आपका शहर Close

कई रोगों के उपचार में लाभदायक है तुलसी

नई दिल्ली/इंटरनेट डेस्क

Updated Mon, 22 Oct 2012 01:55 PM IST
tulsi can cure several diseases
घर के भीतर लगा तुलसी का पौधा न सिर्फ हमारी धार्मिक आस्था का प्रतीक है बल्कि हमारी संस्कृति का भी जरूरी हिस्सा है। तुलसी का महत्व न सिर्फ धार्मिक दृष्टि से है बल्कि सेहत की दृष्टि से भी इसकी खासी उपयोगिता है। तुलसी में कई चिकित्सकीय विशेषताएं हैं जो इसे हमारी सेहत के लिए वरदान साबित हो चुकी हैं। तुलसी के ये विशेष गुण इस प्रकार हैं-
सर्दी-बुखार में लाभदायक
तुलसी के पत्तों का उपयोग कई प्रकार के बुखार के उपचार में भी किया जाता है। आयुर्वेद में तेज बुखार को कम करने के लिए तुलसी के रस को पानी में मिलाकर रोगी को दिया जाता है जिससे उसके शरीर का ताप कम हो सके। वहीं सर्दी-जुकाम में भी तुलसी का काढ़ा काफी फायदेमंद माना जाता है। कई आयुर्वेदिक कफ सिरप में तुलसी का प्रयोग किया जाता है। बहुत अधिक कफ हो जाने पर भी तुलसी के पत्तों को चबाने से राहत मिलती है।

गले के लिए फायदेमंद
गला खराब होने पर तुलसी का सेवन बहुत फायदेमंद है। पानी में तुलसी के पत्तों को उबालकर बनाए गए काढ़े के सेवन से गले को बहुत आराम मिलता है। गला खराब होने पर पानी में तुलसी पत्ता डालकर गुनगुना कर लें और कई बार गार्गल करें, इससे भी गले को आराम मिलता है।

श्वास संबंधी रोगों में लाभ
तुलसी का उपयोग श्वास संबंधी रोगों के उपचार में भी किया जाता है। ब्रोंकाइटिस, एस्थिमा आदि के रोगियों के लिए तुलसी का सेवन बहुत फायदेमंद है। तुलसी, शहद और अदरक का मिश्रण का नियमित सेवन बहुत फायदेमंद है। इसके अलावा, तुलसी के पत्तों के साथ लॉन्ग व नमक का सेवन भी लाभदायक है।

बच्चों के लिए लाभदायक
बच्चों को कफ, सर्दी, बुखार, डायरिया और उल्टियों से तुरंत आराम के ल‌िए तुलसी का सेवन कराया जाता है। इसका कोई साइड एफेक्ट नहीं है इसलिए बच्चों के लिए यह सबसे सुरक्षित हर्ब है।  आयुवेर्दिक चिकित्सक मुंह के छालों से परेशान व्यक्ति को तुलसी के पत्ते चबाने की सलाह देते हैं। इसके सेवन से मुंह का संक्रमण खत्म तो हो ही जाता है, साथ ही यह बेहतरीन माउथ फ्रेशनर भी है।  

और भी हैं फायदे
इनके अलावा तुलसी का उपयोह त्वचा रोग, दांतों के दर्द, सिरदर्द, आंखों के रोग आदि समस्याओं के उपचार में भी लाभदायक है। आयुर्वेदिक चिकित्सा में तुलसी का उपयोग किडनी के स्टोन के उपचार में भी किया जाता है। चिकित्सकीय परामर्श पर तुलसी के पक्कों और शहद के जूस को रोगी को पिलाते हैं जिससे उन्हें काफी आराम मिलता है। तुलसी के फायदे बहुतेरे हैं लेकिन हमारी सलाह है कि आप अपनी समस्याओं के लिए इसका परामर्श चिकित्सकीय परामर्श से ही करें।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Lifestyle Tips in Hindi related to health tips, facts, ideas, tasty recipes in Hindi & healthy life style etc. Stay updated with us for all breaking news from Lifestyle and more Hindi News.

Comments

स्पॉटलाइट

सलमान ने एक और भाषा में किया 'स्वैग से स्वागत', मजेदार है यह नया वर्जन, देखें वीडियो

  • गुरुवार, 14 दिसंबर 2017
  • +

PHOTOS: शादी पर खर्चे थे 100 करोड़ सोचिए रिसेप्‍शन कैसा होगा, पूरा कार्ड देखकर लग जाएगा अंदाजा

  • गुरुवार, 14 दिसंबर 2017
  • +

अनुष्‍का की शादी में मेहमानों पर 'विराट' खर्च, दिया कीमती गिफ्ट, वेडिंग प्लानर ने खोले कई और राज

  • गुरुवार, 14 दिसंबर 2017
  • +

Bigg Boss 11: बिकिनी पहन प्रियांक ने की ऐसी हरकत, भड़के विकास ने नेशनल टीवी पर किया बेइज्जत

  • गुरुवार, 14 दिसंबर 2017
  • +

विदेश जाकर टूट गया था 'आवारा' राजकपूर का दिल, करने लगे थे भारत लौटने की जिद

  • गुरुवार, 14 दिसंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!