फिल्म पद्मावती पर मचे बवाल के बीच चित्तौड़गढ़ के पद्मिनी महल में चुपचाप कुछ लिखा जा रहा है

टीम डिजिटल, अमर उजाला Updated Wed, 15 Nov 2017 04:36 AM IST
film padmavati protests rage things changing at chhittorgarh padmini palace rana ratan singh khilji
पद्मिनी पैलेस
"ऐसी मान्यता है कि यहां राणा रतन सिंह ने अपनी पत्नी पद्मिनी की ऐतिहासिक सुंदरता की एक झलक अलाउद्दीन खिलजी को एक आइने में दिखाई थी। जिसके बाद अलाउद्दीन खिलजी उन्हें हासिल करने के लिए चित्तौड़ को तहस-नहस करने की हद तक जा पहुंचा" चित्तौड़गढ़ में ‘पद्मिनी महल’ के मुख्य द्वार पर भारतीय पुरातत्व विभाग (एएसआई) की बोर्ड पर यह लिखा हुआ है। 

सिंह ने जिस कमरे में खिलजी को पद्मिनी की एक झलक दिखाई थी और इसके ठीक सामने ‘जल महल’ जहां पद्मिनी के रहने का दावा किया जाता है, वह सील कर दिया गया है। बीते कुछ हफ्तों से तीन सुरक्षाकर्मी चौबीसों घंटे इसकी पहरेदारी में लगे रहते हैं। मार्च के महीने में श्री राजपूत करणी सेना (एसआरकेएस) ने इसके अंदर तोड़फोड़ मचाई थी। उनका कहना था कि साल 1303 तक आइने का इजाद नहीं हुआ था और इन कमरों में मौजूद आइनों को एएसआई ने 60 सालों पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के दौरा से पहले लगाया था। 

पढ़ें- राजस्‍थानः कोटा में 'पद्मावती' का ट्रेलर दिखाने पर बवाल, करणी सेना ने मॉल में की तोड़फोड़

एसआरकेएस और राजपूतों की एक प्रभावशाली संस्था श्री राजपूत सभा (एसआरएस) और जौहर स्मृति संस्थान (जेएसएस), ये संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती' के खिलाफ चल रहे प्रदर्शनों का नेतृत्व कर रहे हैं। इन संगठनों के दबाव में चित्तौड़गढ़ किले में कई अन्य बदलाव हो रहे हैं। चित्तौड़गढ़ किला यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल में शुमार है। 

जेएसएस, करणी सेना, एसआरएस और राजस्थान के कई अन्य संगठनों का कहना है कि खिलजी और पद्मिनी के बीच कभी कोई संवाद नहीं हुआ और इसलिए दोनों को लेकर किसी फिल्म को बनाने का कोई सवाल पैदा नहीं होता। 

किला घुमाने वाले गाइड अब पर्यटकों को आइने वाली कहानी नहीं सुनाते। 58 वर्षीय प्रहलाद नील दावा करते हैं कि, "मैं दो दशकों से गाइड हूं और मैंने पर्यटकों को हमेशा बताया है कि मौजूदा पद्मिनी महल एक 'वीआईपी' गेस्टहाउस था...और खिलजी ने पद्मिनी को कभी नहीं देखा।" 

पढ़ें- 'पद्मावती' बवालः फिल्म पर रोक लगाना हमारा काम नहीं - गृहमंत्री
आगे पढ़ें

पद्मिनी हमारे लिए आज भी "रानी", "देवी", "मां" हैं

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

India News

जब धोनी का आधार डेटा सेफ नहीं तो सरकार बताए क्या कदम उठा रही है: SC

आधार की संवैधानिक वैधता को लेकर जारी बहस में याचिकाकर्ता ने कहा कि इसके डाटा का गलत इस्तेमाल हो सकता है।

19 जनवरी 2018

Related Videos

400 लीटर रंगों ने बदली मुंबई के इस स्लम एरिया की तस्वीर

मुंबई के घाटकोपर स्थित असल्फा स्लम की तस्वीर बदल गई है। इसे देखकर अंदाजा लगाना मुश्किल है कि ये स्लम है। यहां की गलियों और झुग्गी झोपड़ी को खूबसूरत रंगों से सजाया गया है।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper