अब मप्र में लड़कियों के जींस पहनने पर रोक

भोपाल/इंटरनेट डेस्क Updated Fri, 28 Dec 2012 10:08 AM IST
jeans banned in mp for girls
मध्य प्रदेश में युवतियों के पहनावे पर नई बहस शुरू हो गई है। राज्य के दमोह जिले में जैन समाज ने युवतियों के जींस-टॉप पहनने पर पाबंदी लगा दी है।
 
राज्य के नगरीय प्रशासन मंत्री बाबू लाल गौर युवतियों के पहनावे पर सवाल खड़ा कर चुके हैं। अब दिल्ली में चलती बस में 23 वर्षीय युवती के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म की घटना के बाद जैन समाज के कदम से बहस को नया बल मिला है। जैन समाज ने सरकार से जींस-टॉप और पारदर्शी परिधान पर रोक लगाने की मांग की है। गौर ने छेड़छाड़ के लिए पाश्चात्य संस्कृति के पहनावे को जिम्मेदार माना था।
 
दमोह के पथरिया में चल रहे जैन समाज के सिद्धचक्र महामंडल में मृदुमति माता व ब्रह्मचारी प्रदीप भैया ने युवतियों के जींस व टॉप पहनने को उचित नहीं माना। सोमवार को प्रदीप भैया के आह्वान पर सभी ने युवतियों के जींस व टॉप के पहनने पर रोक लगाने का संकल्प लिया। जैन मुनियों के आह्वान पर युवतियों से घर से जींस-टॉप मंगाकर उनकी होली जलाई गई।
 
इस मौके पर राज्य सरकार के कृषि मंत्री रामकृष्ण कुसमरिया से राज्य विधानसभा में युवतियों के मुंह पर कपड़ा बांधने व जींस-टॉप व पारदर्शी परिधान पर रोक प्रस्ताव लाने का आग्रह किया।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

सीएम शिवराज ने की ये बड़ी घोषणा, 2 लाख 84 हजार टीचर्स को होगा फायदा

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अस्थायी टीचर्स के पक्ष में बड़ी घोषणा की है। शिवराज सिंह चौहान ने अस्थायी टीचर्स के अलग-अलग संवर्गों की शिक्षा विभाग में विलय करने की घोषणा की।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls