ी आधिकारिक सूचना अभी नहीं मिल पाई है। 

जनप्रतिनिधि भी खामोश
तहसील पौड़ी के एक गांव में दुष्कर्म जैसी घटना को लेकर जनप्रतिनिधियों की खामोशी भी सवालों के घेरे में हैं। क्षेत्र में युवती से दुष्कर्म की घटना, उसके बाद आरोपियों के परिजनों की ओर से पीड़िता को पीटने जैसा गंभीर प्रकरण सामने है, लेकिन क्षेत्र के किसी भी जनप्रतिनिधि ने पीड़िता के पक्ष में आवाज नहीं उठाई है। जबकि पीड़िता के गांव से ही क्षेत्र के ब्लाक प्रमुख, पूर्व ब्लाक प्रमुख, पूर्व जिला पंचायत सदस्य, पूर्व दर्जाधारी राज्य मंत्री भी हैं।
... और पढ़ें

कोटद्वार : टाइल कारोबारी के घर हुई डकैती, बंदूक की नोक पर दिया घटना को अंजाम, तस्वीरों में देखें...

उत्तराखंड: पौड़ी में कॉलेज से लौट रही छात्रा से दुष्कर्म की कोशिश, विरोध करने पर पत्थर से किए वार

उत्तराखंड के पौड़ी जिले की चौबट्टाखाल तहसील क्षेत्र में कॉलेज से लौट रही एक छात्रा से दुष्कर्म की कोशिश की गई। छात्रा के विरोध करने पर आरोपी ने उसके सिर पर पत्थर से वार कर उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया।

छात्रा को बेस अस्पताल कोटद्वार भर्ती कराया गया है। छात्रा के पिता ने राजस्व पुलिस में अज्ञात के खिलाफ तहरीर दी। छात्रा अनुसूचित जाति की है। चौबट्टाखाल तहसील में विगत बुधवार को छात्रा (21) महाविद्यालय से प्रवेश प्रक्रिया पूरी कर घर लौट रही थी।

छात्रा के पिता ने तहरीर में बताया कि महाविद्यालय से लौटते हुए लटबो गांव के समीप बस स्टैंड पर एक अज्ञात युवक उसकी बेटी को जबरन खींचकर सड़क से नीचे झाड़ियों की ओर ले गया।
... और पढ़ें

एक्टर सलमान खान की हत्या की साजिश रचने का आरोपी उत्तराखंड से गिरफ्तार, फरीदाबाद पुलिस ने पकड़ा

बॉलीवुड स्टार सलमान खान की हत्या की साजिश रचने के वाले आरोपी राहुल उर्फ सांगा को फरीदाबाद (हरियाणा) पुलिस ने पौड़ी तहसील के पातल गांव से गिरफ्तार किया। आरोपी यहां अपने दोस्त के साथ आया था। हालांकि मामले में स्थानीय पुलिस व राजस्व विभाग को गिरफ्तारी की भनक तक नहीं लगी। अब राजस्व विभाग इस मामले में जानकारी जुटाए जाने की बात कह रहा है। उधर, मंगलवार को रिमांड अवधि पूरी होने के बाद फरीदाबाद पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे न्यायिक हिरासत में नीमका जेल भेज दिया गया।

राहुल उर्फ सांगा शातिर बदमाश है। राजस्थान में हिरण मारने के मामले को लेकर रंजिशन लॉरेंस बिश्नोई व संपत नेहरा के कहने पर उसने जनवरी 2020 में मुंबई जाकर सलमान खान की रेकी की थी। इस रेकी का इनपुट उसने राजस्थान की जेल में बंद अपने आका लॉरेंस बिश्नोई को दिया था। उसने राहुल से मुंबई में सलमान खान की जनवरी 2020 में रेकी कराई। उसके मुंबई से लौट कर आते ही लॉकडाउन लग गया। इस वजह वह वह अपने मकसद में कामयाब नहीं हो सके।

