बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

साक्ष्य के लिए जेल अधीक्षक कोर्ट में तलब

mau, bearu Updated Sat, 05 Mar 2016 11:54 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
ठेकेदार अजय प्रकाश सिंह की हत्या के मामले में शनिवार को अपर जिला जज कोर्ट नंबर तीन राजीव गोयल के कोर्ट में सुनवाई हुई। इस दौरान जेल अधीक्षक गोरखपुर शिवकुमार शर्मा रजिस्ट्रर के साथ कोर्ट में उपस्थित हुए। जिनका बचाव पक्ष के अधिवक्ता दारोगा सिंह व लियाकत अली तथा अन्य ने कोर्ट में बयान कराया। इसके बाद जेल अधीक्षक से  सहायक शासकीय अधिवक्ता दयाशंकर राय ने जिरह की।
विज्ञापन



 जिरह पूरी होने के बाद बचाव पक्ष से जेल अधीक्षक आनंद कुमार सिंह को तथा अभियोजन की ओर से जेल अधीक्षक मऊ को बंदी दाखिल रजिस्ट्रर-एक नवंबर 2009 के साथ तलब करने के लिए अलग-अलग प्रार्थना पत्र दिया गया। जिस पर दोनों पक्षों के तर्कों को सुनने के बाद एडीजे ने बचाव पक्ष की ओर से जेल अधीक्षक को तलब करने का प्रार्थना खारिज कर दिया। अभियोजन की ओर से जेल अधीक्षक मऊ को साक्ष्य के लिए तलब करने का प्रार्थना पत्र स्वीकार कर लिया। तथा साक्ष्य के लिए 16 मार्च की तिथि तय की।



मामला शहर कोतवाली क्षेत्र  का है। ठेकेदार अजय प्रकाश सिंह को लक्ष्य कर29 अगस्त 2009 को गाजीपुर तिराहे के पास हमलावरों ने अंधाधुंध गोलियां चलाई थीं। अजय की मौके पर ही मौत हो गई थी जबकि गोलियां लगने से राजेश राय व चालक  शब्बीर घायल हो गए। बाद में राजेश राय की भी इलाज के दौरान मौत हो गई। 


घटना के बावत  हरेंद्र सिंह की तहरीर पर अज्ञात हत्यारोपियों के विरुद्घ रिपोर्ट दर्ज  हुई। मामले की विवेचना के बाद पुलिस ने सदर विधायक मुख्तार अंसारी, हनुमान  पांडेय, संतोष सिंह, उमेश सिंह, अनुज कन्नौजिया, राजू कन्नौजिया सहित 11  लोगों के विरुद्व आरोप पत्र कोर्ट में प्रेषित किया था। 
इस मामले में पत्रावली सफाई साक्ष्य के लिए कोर्ट ने शनिवार की तिथि नियत की थी। 


विधायक मुख्तार अंसारी को शनिवार को अदालत में हाजिर होना था। उनकी पेशी के मद्देनजर कचहरी परिसर में सुरक्षा के तगड़े बंदोबस्त किए गए थे। बड़ी संख्या में पुलिस बलों की तैनाती की गई थी। अपर पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह ने कचहरी जाकर खुद सुरक्षा बंदोबस्त का जायजा लिया था। हालांकि जेल में बंद विधायक मुख्तार अंसारी को कोर्ट में नहीं पेश किया गया। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X