कटवाल गांव की सरपंच पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज

ब्यूरो/अमर उजाला, सोनीपत Updated Mon, 07 Mar 2016 12:22 AM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
गांव कटवाल की नवनिर्वाचित सरपंच पर धोखाधड़ी करने का मामला सामने आया है। कटवाल गांव के ही दिनेश ने इसकी शिकायत पुलिस को दी है। दिनेश का आरोप है कि नवनिर्वाचित सरपंच अनीता ने बुढ़ापा पेंशन बनवाई थी। जबकि पेंशन बनवाने की न्यूनतम उम्र 60 साल है, लेकिन खुद को अनपढ़ बताकर अनीता सालों से तब से बुढ़ापा पेंशन ले रही है जब उसका पति जगदीश गांव का पंच होता था। फिलहाल पुलिस ने नवनिर्वाचित सरपंच के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
विज्ञापन

थाना सदर प्रभारी फूलकुंवार ने बताया कि गांव कटवाल निवासी दिनेश ने पुलिस को शिकायत दी है कि उसके गांव की नवनिर्वाचित सरपंच अनीता गोहाना विकास खंड के ही ककाणा गांव की बेटी है। दिनेश द्वारा प्रस्तुत किए गए कागजात के मुताबिक स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी अनीता के जन्म प्रमाणपत्र के मुताबिक उसकी जन्म तिथि 1 फरवरी 1967 है।


हालांकि खानपुर कलां गांव के कन्या गुरुकुल वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, जहां से अनिता ने 29 अप्रैल 1980 से 31 मार्च 1982 तक कक्षा 9 और कक्षा 10 की पढ़ाई की। स्कूल की प्रिंसिपल द्वारा 29 जनवरी 2016 को जारी प्रमाण-पत्र के मुताबिक अनीता की जन्मतिथि 7 जुलाई 1966 है। दोनों जन्म तिथियों में से किसी के भी मुताबिक अनीता की उम्र आज भी 60 साल नहीं है। दिनेश के अनुसार एक तरफ तो कागजात पेश कर अनीता पिछले कई सालों से पेंशन लेती आ रही और दूसरी तरफ वह अन्य कागजात पेश कर गांव की सरपंच बन गई। दिनेश की शिकायत पर पुलिस ने सरपंच के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

सरकार की नीति के अनुसार जमा करा दिए थे पैसे
इस मामले में सरपंच अनीता के पति जगदीश ने बताया कि उन्होंने सितंबर 2015 में ही खट्टर सरकार की नीति के अनुसार रुपये जमा करा दिए थे। जगदीश के अनुसार उस समय 60,800 रुपये सरकारी खाते में जमा कराए थे, उसके बाद से कोई पेंशन नहीं ली गई।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00