राहुल अपने किसी दोस्त के साथ पौड़ी जिले के पातल गांव आया था। उसके दोस्त को भी नहीं पता था राहुल हरियाणा का वांछित अपराधी है। एसएसपी पौड़ी पी. रेणुका देवी ने बताया कि सलमान खान की हत्या की साजिश के आरोपी की गिरफ्तारी 15 अगस्त को पातल गांव से हुई है, जो राजस्व क्षेत्र में है। इसकी स्थानीय पुलिस को कोई जानकारी दी गई। वहीं एसडीएम सदर श्याम सिंह राणा ने कहा कि मामले में जानकारी जुटाई जा रही है। गांव में जिस व्यक्ति के यहां राहुल रह रहा था। उससे जानकारी ली जाएगी।
... और पढ़ें

श्रीनगर: लाखों रुपये के गबन के आरोपी बैंक के पूर्व शाखा प्रबंधक ने किया आत्मसमर्पण

55 लाख रुपये के गबन के आरोपी पंजाब नेशनल बैंक श्रीनगर शाखा के पूर्व प्रबंधक ने कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया। जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।  कोतवाली श्रीनगर में इसी साल 29 जून को पीएनबी श्रीनगर के शाखा प्रबंधक यशकांत बडोला ने पूर्व शाखा प्रबंधक अनूप बिंदोला निवासी ग्राम नवासू, (खेडाखाल) जिला रुद्रप्रयाग के खिलाफ तहरीर दी थी।

अनूप पर 29 जून 2018 से 29 जून 2019 तक (शाखा प्रबंधक के पद पर रहते हुए) बैंक में 54 लाख 97 हजार 427 रुपये के गबन का आरोप लगा था। तहरीर के अनुसार, अनूप ने बैंक प्रबंधक पद का दुरुपयोग करते हुए खाते धारकों के साथ धोखाधड़ी की। आरोपी ने कूट रचना कर उनके एफडीआर (सावधि जमा रसीद) की हूबहू दूसरी प्रति बनाई और उन्हें बैंक में गिरवी रखकर लोन ले लिया।

बडोला के यहां कार्यभार ग्रहण करने के बाद इस गड़बड़ी का पता चला। उन्होंने इस मामले की शिकायत उच्चाधिकारियों को दी। विभागीय जांच के बाद बिंदोला को सस्पेंड कर दिया गया था। मामले की जांच एसएसआई विनय कुमार कर रहे हैं। गिरफ्तारी से पहले ही आरोपी अनूप ने बुुधवार को न्यायिक मजिस्ट्रेट श्रीनगर के न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया। एसएसआई विनय ने बताया कि आरोपी को कोर्ट के आदेश पर जेल भेज दिया गया है।
... और पढ़ें

Uttarakhand : नेपाली मजदूरों से लूट में एक राजस्व एसआई, दो पीआरडी स्वयंसेवक धरे

बासा स्टे होम खिर्सू में काम कर रहे नेपाली मजदूरों से लूटपाट राजस्व उप निरीक्षक और पीआरडी के दो स्वयंसेवकों ने की थी। लॉकडाउन का डर दिखाकर तीन नेपाली मजदूरों से लूट के दो मोबाइल फोन और 14 हजार रुपये पुलिस ने बरामद कर लिए हैं। 12 घंटे के भीतर मामले का खुलासा करने पर पुलिस टीम को ढाई हजार के इनाम की घोषणा की गई है।

एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने बताया कि आरोपियों की धरपकड़ के लिए दो टीम लगाई गई थीं। आरोपियों पर एक सप्ताह के अंदर गैगस्टर एक्ट भी लगाया जाएगा। उन्होंने बताया कि पुलिस को शुक्रवार शाम मौखिक रुप से जानकारी मिली कि बासा होम स्टे खिर्सू में काम कर रहे मजदूरों से कार में आए तीन लोगों ने खेड़ाखाल-श्रीनगर तिराहे पर मोबाइल फोन और नकदी लूट ली।

बताया गया कि इनमें से दो वर्दीधारी थे। इस पर पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू की। नेपाल निवासी रामबहादुर ने शनिवार को तीन लोगों के खिलाफ लूटपाट की रिपोर्ट दर्ज कराई।

पत्रकारों से वार्ता करते हुए एसएसपी कुंवर ने बताया कि पीड़ित ने जिस कार  संख्या का जिक्र किया था, वह राजस्व उप निरीक्षक (आरएसआई) गंगवाड़स्यूं सुनील रावत, निवासी पौड़ी के नाम पंजीकृत निकली। खिर्सू चेक पोस्ट पर तैनात पुलिस कर्मियों से जानकारी मिली कि शुक्रवार सुबह इस कार में सुनील अपने दो साथियों के साथ खेड़ाखाल की ओर गया था और शाम लगभग पांच बजे लौटा था।

सूचना पुख्ता होने पर पुलिस ने घटना में प्रयुक्त कार की तलाशी ली। कार के डैशबोर्ड से दो हजार रुपये मिले। इसके बाद आरएसआई रावत से सख्ती से पूछताछ की गई। आरोपी ने बताया कि इस वारदात में उसके साथ दो पीआरडी स्वयंसेवक रविंद्र कुमार, निवासी नवनु मल्ला और उमाकांत, निवासी तमलाक लोली भी शामिल थे। पुलिस ने रविंद्र के कब्जे से लूट के 10 हजार रुपये और एक मोबाइल फोन और उमाकांत के कब्जे से दो हजार रुपये और एक मोबाइल फोन बरामद किया। पत्रकार वार्ता में सीओ वंदना वर्मा भी मौजूद थीं।
... और पढ़ें

उत्तराखंड: पुलिस ने आलू के ट्रक से पकड़ा शराब का बड़ा जखीरा, तीन लोग गिरफ्तार

उत्तराखंड के पौड़ी में गुरुवार को थाना देवप्रयाग पुलिस ने शराब का बड़ा जखीरा पकड़ा। पुलिस ने रामकुंड चौराहे पर चेकिंग के दौरान 560 पेटी अवैध शराब बरामद की। चंडीगढ़ ब्रांड शराब की यह 560 पेटियां ट्रक में आलू की बोरियों के नीचे छुपाकर रखी गई थी, जो चमोली जिले को ले जाई जा रही थी।

बरामद शराब की कीमत करीब 40 लाख आंकी गई है। किसी को शक न हो, इसके लिए तस्करों ने ट्रक की नंबर प्लेट भी बदल दी थी। पुलिस ने मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर ट्रक को भी सीज कर लिया है।

 एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने मीडिया को बताया कि बृहस्पतिवार को देवप्रयाग थाना बाजार की पुलिस टीम रामकुंड तिराहे पर वाहनों की चेकिंग कर रही थी। तभी ऋषिकेश की ओर से आ रहे एक ट्रक को चेकिंग के लिए रोका गय। ट्रक की चेकिंग की गई तो आलू के बोरों के नीचे शराब छुपाकर रखी गई थी।

इसी दौरान केबिन में छिपाई गई ट्रक की असली नंबर प्लेट भी मिल गई। इसमें पंजाब का रजिस्ट्रेशन नंबर अंकित है। पुलिस ने चालक मुख्तियार सिंह निवासी कनोर लुधियाना, सुखवीर सिंह निवासी नूरपुर (पंजाब) और लोकेश थापा निवासी पोखड़ा (नेपाल) हाल निवासी रायपुर देहरादून को गिरफ्तार कर लिया।

एसएसपी ने बताया कि पंजाब के अंबाला से चंडीगढ़ ब्रांड की अवैध शराब देवप्रयाग से पौड़ी होते हुए चमोली जिले में सप्लाई के लिए लाई जा रही थी। मामले में आबकारी अधिनियम व धोखाधड़ी की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। एसएसपी ने पुलिस टीम को 2500 रुपये के नकद इनाम से पुरस्कृत किया है।
... और पढ़ें
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00