विज्ञापन
विज्ञापन

मीट मछली खाते हैं, जानें यह कितना खतरनाक है

ज्योतिर्मय/अमर उजाला Updated Mon, 03 Nov 2014 11:13 AM IST
how harmful meat and chicken for health
ख़बर सुनें
मानें या मानें मांसाहार नैतिक, आध्यात्मिक और मानवीय दृष्टि से तो नुकसान देह है ही, सेहत की दृष्टि से भी हानिकारक है। केलिफोर्निया के हृदयरोग विशेषज्ञ डा. डीन ओरनिश के अनुसार केवल शाकाहार अपना कर हृदय और कैंसर रोग को आसानी से ठीक किया जा सकता है।
विज्ञापन
पढ़ें,शनि आ रहे वृश्चिक राशि में, आपकी राशि पर क्या असर डालेंगे?

औषध उपचार तो करने पडेंगे पर उनका असर सत्तर प्रतिशत तेजी से होगा। वह शाकाहार अपनाने के लिए कहते हैं। याद रहे डा.डीन पहले ऐसे चिकित्सा विज्ञानी हैं जो रोगियों को बिना चीर फाड़ किए ठीक करने में यकीन करते हैं। उन्होंने कई मरीजों की खानपान की आदतें बदल कर उन्हें ठीक किया है।

पढ़ें,साप्ताहिक राशिफलः 3 नवंबर से 9 नवंबर तक का हाल जानिए

ब्रिटेन में हुए एक ताजा अध्ययन के मुताबिक शाकाहारी लोगों में कैंसर और हृदय रोगों का जोखिम मांसाहारी लोगों की तुलना में 40 प्रतिशत और असमय मृत्यु का खतरा 20 प्रतिशत कम होता है। इस अध्ययन के मुताबिक मांसाहार के पक्ष में पर्यावरण, प्रकृति संतुलन और आसानी से पौष्टिक भोजन मिल जाने की जो दलीलें दी जाती हैं ,वे सब गलत साबित हुई हैं।
विज्ञापन

Recommended

OPPO के Big Diwali Big Offers से होगी आपकी दिवाली खूबसूरत और रौशन
Oppo Reno2

OPPO के Big Diwali Big Offers से होगी आपकी दिवाली खूबसूरत और रौशन

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Festivals

Karwa Chauth 2019: जानिए देश के 21 बड़े शहरों में आज कब दिखेगा करवा चौथ का चांद

जानिए इस करवा चौथ आपके अपने शहर में कितने बजे दिखेगा चांद

17 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

जिया खान के जिक्र पर यूं भर आया सूरज पंचोली का गला

सूरज पंचोली की फिल्म सैटेलाइट शंकर का ट्रेलर लॉन्च हो गया है। इस दौरान मीडिया से बातचीत के दौरान जिया खान के जिक्र पर सूरज पंचोली का गला भर आया।

17 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree