लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   Business ›   Business Diary ›   The market closed on the red mark for the third consecutive day, Sensex-nifty gets weaker

Sensex Closing Bell: लगातार तीसरे दिन लाल निशान पर बंद हुआ बाजार, सेंसेक्स 208 अंक टूटा, निफ्टी 18642 पर

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: विवेक दास Updated Tue, 06 Dec 2022 04:49 PM IST
सार

Share Market Update: मंगलवार के दिन सेंसेक्स 208 अंकों की गिरावट के साथ 62626 अंकों पर बंद हुआ। मंगलवार के कारोबारी सेशन में आईटी, फार्मा, मीडिया और मेटल सेक्टर के शेयरों में कमजोरी देखने को मिली। वहीं दूसरी ओर, हफ्ते के दूसरे कारोबारी दिन निफ्टी भी 58 अंक टूटकर 18642 अंकों पर बंद हुआ।

शेयर बाजार
शेयर बाजार - फोटो : iStock

विस्तार

भारतीय शेयर बाजार में लगातार तीसरे दिन गिरावट देखने को मिली। इस दौरान सेंसेक्स 208 अंकों की गिरावट के साथ 62626 अंकों पर बंद हुआ। मंगलवार के कारोबारी सेशन में आईटी, फार्मा, मीडिया और मेटल सेक्टर के शेयरों में कमजोरी देखने को मिली। वहीं दूसरी ओर, हफ्ते के दूसरे कारोबारी दिन निफ्टी भी 58 अंक टूटकर 18642 अंकों पर बंद हुआ। बैंक निफ्टी तेजी के साथ 43138 के लेवल पर बंद हुआ। अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 76 पैसे टूटकर 82.61 (अस्थाई) पर बंद हुआ।

क्रेडिट पॉलिसी की घोषणा की पूर्व संध्या पर बाजार में बिकवाली  

RBI Admit Card 2022
RBI Admit Card 2022 - फोटो : Social Media
कोटक सिक्योरिटीज के इक्विटी रिसर्च हेड श्रीकांत चौहान का कहना है कि आरबीआई की क्रेडिट पॉलिसी की घोषणा की पूर्व संध्या पर निवेशकों ने बैंकिंग, ऑटोमोबाइल और रियल्टी सेक्टर के शेयरों बिकवाली की क्योंकि पूरे कारोबारी सेशन में बाजार में मंदी आशंका हावी रही। उनके अनुसार बीते सत्रों में हमने देखा है कि निवेशक किसी महत्वपूर्ण घटना से पहले सतर्क हो जाते हैं और किसी तरह की गड़बड़ी से बचने के लिए कुछ मुनाफावसूली करते हैं। ऐसे में अगर आरबीआई की ओर से की गई दर वृद्धि बाजार की अपेक्षाओं से अधिक होती है, तो निवेशक पैनिक बटन दबा सकते हैं, जिससे बिकवाली का दबाव बढ़ सकता है।

मंगलवार को रुपया कमजोर होकर फिर 82 के पार पहुंचा 

Rupee Vs Dollar
Rupee Vs Dollar
मंगलवार के दिन भारतीय मुद्रा बाजार में भी भारी गतिविधि देखी गई क्योंकि रुपये ने 82 का आंकड़ा पार कर लिया है। ऐसा होने से विदेशी निवेशकों की स्थानीय इक्विटी में अपनी स्थिति की कटौती की चिंता बढ़ गई। वर्तमान में, बाजार 10-दिवसीय एसएमए (सिंपल मूविंग एवरेज) के पास कारोबार कर रहा है, जो निकट भविष्य में ट्रेंड रिवर्सल की प्रबल संभावना का संकेत देता है। कारोबारियों के लिए 18700 के लेवील पर नजर रखना प्रमुख स्तर होगा, क्योंकि इससे ऊपर हम 18800-18850 तक एक नई तेजी देख सकते हैं। दूसरी तरफ बिकवाली का दबाव 18600 का स्तर टूटने के बाद ही संभव है और इससे नीचे सूचकांक 18500-18480 तक फिसल सकता है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और Budget 2022 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

क्षमा करें यह सर्विस उपलब्ध नहीं है कृपया किसी और माध्यम से लॉगिन करने की कोशिश करें

;

Followed

;