हिमाचल की बेटी ने जीता मिसेज इंडिया टाइमलेस का खिताब

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, बिलासपुर Updated Fri, 18 May 2018 11:32 AM IST
shalu thakur of himachal won Mrs india timeless title
ख़बर सुनें
हिमाचल की बेटी ने मिसेज इंडिया टूरिज्म वर्ल्ड वाइड और मिसेज इंडिया टाइमलेस का खिताब जीता है। गोवा में हुए मिसेज इंडिया आईएम पावरफुल प्रतियोगिता के फाइनल राउंड में बिलासपुर की शालू ठाकुर ने दमखम दिखाया।
प्रतियोगिता 13 से 15 मई तक हुई। इसमें देश के विभिन्न प्रदेशों से आईं 40 प्रतिभागियों के बीच पांच अलग-अलग विधाओं में कड़ी टक्कर हुई। मिसेज एशिया पैसेफिक सरोज खान, यूनिवर्स बेस्ट मॉडल अब्दुल वाहिद, प्रसिद्ध

समाजसेवी हेमा मालिनी, मिसेज यूनिवर्सल एंबेसडर जगजीत सिंह और मिसेज इंडिया राष्ट्रीय अध्यक्ष की पांच सदस्यीय निर्णायक टीम की पारखी नजरों से निकलते हुए शालू ठाकुर ने दो खिताब जीते। 

अक्तूबर में मनाली में हुई राज्य स्तरीय ब्यूटी कांटेस्ट में भी शालू ठाकुर ने मिसेज क्लासिक का खिताब जीता था और उन्हें राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए सीधी एंट्री मिली थी। शालू की इस उपलब्धि से हिमाचल का नाम मिसेज ब्यूटी कांटेस्ट में राष्ट्रीय स्तर पर चमका है।

प्रतियोगिता के दौरान प्रदेश, खासतौर पर बिलासपुर वासियों ने खुलकर शालू का साथ दिया। इसकी बदौलत सोशल मीडिया वोटिंग में भी शालू ने काफी बढ़त बनाई। इसके फलस्वरूप इन खिताबों को पाने में उन्हें काफी मदद मिली। 

शालू ठाकुर ने अपनी जीत का श्रेय हिमाचल हेड इंदिरा शर्मा को दिया है। इनकी प्रेरणा से वे प्रतियोगिता में बेहतर कर सकीं। पति वरिष्ठ अधिवक्ता रामशरण ठाकुर, बेटी असिस्टेंट प्रोफेसर दीपशिखा, बेटे अधिवक्ता क्षितिज ठाकुर और दामाद वैज्ञानिक विनीत सहित सभी को इस जीत का श्रेय दिया है।

Spotlight

Most Read

Shimla

भारतीय नेवी में लेफ्टिनेंट बनी बेटी, इलाके में खुशी का माहौल

अनुराधा बलौरिया भारतीय नेवी में लेफ्टिनेंट बन गई हैं। उनकी इस कामयाबी से क्षेत्र में खुशी की लहर है।

20 मई 2018

Related Videos

JDS, कांग्रेस के बीच मंत्रीपद का बंटवारा समेत 05 बड़ी खबरें

अमर उजाला टीवी पर देश-दुनिया की राजनीति, खेल, क्राइम, सिनेमा, फैशन और धर्म से जुड़ी खबरें। कर्नाटक में फ्लोर टेस्ट से पहले कांग्रेस को झटका, सुप्रीम कोर्ट ने केजी बोपैया को ही बनाए रखा प्रोटेम स्पीकर, कांग्रेस ने केजी बोपैया को हटाने की मांग की थी।

20 मई 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen