विज्ञापन
विज्ञापन

बेमिसालः बच्चों को आत्मरक्षा के गुर सिखाने से साथ निखारती हैं उनकी प्रतिभा अमिता मरवाहा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पंचकूला Updated Mon, 11 Nov 2019 02:46 PM IST
अमिता मारवाह
अमिता मारवाह - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें
सामाजिक कार्यकर्ता अमिता मरवाहा को स्लम एरिया के बच्चों में स्किल डेवलप करने का जुनून है। इसके लिए वह बड़ी मेहनत और लगन से काम कर रही हैं। अमिता मरवाहा एक्टिविटी टीम के साथ इस काम में पूरी लगने से जुड़ी हुई हैं। जरूरतमंद बच्चों को सेल्फ डिफेेंस की ट्रेनिंग के साथ उन्हें खेल की दुनिया में नाम कमाने के लिए प्रोत्साहित करने का काम कर रही है।
विज्ञापन
उनकी कड़ी मेहनत का ही नतीजा है कि ट्रेनिंग लेने के बाद स्लम एरिया के 20 बच्चे अंतरराष्ट्रीय पदक जीत चुके हैं। उन्हें इस उत्कृष्ट कार्य के लिए अब तक 70 पुरस्कार दिए जा चुके हैं। उन्हें फिल्मी हस्तियों से लेकर हरियाणा के दिग्गज नेताओं ने भी सम्मानित किया है।

बच्चों ने दिखाई देश विदेश में प्रतिभा
अमिता स्लम के बच्चों को फ्री में मार्शल आर्ट सिखाती हैं। उन्हें खेलों की दुनिया में आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करती हैं। इसी कारण बच्चे खेल में अपना सुनहरा करिअर बना चुके हैं। वह उन बच्चों की मार्गदर्शक बनीं जिन्हें दो वक्त की रोटी बड़ी मुश्किल से नसीब होती हैं। वह मार्शल आर्ट की फ्री क्लास देती है। यह क्लास इंदिरा कॉलोनी, हल्लोमाजरा और सेक्टर-4 पंचकूला में दी जाती है।

ट्रेनिंग लेने के बाद स्लम एरिया के 20 बच्चे अंतरराष्ट्रीय पदक विजेता हैं। 40 बच्चे मार्शल आर्ट में राज्य और राष्ट्रीय पदक विजेता हैं। 20 बच्चों ने डांस में पुरस्कार जीते हैं। 25 बच्चे कला और शिल्प प्रतियोगिता में विजेता हैं। संस्था से चार प्रशिक्षित छात्र ताईक्वांडो शिक्षक के रूप में ट्राइसिटी के प्रसिद्ध स्कूल में काम कर रहे हैं और सम्मानपूर्वक पैसा कमा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस काम में मुझे सबसे अधिक शुकून मिला है।

अच्छे खिलाड़ियों को आर्थिक अभाव के चलते नहीं मिलता हक
अमिता मरवाहा ने बताया कि जब वह स्कूल और कॉलेज में पढ़ती थीं तो कई बच्चे खेल सहित कई विधाओं में अच्छा प्रयास करते थे। उन्हें आर्थिक अभाव के कारण मौका नहीं मिलता था। उन्होंने बताया कि तब उन्होंने बच्चों को फ्री में मार्शल आर्ट, आत्मरक्षा के गुर, कला और शिल्प, कथक नृत्य, ध्यान, योग व्यायाम, श्वास अभ्यास सिखाने का संकल्प लिया था। उनके प्रयास के बाद बच्चों ने इन विधाओं को सीखकर देश विदेश में अपना नाम रोशन किया है। वह झुग्गी के बच्चों और उनके अभिभावकों को भी जागरूक करती हैं।

बच्चों में कौशल विकसित करना जीवन का उद्देश्य
अमिता मरवाहा ने बताया कि उनके जीवन का उद्देश्य गरीब बच्चों में कौशल विकसित करना जिससे वे सम्मानपूर्वक कमा और अपने पैरों पर खड़े हो सकें। उन्हें कत्थक पुरस्कार से नवाजा जा चुका है। वह कला शिरोमणि गरीब लड़कियों को मुफ्त पढ़ाने और कौशल विकसित करने के लिए पुरस्कार प्राप्त कर चुकी हैं। इसके साथ ही वे एक शिक्षक के रूप में सम्मानपूर्वक और भारत की कला और संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए पैसा कमा सकते हैं।

Recommended

पीरियड्स है करोड़ों लड़कियों के स्कूल छोड़ने का कारण
NIINE

पीरियड्स है करोड़ों लड़कियों के स्कूल छोड़ने का कारण

विनायक चतुर्थी पर सिद्धिविनायक मंदिर(मुंबई ) में भगवान गणेश की पूजा से खत्म होगी पैसों की किल्लत 30-नवंबर-2019
Astrology Services

विनायक चतुर्थी पर सिद्धिविनायक मंदिर(मुंबई ) में भगवान गणेश की पूजा से खत्म होगी पैसों की किल्लत 30-नवंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Shimla

चंबा की दो महिला शिल्पियों को राष्ट्रीय मेरिट पुरस्कार

जिले की दो महिला शिल्पियों को राष्ट्रीय मेरिट पुरस्कार से नवाजा जाएगा। चंबा रुमाल शिल्प में बेहतरीन योगदान के लिए मस्तो देवी और दिनेश कुमारी को भारत सरकार के वस्त्र मंत्रालय की ओर से वर्ष 2017 के लिए चुना गया है।

19 नवंबर 2019

विज्ञापन

105 साल की बुजुर्ग महिला ने दी चौथी कक्षा की परीक्षा, केरल के कोल्लम की हैं भागीरथी अम्मा

केरल के कोल्लम की रहनेवालीं 105 साल की बुजुर्ग महिला ने चौथी कक्षा की परीक्षा दी। जिन्होंने एक नई मिसाल कायम कर दी।

20 नवंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election