लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

पाकिस्तान नहीं, बल्कि इन देशों की करेंसी है विश्व में सबसे ज्यादा कमजोर

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: ‌डिंपल अलवधी Updated Mon, 13 Jul 2020 03:59 PM IST
दुनिया की सबसे सस्ती मुद्राएं
1 of 6
विज्ञापन
विश्व में कई ऐसे देश हैं, जिनकी मुद्रा अमेरिकी डॉलर के मुकाबले काफी कमजोर है। अभी तक आपको पाकिस्तान के बारे में पता होगा, जिसकी मुद्रा डॉलर के मजबूत होने से हाशिए पर है। पाकिस्तानी रुपया फिलहाल 166 रुपये के स्तर के करीब है। यहां रोजमर्रा की वस्तुएं खरीदने के लिए भी लोगों को काफी सोचना पड़ता है। पाकिस्तान के अलावा कई देशों के नागरिक भी इस तरह की परेशानी का सामना कर रहे हैं। इसके लिए कई सारे कारण हैं, जिनकी वजह से इन देशों में अमेरिकी डॉलर काफी मजबूत हुआ है। 
सबसे सस्ती मुद्राएं
2 of 6
यह देश टॉप चार पर 
विश्व के कई देश हैं जिनकी मुद्रा दुनिया में काफी सस्ती है। जिन देशों की मुद्रा सबसे खराब स्तर पर है उनमें ईरान, वियतनाम, इंडोनेशिया और गिनी शामिल हैं। इन देशों के स्थानीय लोगों को एक अमेरिकी डॉलर खरीदने के लिए भी हजारों की संख्या में अपने देश की मुद्रा खर्च करनी होगी। 
विज्ञापन
ईरान की मुद्रा
3 of 6
ईरान
यह फिलहाल विश्व की सबसे कमजोर मुद्रा है। एक डॉलर खरीदने के लिए लोगों को 42,105 ईरानी रियाल खर्च करने पड़ रहे हैं। यह एक मुस्लिम राष्ट्र है जो अपनी संस्कृति के लिए दुनियाभर में जाना जाता है। कोरोना संकट के भीषण दौर से उबर रहे ईरान की करेंसी का नाम बदला जाएगा। इसके तहत 10 हजार रियाल को अब एक तोमन गिना जाएगा। पहले 10 रियाल के बराबर एक तोमन होता था। विश्व का प्रमुख कच्चा तेल उत्पादक देश मुश्किलों के दौर से गुजर रहा है। इससे पहले भी यह देश ईरान-इराक युद्ध, इस्राइल पर हमला और परमाणु हथियारों पर धमकी के चलते प्रभावित हुआ है।

यह भी पढ़ें: पेट्रोल पंप पर फ्री में न मिलें ये 9 सुविधाएं तो ऐसे करें शिकायत, लगेगा भारी जुर्माना
वियतनाम की मुद्रा
4 of 6
वियतनाम
पाकिस्तान की तरह इस दक्षिण एशियाई देश ने भी अपनी मुद्रा का अवमूल्यन किया है। इस वजह से एक अमेरिकी डॉलर खरीदने के लिए स्थानीय लोगों को 23,192 वियतनामी डोंग खर्च करने पड़ रहे हैं। वैश्विक मंदी की मार का असर झेलने की वजह से यह देश भी मुश्किल आर्थिक हालातों का सामना कर रहा है। यह देश पूर्वी एशिया में बसा हुआ है, इसके पड़ोसी देश थाईलैंड, कम्बोडिया, लाओस और चीन हैं। वियतनाम की आर्थिक स्थिति ज्यादा अच्छी नहीं है। करेंसी का नाम वियतनामी डोंग है।

यह भी पढ़ें: होम लोन को कम ब्याज वाले बैंक में स्विच करने का सही समय, समझें फायदे का गणित
विज्ञापन
विज्ञापन
इंडोनेशिया की मुद्रा
5 of 6
इंडोनेशिया
पर्यटन के लिए मश्हूर दक्षिणपूर्वी एशियाई देश की मुद्रा भी कमजोरी के मामले में तीसरे पायदान पर है। हालांकि यह देश आर्थिक तौर पर काफी मजबूत है, फिर भी मुद्रा में कमजोरी बनी हुई है। एक डॉलर खरीदने के लिए लोगों को 14,422 वियतनामी रुपिया खर्च करना पड़ता है। मुद्रा कमजोर होने से यह टूरिज्म का अच्छा विकल्प हो गया है, क्योंकि यहां की विनिमय दर यानी करेंसी एक्सचेंज रेट बहुत कम है। यह सबसे अधिक मुस्लिम आबादी वाला देश है। सबसे अधिक जनसंख्या वाले देशों में इंडोनेशिया चौथे स्थान पर आता है।
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और Budget 2022 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00