दिल्ली मेें किसान मुक्ति संसद ने भरी हुंकार, देश भर के करीब 180 किसान संगठन हुए शामिल

अमर उजाला ब्यूरो/नई दिल्ली Updated Mon, 20 Nov 2017 09:55 PM IST
nearly 180 farmers organizations across the country are included in Kisan Mukti Parliament
farmers
संसद का शीत कालीन सत्र शुरू होने से पहले देश भर के किसानों ने सोमवार को संसद मार्ग पर किसान मुक्ति संसद लगाकर अपने हक के लिए हुंकार भरी। अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के बैनर तले आयोजित संसद की शुरुआत आत्महत्या करने वाले किसान परिवार की 545 महिलाओं से हुई।

पढ़ें: शीत सत्र: सोनिया बोलीं- संसद को नुकसान पहुंचा रही है सरकार, जेटली ने किया पलटवार  

करीब 180 किसान संगठनों की किसान मुक्ति संसद में दो बिल पास किए गए। इनमें केंद्र सरकार से मांग की कि स्वामीनाथन आयोग की सिफारिश के अनुसार लाभकारी कीमतें उत्पादन लागत से  50 फीसदी ज्यादा हों और सभी तरह के कृषि ऋण एक बार माफ किए जाएं।  

मंगलवार को किसान मुक्ति संसद फिर बैठेगी। इसमें बिल को लागू करने से जुड़ी एक्शन प्लान पर चर्चा होगी। हालांकि, किसानों ने दो दिवसीय संसद का एलान किया है, लेकिन सरकार से सकारात्मक जवाब न मिलने पर इसे अनिश्चितकालीन किया जा सकता है। 

समाजसेवी मेधा पाटकर की अध्यक्षता में आयोजित किसान मुक्ति संसद की शुरुआत में सिर्फ महिलाओं ने अपनी बात रखी। इसमें महाराष्ट्र की युवा किसान पूजा मोरे ने कहा, यह सरकार बदलने नहीं व्यवस्था बदलने की लड़ाई है। उन्होंने बताया कि उनकी पंचायत में करीब 150 विधवा महिलाएं हैं, जिनके पति किसान थे और जान दे चुके हैं।

पढ़ें: संसद सत्र का पता नहीं, धरने-प्रदर्शन का दौर शुरू 

वहीं, कविता कुरूघंटी ने महिला किसानों की समस्याओं पर चर्चा करते हुए किसानों की कर्जमाफी व लागत के डेढ़ गुने दाम पर समर्थन मूल्य तय करने के लिए संसद से बिल पारित करने की जरूरत पर जोर दिया।  मेधा पाटकर ने कहा कि महिला संसद के माध्यम से किसान मुक्ति संसद के सामने किसानों, खेतिहर मजदूरों, आदिवासियों, भूमिहीनों, बंटाईदारों, मछुआरों के जीवन में आमूल-चूल परिवर्तन के लिए बिल पारित किया जा रहा है। 

उन्होंने विकास के मौजूदा मॉडल पर सवाल उठाते हुए कहा कि वह आज के विकास से होने वाले विनाश के खिलाफ है। महिला संसद पूरे देश का विकास चाहती है।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

India News

जब धोनी का आधार डेटा सेफ नहीं तो सरकार बताए क्या कदम उठा रही है: SC

आधार की संवैधानिक वैधता को लेकर जारी बहस में याचिकाकर्ता ने कहा कि इसके डाटा का गलत इस्तेमाल हो सकता है।

19 जनवरी 2018

Related Videos

400 लीटर रंगों ने बदली मुंबई के इस स्लम एरिया की तस्वीर

मुंबई के घाटकोपर स्थित असल्फा स्लम की तस्वीर बदल गई है। इसे देखकर अंदाजा लगाना मुश्किल है कि ये स्लम है। यहां की गलियों और झुग्गी झोपड़ी को खूबसूरत रंगों से सजाया गया है।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper