बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

कृषि कानून से आय होगी दुगनी और खेती का बदलेगा तरीका: सांसद

Amarujala Local Bureau अमर उजाला लोकल ब्यूरो
Updated Fri, 02 Oct 2020 12:06 AM IST
विज्ञापन
प्रेसवार्ता में नए किसान कानून के बारे में  जानकारी देते सांसद डॉ. भोला सिंह।
प्रेसवार्ता में नए किसान कानून के बारे में जानकारी देते सांसद डॉ. भोला सिंह। - फोटो : Amar Ujala

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
बुलंदशहर। कृषि कानून बनाए जाने पर विपक्ष लगातार हल्ला बोल रहा है। वहीं, बृहस्पतिवार को सांसद डा. भोला सिंह ने प्रेसवार्ता कर कृषि कानून से होने वाले फायदों को गिनाया। साथ ही किसानों से अपील की है कि वह इस कानून का स्वागत करें। यह बिल किसान हित में है। उन्होंने बताया कि विपक्ष बिना कुछ जाने इस कानून के खिलाफ लोगों को बरगला रहा है।
विज्ञापन
सांसद डा. भोला सिंह ने प्रेसवार्ता कर बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पद पर आसीन होने के बाद से लगातार किसानों की समस्याओं का निदान करने व किसानों की आय को बढ़ाने का लगातार प्रयास कर रहे हैं। इसी क्रम में कृषि कानून पारित किया है। यह कानून किसान की आय को दोगुना करने में उपयोगी साबित होगा। कृषि उत्पाद एवं व्यापार वाणिज्य के माध्यम से कृषि बाजारों का आधुनिकीकरण कर एक देश एक बाजार की सोच किसानों की लागत कम कर उनकी आय को बढ़ाएगी। अब किसान देश के किसी भी हिस्से में अपने दामों पर अपनी फसल को बेच सकेंगे। इस दौरान उन्हें प्रदेश व केंद्र सरकार को कोई टैक्स भी देय नहीं होगा। साथ ही कांट्रेक्ट फार्मिंग के तहत इस कानून से खेती करने का तरीका भी बदलेगा। इसके तहत किसान और कांट्रेक्ट करने वाली कंपनी के बीच जमीन के साथ कोई कांट्रेक्ट नहीं होगा, सिर्फ फसल का ही कांट्रेक्ट किया जाएगा। साथ ही किसान को पहले से ही पता होगा कि इस कांट्रेक्ट के तहत उसे कितना लाभ मिलने वाला है। इस कानून से न्यनूतम समर्थन मूल्य यानि एमएसपी की वर्तमान नीति में भी कोई हस्तक्षेप नहीं कर सकता है। एमएसपी की खरीद इस विधेयक के प्रसार के बाद भी बढ़ी है और आगे भी बढ़ेगी।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us