एशेजः एगर की ऐतिहासिक पारी ने कंगारूओं को बचाया

विज्ञापन
ट्रेंट ब्रिज Published by: Updated Fri, 12 Jul 2013 01:38 PM IST
11th no batsman agar saved australia in ashes

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
एशेज सीरीज के शुरुआती टेस्ट की पहली पारी में संकट में दिख रही ऑस्ट्रेलियाई टीम को उनके नवोदित और पुछल्ले बल्लेबाज एश्टन एगर ने बाहर निकाल दिया।
विज्ञापन


पहले टेस्ट के दूसरे दिन ऑस्ट्रेलिया ने अपने नौ विकेट महज 117 रन पर गंवा दिया था और लग रहा था कि मेजबान इंग्लैंड आसानी से सौ रन की बढ़त ले लेगा।

लेकिन एशेज सीरीज से अपने टेस्ट कैरियर का आगाज कर रहे एगर ने 11वें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए ऐतिहासिक पारी खेलकर न सिर्फ टीम को बचा लिया बल्कि उसे 65 रनों की महत्वपूर्ण बढ़त दिला दी।


हालांकि लाजवाब पारी खेलने वाले एगर महज दो रन से अपने शतक से चूक गए। उनके आउट होते ही ऑस्ट्रेलिया की पूरी पारी 280 रनों पर आउट हो गई।

इससे पहले इंग्लैंड की पहली पारी पहले ही दिन 215 रनों पर सिमट गई थी। इंग्लैंड की ओर से जोनाथन ट्रॉट ने सर्वाधिक 48 रनों का योगदान दिया।
शुरुआती झटकों से संभला इंग्लैंड
दूसरी पारी खेलने उतरी इंग्लैंड की टीम को जल्द ही दोहरा झटका लगा। तेज गेंदबाज मिचेल स्टॉर्क ने आठवें ओवर में लगातार दो गेंदों पर जोई रुट (5) और जोनाथन ट्रॉट (0) को पवेलियन की राह दिखाकर मेजबान टीम को हक्का-बक्का कर दिया।

हालांकि दोहरे झटके के बाद कप्तान एलिस्टर कुक (37) और केविन पीटरसन (35) ने तीसरे विकेट के लिए नाबाद 69 रनों की साझेदारी कर इंग्लैंड को बढ़त दिला दी।

स्टंप्स के समय इंग्लैंड ने दो विकेट पर 80 रन बना लिए थे। मेजबान टीम ने पहली पारी के आधार पर ऑस्ट्रेलिया पर 15 रनों की बढ़त बना ली है।

एगर ने किया गेंदबाजों को हताश
ऑस्ट्रेलियाई पारी में दिग्गज बल्लेबाजों की असफलता को इस नवोदित पुछल्ले बल्लेबाज एगर ने दूर की। एगर ने फीलिप ह्यूज के साथ 10वें विकेट के लिए 163 रनों की रिकॉर्ड साझेदारी की। एगर ने आक्रामक बल्लेबाजी कर विपक्षी गेंदबाजों को खूब हताश भी किया।  

फीलिप ह्यूज ने भी अर्धशतक लगाया और 81 रनों की पारी खेलते हुए अंत तक अविजित रहे। स्टीवन स्मिथ ने भी 53 रनों का योगदान दिया।

तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने कातिलाना गेंदबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलियाई पारी लड़खड़ा दी। उन्होंने पांच विकेट चटकाए। स्टीवन फिन और ग्रीम स्वान ने दो-दो विकेट निकाले। जबकि स्टुअर्ट ब्रॉड को एक सफलता मिली। ब्रॉड ने ही लंच के बाद एगर की महान पारी का अंत किया।
    
तोड़ा 111 साल पुराना रिकॉर्ड
19 वर्षीय एगर ने अपने पहले ही टेस्ट में कई रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए। वह पदार्पण टेस्ट में अर्धशतक बनाने वाले 11वें नंबर के दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए।

साथ ही उन्होंने कैरियर के पहले ही टेस्ट में 11वें नंबर के बल्लेबाज के रूप में सबसे बड़ी पारी खेलने का 111 साल पुराना रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया।

एगर से पहले यह रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के ही वारविक आर्मस्ट्रांग के नाम था। आर्मस्ट्रांग ने 1902 में मेलबर्न में इंग्लैंड के खिलाफ नाबाद 45 रन बनाए थे।

एगर को केवल 10 प्रथम श्रेणी मैच खेलने के बाद ही ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए टेस्ट मैच खेलने का मौका मिल गया था।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें क्रिकेट समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। क्रिकेट जगत की अन्य खबरें जैसे क्रिकेट मैच लाइव स्कोरकार्ड, टीम और प्लेयर्स की आईसीसी रैंकिंग आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X