JPSC छात्रों पर लाठीचार्ज, कई छात्र समेत एक पुलिसकर्मी भी घायल

amarujala.com- Presented by : मुकेश झा Updated Mon, 27 Mar 2017 07:33 PM IST
 student protest at JPSC office in ranchi
जेपीएससी
झारखंड के रांची में सिविल सेवा परीक्षा के रिजल्ट को लेकर काफी विरोध प्रदर्शन किया गया। विरोध प्रदर्षण में विद्यार्थियों ने सोमवार को आरक्षण अधिकार मोर्चा का बैनर लगाकर जेपीएससी कार्यालय का घेराव किया। घेराव करने को लेकर पुलिस मौके पर वहां पहुंची। लेकिन तब पर भी विरोध कम नहीं हुआ, उसके बाद पुलिस ने विद्यार्थियों पर लाठीचार्ज किया। लाठीचार्ज करने के बाद कुछ विद्यार्थियों ने पुलिस वैन और वाटर कैनन टैंकर को क्षतिग्रस्त कर दिया। वहीं, लाठीचार्ज में कई विद्यार्थी के साथ-साथ पुलिसकर्मी भी घायल हो गए। घायल को रिम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसी दौरान कई छात्रों को हिरासत में भी लिया गया।

जानकारी के मुताबिक सिविल सेवा परीक्षा की पीटी रिजल्ट के लेकर विद्यार्थियों ने जेपीएससी का घेराव किया। घेराव के दौरान उन्होंने आरोप लगाया कि पीटी परीक्षा के रिजल्ट में एसी, एसटी और ओबीसी को प्रदत आरक्षण के साथ छेड़छाड़ की गई है। जबकि विद्यार्थियों ने कट ऑफ मार्क्स जारी करने की बाध्यता को तत्काल समाप्त करने की भी मांग की है। हालांकि उनलोगों का कहना है कि जबतक इसमें सुधार नहीं होता तबतक आंदोलन जारी रहेगा।
 

Spotlight

Most Read

Dehradun

देहरादून: 24 जनवरी को कक्षा 1 से 12 तक बंद रहेंगे सभी स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्र

मौसम विभाग की ओर से प्रदेश में बारिश की चेतावनी के चलते डीएम ने स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्र बंद करने के निर्देश जारी किए हैं।

23 जनवरी 2018

Related Videos

ओडिशा के इस ‘दशरथ मांझी’ ने बच्चों के लिए बनाई 8 किमी. लंबी सड़क

ओडिशा के कंधमाल में रहनेवाले जालंधर नायक ने अपने बच्चों के लिए अकेले ही आठ किलोमीटर लंबी सड़क तैयार कर दी। जालंधर के बच्चे इलाके में सड़क न होने की वजह से जंगल के रास्ते स्कूल नहीं जा पाते थे।

15 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper