आपका शहर Close

इस वीर सपूत के लिए सभी प्रोटोकॉल तोड़ दिए थे किंग जार्ज ने, युद्ध मैदान में ही दिया विक्टोरिया क्रॉस

ब्यूरो/अमर उजाला, कर्णप्रयाग

Updated Fri, 08 Dec 2017 08:10 AM IST
 King George broke protocol for this real hero

वीर सपूत दरबान सिंह को सम्मानित करते किंग जार्ज

उत्तराखंड के इस वीर सपूत के अदम्य साहस को देखते हुए किंग जार्ज पंचम ने सभी प्रोटोकाल तोड़ दिए थे और युद्ध के मैदान में ही उन्हें प्रथम विक्टोरिया क्रॉस से सम्मानित किया। जब पुरस्कार मांगने को कहा तो पढ़िए क्या मांगा इस वीर सपूत ने...
आज (पांच दिसंबर) का दिन चमोली सहित अपर गढ़वाल के लिए ऐतिहासिक दिन है। 103 वर्ष पूर्व वर्ष 1914 में आज के ही दिन यानी 5 दिसंबर को फ्रांस में गढ़वाल राइफल के नायक और चमोली जिले के कफारतीर गांव के वीर सपूत को किंग जार्ज पंचम ने विक्टोरिया क्रास से सम्मानित किया था।

तब किंग जार्ज पंचम ने दरबान सिंह से पुरस्कार स्वरूप कुछ मांगने के लिए कहा तो दरबान ने चमोली जिले के केंद्र बिंदु कर्णप्रयाग में स्कूल और ऋषिकेश से कर्णप्रयाग तक रेल लाइन बनाने की मांग की। पुरस्कार के रूप में मांगा गया कर्णप्रयाग का यह स्कूल आज शताब्दी समारोह मना रहा है।

कर्णप्रयाग में स्कूल और हरिद्वार-ऋषिकेश से कर्णप्रयाग तक रेल लाइन की मांग की
चमोली के दूरस्थ गांव कफारतीर में स्व. कलम सिंह नेगी के घर वर्ष 1881 में जन्मे दरबान सिंह नेगी वर्ष 1902 में प्रथम बटालियन 39 गढ़वाल राइफल में भर्ती हुए थे। प्रथम विश्व युद्घ में दरबान सिंह नेगी के अदम्य साहस को देखते हुए 5 दिसंबर 1914 को किंग जार्ज पंचम ने सभी प्रोटोकाल तोड़ते हुए फ्रांस में युद्घ के मैदान में ही दरबान सिंह को प्रथम विक्टोरिया क्रास से सम्मानित किया।

इस दौरान सेना के कुल छह सैनिकों को वीसी सम्मान से नवाजा गया, इनमें दरबान सिंह का सबसे पहले स्थान था। सामाजिक कार्यकर्ता भुवन नौटियाल बताते हैं कि इस दौरान किंग जार्ज पंचम ने दरबान की वीरता से खुश होकर पुरस्कार मांगने की बात कही, तो दरबान ने चमोली के केंद्र बिंदु कर्णप्रयाग में स्कूल और हरिद्वार-ऋषिकेश से कर्णप्रयाग तक रेल लाइन की मांग की। तब देश में आजादी के लिए लोग एकजुट हो रहे थे, जिसके लिए अपर गढ़वाल में शिक्षा और विकास का होना जरूरी था।
आगे पढ़ें

फ्रांस में मांगा गया कर्णप्रयाग का स्कूल आज अपने 100 साल पूरे करने जा रहा

Comments

स्पॉटलाइट

तांबे की अंगूठी के होते हैं ये 4 फायदे, जानिए किस उंगली में पहनना होता है शुभ

  • रविवार, 17 दिसंबर 2017
  • +

शादी करने से पहले पार्टनर के इस बॉडी पार्ट को गौर से देखें

  • रविवार, 17 दिसंबर 2017
  • +

पावर ग्रिड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड में 20 पदों पर वैकेंसी

  • रविवार, 17 दिसंबर 2017
  • +

'छोटी ड्रेस' को लेकर इंस्टाग्राम पर ट्रोल हुईं मलाइका, ऐसे आए कमेंट शर्म आएगी आपको

  • शनिवार, 16 दिसंबर 2017
  • +

Bigg Boss 11: सपना चौधरी के बाद एक और चौंकाने वाला फैसला, घर से बेघर हो गया ये विनर कंटेस्टेंट

  • शनिवार, 16 दिसंबर 2017
  • +

Most Read

पिता का दर्द देख कर ट्रैक्टर के साथ किया ऐसा आविष्कार, हैरान रह जाएंगे आप

Rajasthan man invented driver less tractor
  • रविवार, 17 दिसंबर 2017
  • +

आईपीएल से टीम इंडिया में एंट्री को बेताब देवभूमि का ये ऑफ स्पिनर

ranji player gurbinder singh wants entry in indian cricket team
  • शुक्रवार, 15 दिसंबर 2017
  • +

सिपाही भर्ती हुए, मेहनत और जज्बे से लेफ्टिनेंट बन गए सुनील

sunil of solan kunihar joined as lieutenant in indian army
  • मंगलवार, 12 दिसंबर 2017
  • +

हमीरपुर के इन तीन स्काउट्स को मिलेगा राष्ट्रपति पुरस्कार

three cadet of hamirpur will get president award
  • शुक्रवार, 15 दिसंबर 2017
  • +

नेशनल में खेलेंगे हिमाचल के ये दो खिलाड़ी, खोखो प्रतियोगिता में हुआ चयन

two player of himachal selected for national kho-kho championship
  • गुरुवार, 14 दिसंबर 2017
  • +

बेटा भारतीय सेना में कैप्टन, अब बेटी बनी सब लेफ्टिनेंट

Himachal Mandi shailja sub lieutenant in indian navy
  • शुक्रवार, 24 नवंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!