उत्तराखंड: आज एक लाख बच्चों को पिलाई जाएगी पोलियो ड्राॅप, हरिद्वार में बनाए गए 644 बूथ 

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हरिद्वार Published by: Nirmala Suyal Nirmala Suyal Updated Sun, 26 Sep 2021 01:00 AM IST

सार

बीएचईएल में 47 बूथ बनाए गए हैं। यहां 1926 बच्चों को दवा पिलाई जानी है। ज्वालापुर में 79 बूथों में 17 हजार बच्चों को पोलियो ड्राॅप पिलाई जाएगी।
पोलिया ड्रॉप पीता एक बच्चा (प्रतीकात्मक तस्वीर)
पोलिया ड्रॉप पीता एक बच्चा (प्रतीकात्मक तस्वीर) - फोटो : Facebook/All India Radio News
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

रविवार को पल्स पोलियो अभियान चलाया जाएगा। हरिद्वार तहसील में 644 बूथों पर एक लाख बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई जाएगी। शनिवार को एसडीएम पूरन सिंह राणा तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि अभियान में किसी तरह की लापरवाही बरदाश्त नहीं की जाएगी। 
विज्ञापन


एसडीएम पूरन सिंह राणा ने अभियान को सफल बनाने के लिए शनिवार को चिकित्साधिकारी और सीएचसी प्रभारियों की बैठक ली। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय अभियान में सभी ड्यूटी अधिकारी एवं कर्मचारी अपनी जिम्मेदारी निभाएंगे। उन्होंने कहा कि बीएचईएल में 47 बूथ बनाए गए हैं।


यहां 1926 बच्चों को दवा पिलाई जानी है। ज्वालापुर में 79 बूथों में 17 हजार बच्चों को पोलियो ड्राॅप पिलाई जाएगी। बहादराबाद में पोलियो बूथ की संख्या 317 और हरिद्वार शहरी क्षेत्र में 206 बूथ बनाए गए हैं। हरिद्वार तहसील क्षेत्र के 644 बूथों पर पांच साल की उम्र के एक लाख बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई जाएगी। 

पोलियो अभियान के साथ होगा टीकाकरण 
पल्स पोलिया अभियान के साथ-साथ कोरोना टीकाकरण भी किया जाएगा। इसके लिए मोबाइल वैन का प्रयोग किया जाएगा। अभी तक जनपद में रखा गया 15 लाख 70 हजार टीकाकरण का लक्ष्य पूरा नहीं किया जा सका है। अभी भी लगभग सवा लाख लोग टीकाकरण से वंचित हैं। इन लोगों को टीकाकरण करने के लिए जिला प्रशासन हर दिन नए-नए प्रयोग कर रहा है।

अब नए प्रयोग के तहत पल्स पोलिया अभियान के तहत कोरोना टीकाकरण को भी जोड़ दिया गया है। पल्स पोलियो अभियान की शुरूआत के पहले दिन रविवार को बूथों पर पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी। 27 सितंबर से दो अक्तूबर तक कर्मचारी घर-घर जाकर बच्चों को पोलिया ड्रॉप पिलाएंगे।

इस दौरान स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी संबंधित परिवार के साथ बैठकर टीकाकरण से वंचित लोगों से वार्ता करेंगी। उन्हें टीकाकरण के लिए प्रेरित करेंगी। टीकाकरण के लिए तैयार होने पर संबंधित क्षेत्र में मोबाइल वैन से टीकाकरण किया जाएगा। एसीएमओ डा. अजय कुमार ने बताया कि इस संबंध में पल्स पोलिया अभियान में जुटने वाले समस्त स्वास्थ्य कर्मचारियों को निर्देशित किया जा चुका है। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00