इस वीर सपूत के लिए सभी प्रोटोकॉल तोड़ दिए थे किंग जार्ज ने, युद्ध मैदान में ही दिया विक्टोरिया क्रॉस

ब्यूरो/अमर उजाला, कर्णप्रयाग Updated Fri, 08 Dec 2017 08:10 AM IST
 King George broke protocol for this real hero
वीर सपूत दरबान सिंह को सम्मानित करते किंग जार्ज
उत्तराखंड के इस वीर सपूत के अदम्य साहस को देखते हुए किंग जार्ज पंचम ने सभी प्रोटोकाल तोड़ दिए थे और युद्ध के मैदान में ही उन्हें प्रथम विक्टोरिया क्रॉस से सम्मानित किया। जब पुरस्कार मांगने को कहा तो पढ़िए क्या मांगा इस वीर सपूत ने...

आज (पांच दिसंबर) का दिन चमोली सहित अपर गढ़वाल के लिए ऐतिहासिक दिन है। 103 वर्ष पूर्व वर्ष 1914 में आज के ही दिन यानी 5 दिसंबर को फ्रांस में गढ़वाल राइफल के नायक और चमोली जिले के कफारतीर गांव के वीर सपूत को किंग जार्ज पंचम ने विक्टोरिया क्रास से सम्मानित किया था।

तब किंग जार्ज पंचम ने दरबान सिंह से पुरस्कार स्वरूप कुछ मांगने के लिए कहा तो दरबान ने चमोली जिले के केंद्र बिंदु कर्णप्रयाग में स्कूल और ऋषिकेश से कर्णप्रयाग तक रेल लाइन बनाने की मांग की। पुरस्कार के रूप में मांगा गया कर्णप्रयाग का यह स्कूल आज शताब्दी समारोह मना रहा है।

कर्णप्रयाग में स्कूल और हरिद्वार-ऋषिकेश से कर्णप्रयाग तक रेल लाइन की मांग की
चमोली के दूरस्थ गांव कफारतीर में स्व. कलम सिंह नेगी के घर वर्ष 1881 में जन्मे दरबान सिंह नेगी वर्ष 1902 में प्रथम बटालियन 39 गढ़वाल राइफल में भर्ती हुए थे। प्रथम विश्व युद्घ में दरबान सिंह नेगी के अदम्य साहस को देखते हुए 5 दिसंबर 1914 को किंग जार्ज पंचम ने सभी प्रोटोकाल तोड़ते हुए फ्रांस में युद्घ के मैदान में ही दरबान सिंह को प्रथम विक्टोरिया क्रास से सम्मानित किया।

इस दौरान सेना के कुल छह सैनिकों को वीसी सम्मान से नवाजा गया, इनमें दरबान सिंह का सबसे पहले स्थान था। सामाजिक कार्यकर्ता भुवन नौटियाल बताते हैं कि इस दौरान किंग जार्ज पंचम ने दरबान की वीरता से खुश होकर पुरस्कार मांगने की बात कही, तो दरबान ने चमोली के केंद्र बिंदु कर्णप्रयाग में स्कूल और हरिद्वार-ऋषिकेश से कर्णप्रयाग तक रेल लाइन की मांग की। तब देश में आजादी के लिए लोग एकजुट हो रहे थे, जिसके लिए अपर गढ़वाल में शिक्षा और विकास का होना जरूरी था।
आगे पढ़ें

फ्रांस में मांगा गया कर्णप्रयाग का स्कूल आज अपने 100 साल पूरे करने जा रहा

Spotlight

Most Read

Shimla

डाक टिकट डिजाइन स्पर्धा में हिमाचल की बेटी देश में अव्वल

हिमाचल की एक और बेटी ने राष्ट्रीय स्तर पर प्रदेश का नाम रोशन किया है।

16 जनवरी 2018

Related Videos

सोशल मीडिया ने पहले ही खोल दिया था राज, 'भाभीजी' ही बनेंगी बॉस

बिग बॉस के 11वें सीजन की विजेता शिल्पा शिंदे बन चुकी हैं पर उनके विजेता बनने की खबरें पहले ही सामने आ गई थी। शो में हुई लाइव वोटिंग के पहले ही शिल्पा का नाम ट्रेंड करने लगा था।

15 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper