विज्ञापन
विज्ञापन

'वायु' से बचाव के लिए स्टैंडबाय पर सेना, 300 मरीन कमांडो भी तैनात

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली/अहमदाबाद Updated Thu, 13 Jun 2019 01:17 AM IST
Cyclone Vayu LIVE Updates: Over 3 Lakh People Evacuated In Gujarat govt issued alert in 10 districts
ख़बर सुनें
चक्रवात ‘वायु’ से बचाव के लिए बुधवार को गृहमंत्रालय ने गुजरात के दस जिलों में आम अलर्ट जारी किया है। एनडीआरएफ की 52 टीमों को गुजरात भेजा गया है, जबकि सेना को स्टैंडबाय पर रखा गया है। इतना ही नहीं तूफान से निपटने के लिए नौसेना के विमानों और पोतों को भी तैयार रखा गया है।
विज्ञापन
विज्ञापन
गृह सचिव राजीव गाबा की अध्यक्षता में राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में बचाव और राहत अभियान को लेकर बैठक की गई। मंत्रालय ने गुजरात और दमन द्वीव प्रशासन से समय रहते लोगों के सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने को कहा है। 
 

 

चक्रवात वायु: रेलवे ने 70 ट्रेनें रद्द कीं

पश्चिम रेलवे ने बुधवार को बताया कि चक्रवात वायु के चलते आने वाली संभावित आपदा को देखते हुये रेलवे ने 70 ट्रेनों को रद्द कर दिया और 28 ट्रेनों को गंतव्य से पहले ही रोकने का फैसला किया है। पश्चिम रेलवे के प्रवक्ता रवींद्र भाखर ने यह जानकरी दी। 

रेलवे ने ताजा बुलेटिन में बताया कि पश्चिम रेलवे ने चक्रवात वायु से होने वाली संभावित आपदा को देखते हुये मुख्यमार्ग की 70 रेलगाड़ियों को पूरी तरह निरस्त और ऐसी ही 28 ट्रेनों को आंशिक रूप से समाप्त करते हुये गंतव्य से पहले ही रोकने का फैसला किया है।

लोगों की दिक्कतों को देखते हुये पश्चिम रेलवे की विशेष राहत ट्रेनें चलाने की योजना है। ये विशेष ट्रेनें गांधीधाम, भावनगर पारा, पोरबंदर, वेरावल और ओखा से प्रत्येक जगह से चलेंगी ताकि वहां से लोगों को निकालने में मदद मिले। इस तूफान के गुरूवार को गुजरात के तट पर टकराने की आशंका है।

तीन लाख से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया

चक्रवात ‘वायु’ के गुजरात के तट की ओर बढ़ने के साथ ही राज्य सरकार ने सौराष्ट्र और कच्छ जिले निचले इलाकों से करीब तीन लाख लोगों को निकालने का अभियान तेज कर दिया है। मौसम विभाग के मुताबिक, गुजरात के वेरावल तट से 340 किलोमीटर दूर है और बृहस्पतिवार को तटीय इलाकों से टकराएगा। गुजरात राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने बताया कि बुधवार शाम तक करीब तीन लाख से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा चुका है। बाकी को भी जल्द स्थानांतरित किया जाएगा। 

राज्य सरकार ने बुधवार को बताया कि चक्रवात से मद्देनजर कच्छ, मोरबी, जामनगर, जूनागढ़, देवभूमि द्वारका, पोरबंदर, राजकोट, अमरेली, भावनगर और गिर-सोमनाथ जिलों के सबसे ज्यादा प्रभावित होने का खतरा है।

इसके मद्देनजर इन जिलों में निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया जा रहा है। इन 10 जिलों के करीब 400 गांवों में रहने वाले 2.91 लाख लोगों को हम दूसरे स्थानों पर स्थानांतरित करेंगे।

इन लोगों को सरकारी इमारतों या गैर सरकारी संगठनों की इमारतों मे शरण दी जाएगी। इसके अलावा 700 शेल्टर और राहत शिविर बनाए गए हैं। अतिरिक्त मुख्य सचिव (राजस्व) पंकज कुमार ने कहा कि राज्य प्रशासन ने लोगों के स्थानांतरित करने के लिए विस्तृत योजना बनाई है, जिस पर काम किया जा रहा है। इस काम में एनडीआरएफ की करीब 36 कंपनियां स्थानीय प्रशासन की मदद कर रही हैं। 

स्कूलों में दो दिन की छुट्टी घोषित 

सरकार ने स्कूल, कॉलेजों और आंगनवाड़ियों में 12 और 13 जून को एहतियातन छुट्टी घोषित की है। तटरक्षक, थलसेना, नौसेना, वायुसेना और सीमा सुरक्षा बल को हाई अलर्ट पर रखा गया है। सेना ने तटवर्ती इलाकों में 10 टुकड़ियां तैनात की हैं, जबकि 24 टुकड़ियों को तैयार रहने को कहा गया है। तटीय इलाकों में सभी बंदरगाह और एयरपोर्ट को अस्थायी तौर पर बंद कर दिया गया है। वहीं पश्चिम रेलवे ने तटीय इलाकों में अगले दो दिन तक 15 ट्रेनों को रद्द कर दिया है, जबकि 16 का रूट बदला गया है।  

मुंबई में दिखा ‘वायु’ का असर 

मुंबई। महाराष्ट्र के कुछ तटीय इलाकों समेत राजधानी मुंबई में चक्रवात वायु का असर दिखाई दिया। बुधवार सुबह से ही मुंबई में तेज हवाएं चली, जिससे कई पेड़ गिर गए। मुंबई समेत तटीय इलाकों में मछुआरों को समुद्र में न जाने को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग के उप महानिदेशक केएस होसलिकर ने कहा कि काफी तेज चक्रवाती तूफान अभी मुंबई से 280 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण पश्चिम क्षेत्र तक पहुंच चुका है। उत्तरी तट पर इस वजह से 50-60 से लेकर 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार तक दिनभर हवाएं चलेंगी।

पीएम ने भी की अपील 

‘चक्रवात वायु से प्रभावित होने वाले सभी लोगों की सुरक्षा की प्रार्थना करता हूं। सरकार और स्थानीय एजेंसी जानकारी मुहैया करा रही हैं, जिसका मैं प्रभावित इलाकों में रहने वाले लोगों से अनुसरण करने का अनुरोध करता हूं।’ - नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

मदद करें कांग्रेस कार्यकर्ता 

‘चक्रवात वायु गुजरात तट के करीब पहुंचने वाला है। मैं सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं से अपील करता हूं कि वे प्रभावित क्षेत्रों में लोगाें की मदद को तैयार रहें। मैं सभी लोगों की सुरक्षा और कल्याण के लिए प्रार्थना करता हूं।  - राहुल गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष 

Recommended

एलपीयू ही बेस्ट च्वॉइस क्यों है इंजीनियरिंग और अन्य कोर्सों के लिए
Lovely Professional University

एलपीयू ही बेस्ट च्वॉइस क्यों है इंजीनियरिंग और अन्य कोर्सों के लिए

बात करें इंडिया के बेस्ट एस्ट्रोलॉजर्स से और पाइये अपनी समस्या का समाधान |
Astrology

बात करें इंडिया के बेस्ट एस्ट्रोलॉजर्स से और पाइये अपनी समस्या का समाधान |

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

India News

पाकिस्तान ने दिया आतंकी हमले का इनपुट, जम्मू-कश्मीर में हाई-अलर्ट पर सेना

पाकिस्तान ने पुलवामा जिले के अंवतीपुरा के पास संभावित हमले को लेकर जानकारी साझा की है। इस बात की पुष्टि श्रीनगर में शीर्ष सुरक्षा अधिकारी ने की है। अलर्ट के बाद जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

16 जून 2019

विज्ञापन

इस जानलेवा गर्मी में घरों से निकलने के लिए हैं मजबूर हैं ये लोग

इस कहर बरपा रही भीषण गर्मी में भी अपनी रोजी-रोटी चलाने के लिए लोग घरों से निकल रहें हैं। चिलचिलाती धूप के साथ मौसम का पारा चढ़ने से दिनभर जनता बेहाल हो रही है। आप खुद सुनिए क्या कहना है लोगों का जब हमने उनसे बात की।

16 जून 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
सबसे तेज अनुभव के लिए
अमर उजाला लाइट ऐप चुनें
Add to Home Screen
Election