लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttarakhand ›   Dehradun ›   Politics BJP gav setback to Mamta Rakesh party gave ticket to former MLA Deshraj Karnwal daughter

Politics: भाजपा ने ममता राकेश को दिया झटका, पार्टी ने पूर्व विधायक कर्णवाल की बेटी को दिया टिकट

संवाद न्यूज एजेंसी, रुड़की Published by: रेनू सकलानी Updated Thu, 06 Oct 2022 10:11 AM IST
सार

भगवानपुर ब्लॉक में कांग्रेस विधायक ममता राकेश की बेटी आयुषि ने तेलपुरा सीट से बीडीसी का चुनाव निर्विरोध जीत लिया था। पार्टी आयुषि को ब्लॉक प्रमुख का टिकट देगी ऐसी चर्चा थी, लेकिन आयुषि के ज्वाइन करने पर भाजपा के अंदर विरोध पनप रहा था। इसी के चलते पार्टी ने आयुषि के नाम पर मुहर नहीं लगाई।

mamta rakesh
mamta rakesh - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

हाल ही में भाजपा ज्वाइन करने वाली भगवानपुर कांग्रेस विधायक की बेटी आयुषि को ब्लॉक प्रमुख का टिकट नहीं मिला है। पार्टी ने पूर्व विधायक देशराज कर्णवाल की बेटी पर भरोसा जताया है। इससे इस सीट पर राजनीतिक माहौल फिर से पलट गया है। अब गेंद पूर्व विधायक के पाले में आ गई है।



गौरतलब है कि भगवानपुर ब्लॉक में कांग्रेस विधायक ममता राकेश की बेटी आयुषि ने तेलपुरा सीट से बीडीसी का चुनाव निर्विरोध जीत लिया था। वहीं, सिसौना सीट पर पूर्व विधायक देशराज कर्णवाल की बेटी करुणा ने चुनाव जीता था। चुनाव के बाद कांग्रेस विधायक की बेटे अभिषेक और बेटी आयुषि ने भाजपा ज्वाइन कर ली थी।


माना जा रहा था कि पार्टी आयुषि को ब्लॉक प्रमुख का टिकट देगी लेकिन सूूत्रों के मुताबिक आयुषि के ज्वाइन करने पर भाजपा के अंदर विरोध पनप रहा था। इसी के चलते पार्टी ने आयुषि के नाम पर मुहर नहीं लगाई। बुधवार को जारी पांच ब्लॉकों की सूची में पूर्व विधायक की बेटी करुणा कर्णवाल को ब्लॉक प्रमुख का प्रत्याशी घोषित किया गया है। खानपुर से नितीश कुमार, नारसन से कोमल देवी, लक्सर से डॉ. हर्ष दौलत और बहादराबाद से आशा नेगी को प्रत्याशी बनाया गया है। 

ये भी पढ़ें...Women Horizontal Reservation: सुप्रीम कोर्ट में एसएलपी दायर करेगी सरकार, बैठक में लिया फैसला

पार्टी भी गई और टिकट भी
जानकारों का कहना है कि ममता राकेश बच्चों को भाजपा ज्वाइन नहीं कराती तो कांग्रेस के बैनर तले बेहतर प्रदर्शन कर सकती थीं।  इस एक फैसले ने पूरे घटनाक्रम को बदल दिया। अब तीन बार विधायक बनाने वाली कांग्रेस को न तो विधायक में पहले जितना विश्वास रहा और जिस उद्देश्य से भाजपा ज्वाइन कराई थी, वह भी पूरा नहीं हुआ।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00