बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

उत्कृष्ट विवेचना के लिए एसीपी श्वेता श्रीवास्तव को मिलेगा गृहमंत्री से पदक

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Published by: पंकज श्रीवास्‍तव Updated Sat, 14 Aug 2021 03:04 PM IST

सार

इस पदक के लिए देश के 152 पुलिसकर्मियों को चयन किया गया है। देश के सबसे बड़े प्रदेश से इस पदक के लिए सिर्फ दस पुलिसकर्मियों को चुना गया है। इस बार पदक पाने वालों में 28 महिला पुलिस अधिकारी व कर्मचारी शामिल हैं।
विज्ञापन
एसीपी श्वेता श्रीवास्तव।
एसीपी श्वेता श्रीवास्तव। - फोटो : amar ujala
ख़बर सुनें

विस्तार

स्वतंत्रा दिवस के अवसर पर केंद्रीय गृह मंत्री विवेचना उत्कृष्टता पदक से गोमतीनगर की एसीपी श्वेता श्रीवास्तव को सम्मानित किया जाएगा। इस पदक के लिए देश के 152 पुलिसकर्मियों को चयन किया गया है। जो राज्य पुलिस व अन्य जांच एजेंसियां में तैनात हैं। देश के सबसे बड़े प्रदेश से इस पदक के लिए सिर्फ दस पुलिसकर्मियों को चुना गया है। इस बार पदक पाने वालों में 28 महिला पुलिस अधिकारी व कर्मचारी शामिल हैं। श्वेता श्रीवास्तव को यह पदक दहेज प्रताड़ना व पशु तस्करी के मामले में दो दर्जन से अधिक आरोपियों को सजा दिलाने के लिए दिया जा रहा है।
विज्ञापन


मूलरूप से गोरखपुर की रहने वाली श्वेता श्रीवास्तव 2007 बैच की पीपीएस अधिकारी हैं। वर्तमान में वह लखनऊ में एसीपी गोमतीनगर के पद पर तैनात है। श्वेता श्रीवास्तव ने मीरजापुर, रायबरेली व बाराबंकी में बतौर सीओ सिटी तैनात रहते दो दर्जन से अधिक दहेज प्रताड़ना, पशु तस्करी व ठगी  के मामलों की विवेचना की। इन मामलों में आरोपियों को जेल भेजा। विवेचना में इतने साक्ष्य प्रस्तुत किये गये कि जालसाजी व पशुतस्करी के मामलों में आरोपियों को सुप्रीम कोर्ट से भी जमानत नहीं मिली। मीरजापुर में सीओ एंटी नक्सल के रुप ममें कई नक्सलवादियों को भी जेल भेजा। साथ ही रास्ते पर लाने के लिए घर वापसी का अभियान भी शुरू किया था। जिसमें कई लोगों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ा।


मिल चुका डीजीपी प्रशंसा चिन्ह
एसीपी गोमतीनगर श्वेता श्रीवास्तव को 2020 में दर्जन भर दहेज, जालसाजी, पशु तस्करी ओर हत्या के मामलों की विवेचना कर रही थी। इन विवेचना में उन्होंने चार्जशीट कोर्ट में दाखिल की। आरोपियों के खिलाफ इलेक्ट्रिानिक, वैधानिक व मौके पर मिले साक्ष्यों व गवाहों के बयान की कड़ियों को सही से पिरोते हुए सजा दिलाई। श्वेता के विवेचना में आरोपियों के बचने के लिए कोई भी रास्ता नहीं दिखा। श्वेता के मुताबिक उनको पिछले साल डीजीपी प्रशंसा चिन्ह भी मिल चुका है।

प्रदेश के इन लोगों को मिलेगा पदक
गृहमंत्री उत्कृष्ट विवेचना पदक के लिए प्रदेश के नीता रानी, मुकेश कुमार सिंह, अखिलेश कुमार मिश्रा, घनश्याम शुक्ला, अशोक कुमार, संजय नाथ तिवारी, श्वेता श्रीवास्तव, अरूण कुमार पाठक, अनिल कुमार और रामप्रकाश यादव का नाम शामिल है।

2018 में शुरू हुआ पदक वितरण
उत्कृष्ट विवेचना के लिए गृह मंत्री के पदक की स्थापना 2018 में की गई थी। इसमें अपराधिक मामलों की जांच में उच्च प्रोफेशनल मानकों को ध्यान में रखकर अपराधी को सजा दिलाने में अहम भूमिका निभाने वाले विवेचना अधिकारी को सम्मानित करना है। इस साल यह पदक सीबीआई के 15, मध्य प्रदेश के 11, महाराष्ट्र के 11, उत्तर प्रदेश के 10, केरल के 09, राजस्थान के 9, तामिलनाडु के 8 , बिहार के 7, गुजरात के 6, कर्नाटक के 6, दिल्ली के 6 पुलिस कर्मियों व अधिकारियों को दिया जाएगा। वहीं अन्य राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के पुलिस कर्मियों को पदक दिया जाना है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X