37 वर्षों की उम्रकैद के बाद व्यक्ति ने किया नाबालिग होने का दावा

राजीव सिन्हा, नई दिल्ली Updated Sun, 04 Feb 2018 04:34 AM IST
37 years after the life imprisonment, the person claimed to be a minor
सुप्रीम कोर्ट
हत्या के मामले में 37 वर्षों से उम्रकैद की सजा काट रहे एक व्यक्ति ने यह कहते हुए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है कि घटना के वक्त वह नाबालिग था। इस आधार पर उसने दोष सिद्धि के फैसले को दरकिनार करने की गुहार लगाई है। अपने बचाव में स्कूल परित्याग प्रमाणपत्र में दर्ज जन्मतिथि को आधार बनाते हुए पांचवीं कक्षा में पढ़ाई छोड़ चुके 56 वर्षीय विजय पाल ने सुप्रीम कोर्ट से दोषी ठहराए जाने वाले आदेश को दरकिनार करने की गुहार की है। न्यायमूर्ति एसए बोबडे और न्यायमूर्ति एल नागेश्वर राव की पीठ ने इस मामले का परीक्षण करने का निर्णय लेते हुए उत्तर प्रदेश सरकार को नोटिस जारी किया है। पीठ ने राज्य सरकार को चार हफ्ते में जवाब दाखिल करने के लिए कहा है।
उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले के एक स्कूल के प्रधानाध्यापक द्वारा जारी स्कूल परित्याग प्रमाणपत्र के मुताबिक, घटना के वक्त विजय पाल 16 वर्ष 11 महीने का था। घटना 11 जून, 1979 की है। जुवेनाइल जस्टिस एक्ट के तहत आरोपी ट्रायल के दौरान ही नहीं, बल्कि मामले के अंतिम निपटारे के बाद भी अपने नाबालिग होने को मसला उठा सकता है। 37 वर्ष जेल में बिताने के बाद विजय पाल ने इसी प्रावधान का हवाला देते हुए फतेहपुर जेल अधीक्षक के माध्यम से सुप्रीम कोर्ट के एडिशनल रजिस्ट्रार को पत्र लिखा था।
आगे पढ़ें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

India News

भगवान नहीं हैं राजनेता, कानून से ऊपर नहीं: बांबे हाईकोर्ट

राजनेता भगवान नहीं होते हैं और ना ही वे कानून से ऊपर होते हैं। यह टिप्पणी बांबे हाईकोर्ट के जज ने की है। इसके साथ ही उन्होंने महाराष्ट्र पुलिस को आदेश दिया कि वह मैंग्रोव पर अतिक्रमण के लिए दो पार्षदों के खिलाफ मामला दर्ज करे।

22 फरवरी 2018

Related Videos

भारत में खालिस्तान के इस खूंखार आतंकी को न्योता भेजा कनाडाई पीएम ने

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो के लिए आयोजित डिनर पार्टी में भारतीय मंत्री पर जानलेवा हमले के दोषी को आमंत्रित किया गया।

22 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen