विज्ञापन

उच्च और मध्य हिमालयी क्षेत्रों में कम हो रहे वन

Dehradun Bureauदेहरादून ब्यूरो Updated Sun, 14 Oct 2018 02:04 AM IST
ख़बर सुनें
उच्च और मध्य हिमालयी क्षेत्रों में कम हो रहे वन
विज्ञापन
विज्ञापन
अरविंद सिंह
देहरादून। देश में हिमालयी क्षेत्रों में वन क्षेत्रफल कम हो रहा है। भारतीय वन सर्वेक्षण की ओर से किए गए सर्वे में यह खुलासा हुआ है। वन सर्वेक्षण की रिपोर्ट के मुताबिक उच्च व मध्य हिमालयी क्षेत्रों में जहां वन तेजी से घट रहे हैं, जबकि लघु हिमालयी क्षेत्रों व कम ऊंचाई वाले इलाकों में वन क्षेत्रफल बढ़ रहा है। उच्च व मध्य हिमालयी क्षेत्र में वन क्षेत्रफल में साल दर साल आ रही कमी के लिए वैज्ञानिक हिमालयी क्षेत्रों में मौसम में आ रहे बदलाव और प्रदूषण को जिम्मेदार मान रहे हैं।
भारतीय वन सर्वेक्षण की ओर से साल 2015 में कराए गए सर्वे की रिपोर्ट के मुताबिक पांच सौ मीटर ऊंचाई वाले क्षेत्रों में 7087 वर्ग किमी क्षेत्रफल में बढ़ोतरी हुई है। पांच सौ से लेकर एक हजार मीटर की ऊंचाई वाले इलाकों में महज 276 वर्ग किमी वन क्षेत्र में वृद्धि दर्ज की गई है। इससे अधिक ऊंचाई वाले हिमालयी क्षेत्रों में वन क्षेत्रफल में कमी आ रही है।
रिपोर्ट के मुताबिक 1000 से 2000 मीटर की ऊंचाई वाले पहाड़ों मेें 217 वर्ग किमी वन क्षेत्रफल में कमी आई है, जबकि 2000 से 4000 मीटर ऊंचाई वाले पर्वतीय इलाकों मेें 193 वर्ग किमी और 2000 से 3000 मीटर ऊंचाई वाले इलाकों में 76 वर्ग किमी वन क्षेत्रफल में कमी दर्ज की गई है। इससे इतर चार हजार मीटर से अधिक ऊंचाई वाले पर्वतीय इलाकों में 99 वर्ग किमी वन क्षेत्रफल कम हुआ है।
हिमालयी क्षेत्रों में अलग अलग ऊंचाइयों पर पाए जाने वाले वन क्षेत्रफल के सर्वे के लिए शटल रडार टोपोग्रॉफी मिशन (एसआरटीएम) तकनीक का सहारा लिया गया। वन सर्वेक्षण के आंकड़ों पर नजर डालें तो पूरे देश में 701495 वर्ग किमी क्षेत्रफल वनों से आच्छादित है। इसमें 88633 वर्ग किमी बेहद घने जंगल, 312739 वर्ग किमी कम घने जंगल, 300123 वर्ग किमी खुले वन शामिल हैं। इसके अलावा 41540 वर्ग किमी में झाड़ियां हैं। संस्थान के वैज्ञानिकों के मुताबिक मध्य व उच्च हिमालयी क्षेत्रों में मौसम और प्रदूषण में आ रहे बदलाव के चलते वन क्षेत्रफल में कमी आई है।
---
कोट ...
मध्य व उच्च हिमालयी क्षेत्रों में वन क्षेत्रफल कम होेने के कई कारण है जिसमें मौसम में बदलाव व प्रदूषण शामिल हैं। वन क्षेत्रफल के कारणों का अध्ययन कराया जा रहा है। उसके बाद हरसंभव कदम उठाए जाएंगे ताकि वनों को घटने से रोका जा सके।
- प्रकाश लखचौरा, उप महानिदेशक भारतीय वन सर्वेक्षण

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Dehradun

उत्तराखंड: अपर मुख्य सचिव ने हाईकोर्ट में मांगी माफी, जज बोले 'आदेशों क्यों नहीं मानते अधिकारी'

अपर मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव तकनीकी शिक्षा ओम प्रकाश मंगलवार को अवमानना नोटिस के तहत हाईकोर्ट में पेश हुए।

18 दिसंबर 2018

विज्ञापन

अमर उजाला के अपराजिता अभियान के तहत छात्राओं को दी गई 'ताईक्वांडो' की ट्रेनिंग

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर यूनिट के तहत देवरिया जिले में अमर उजाला के अपराजिता अभियान के तहत जे के मित्तल स्कूल में बेटियों को ताइक्वांडो की ट्रेनिंग देकर आत्मरक्षा का प्रशिक्षण दिया गया

17 दिसंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree