प्रदूषण संकट को हल करने कई संस्थाएं एकजुट, Massive Earth Summit से होगी शुरुआत

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Tue, 05 Jun 2018 07:58 PM IST
New Delhi to host Massive Earth Summit on June 6 to solve India’s Pollution Crisis
1 of 6
विज्ञापन
भारत के प्रदूषण संकट को हल करने के लिए 6 जून को शिखर सम्मेलन का एक आयोजन होगा। इस 'मैसिव अर्थ समिट 2018' का आयोजन नोएडा की एक स्टार्टअप कंपनी गो मैसिव कर रही है। भारत में सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग के समान "प्रदूषण न्यूनीकरण उद्योग" बनाने के लिए नए विचारों को तलाशा जा रहा है। 
New Delhi to host Massive Earth Summit on June 6 to solve India’s Pollution Crisis
2 of 6
विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा दुनिया के 14 भारतीय शहरों को सबसे ज्यादा प्रदूषित माना गया है। ऐसे में इस तरह के कार्यक्रम उन तमाम कोशिशों को आकार दे सकते हैं जिनसे प्रदूषण संकट को हल करने में मदद मिले। गो मैसिव द्वारा ये कार्यक्रम दिल्ली के ताज राजनयिक एनक्लेव में होगा। यहा आप प्रदूषण संकट पर बोलने वाले प्रतिष्ठित दिग्गजों को देखेंगे। 
विज्ञापन
विज्ञापन
New Delhi to host Massive Earth Summit on June 6 to solve India’s Pollution Crisis
3 of 6
इस कार्यक्रम में भारत सरकार के प्रिंसिपल वैज्ञानिक सलाहकार प्रोफेसर के. विजय राघवन मौजूद होंगे। साथ ही डॉ अनिल काकोडकर, पूर्व अध्यक्ष परमाणु ऊर्जा आयोग, सत्य एस त्रिपाठी, यूएनईपी के वरिष्ठ सलाहकार और कई बड़े दिग्गज भी कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। आपका लोकप्रिय अखबार अमर उजाला इस कार्यक्रम का मीडिया पार्टनर भी है। 
New Delhi to host Massive Earth Summit on June 6 to solve India’s Pollution Crisis
4 of 6
बता दें कि सम्मेलन विद्युत वाहनों, वायु, जैव ईंधन, गतिशीलता, जंगलों और पानी में नवाचारों को प्रदर्शित करेगा। जिसमें 300 से अधिक स्टार्टअप, नीति निर्माताओं, निगमों और निवेशकों की भागीदारी होगी। इस पहल की तैयारी दिल्ली में 13 हफ्तों से चल रही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के रिपोर्ट के मुताबिक कानपुर विश्व के प्रदूषित शहरों में सबसे ऊपर है, इसके बाद फरीदाबाद, वाराणसी, गया, पटना और नई दिल्ली जैसे शहर आते हैं। 
विज्ञापन
विज्ञापन
Amar Ujala
5 of 6
प्रदूषण हमारे जीवनकाल की सबसे बड़ी चुनौती है, ऐसे में प्रदूषण और जलवायु परिवर्तन पर $15 ट्रिलियन निवेश के अवसर मजबूत हो रहे हैं। इस कार्यक्रम में अमर उजाला मीडिया पार्टनर तो है ही साथ-साथ यूएनईपी, पेटीएम, एक्सिस बैंक, इंडियन ऑयल जैसी कंपनियों का भी सहयोग है। 
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00