राजस्थान के इन जिलों के अस्पतालों में नवजात को नहीं पिला सकेंगे डिब्बाबंद दूध

अमर उजाला टीम​ डिजिटल/जयपुर Updated Wed, 03 May 2017 04:49 PM IST
canned-dairy milk ban in 11 district hospital
दूध
देश में पहली बार राजस्थान के 11 जिलों में नवजात को अस्पतालों में डिब्बाबंद और डेयरी का दूध पिलाने पर रोक लगाई गई है। इन अस्पतालों में नवजात को केवल मां का दूध ही पिलाया जाएगा।

नवजात के लिए मां का दूध अमृत के समान माना गया है। मां का दूध बच्चों को कई तरह की बीमारियों से रक्षा करता है। चिकित्सा विभाग ने उदयपुर, अलवर, चित्तौड़गढ़, बारां, टोंक, ब्यावर, भरतपुर, बांसवाड़ा, बूंदी, चूरू और भीलवाड़ा में स्थित अस्पतालों में नवजातों को डेयरी और डिब्बाबंद दूध पिलाने पर रोक लगाई है। इन जिलों के अस्पतालों में भर्ती नवजात को मां का दूध ही पिलाना पड़ेगा। 

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख सचिव वीनू गुप्ता ने इस संबंध में वीसी के जरीये संबंधित अधिकारियों को आदेश दिए है। इन सभी जिलों के अस्पतालों में मदर मिल्क बैंक स्थापित किए गए हैं। यदि किसी मां के बच्चे का पर्याप्त दूध नहीं मिल पा रहा है तो उन्हें इन मिल्क बैंकों के जरिये दूध उपलब्ध कराया जाएगा। साथ ही यह भी आदेश दिया गया है कि कोई भी डॉक्टर किसी प्रसूता को बच्चे के लिए बाहर का दूध पिलाने के लिए बाध्य नहीं करेगा और ना ही कोई परिजन नवजात को बाहर का दूध लाकर पिला सकेगा। इस पर अस्पताल प्रशासन की खास नजर रहेगी।

Spotlight

Most Read

Hapur

अब जिले में नहीं कटेंगे बूढ़े हो चुके फलदार वृक्ष

अब जिले में नहीं कटेंगे बूढ़े हो चुके फलदार वृक्ष

22 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: मुरादाबाद ‘मल कांड’ पार्ट टू... जयपुर से

आपको याद होगी मुरादाबाद की वो तस्वीर जब खुले में शौच कर रहे लोगों पर स्वच्छता अभियान के तहत लोगों को जागरुक करने के लिए तैनात वॉलिंटियर का कहर टूटा।

20 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper