बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

US Presidential Debate 2020: कोरोना, आयकर और नस्लीय हिंसा के इर्द-गिर्द रही पहली प्रेसिडेंशियल डिबेट

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, वाशिंगटन Published by: अनवर अंसारी Updated Wed, 30 Sep 2020 09:49 AM IST
विज्ञापन
अमेरिका में पहली प्रेसिडेंशियल डिबेट शुरू
अमेरिका में पहली प्रेसिडेंशियल डिबेट शुरू - फोटो : ANI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
अमेरिका में तीन नवंबर को होने वाले राष्ट्रपति पद के चुनाव को लेकर पहली प्रेसिडेंशियल डिबेट हुई। रिपब्लिकन पार्टी की तरफ से जहां वर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हिस्सा लिया वहीं डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से जो बिडेन मैदान में आए। इस डिबेट के होस्ट अमेरिकी समाचार चैनल फॉक्स न्यूज के 72 वर्षीय न्यूज एंकर क्रिस वॉलेस थे।
विज्ञापन


दोनों ही नेता मंच पर चढ़े, लेकिन एक-दूसरे से हाथ नहीं मिलाया, ऐसा कोरोना प्रतिबंधों को ध्यान में रखते हुए किया गया। ट्रंप और बिडेन 90 मिनट तक चलने वाली इस बहस के लिए पूरी तैयारी के साथ आए। बिडेन ने ट्रंप को अपने आयकर रिटर्न को सार्वजनिक करने के लिए कहा। उन्होंने कहा, ट्रंप ने अरबपति होने के बावजूद सालों से कर नहीं चुकाया है। 






बिडेन ने ट्रंप पर आरोप लगाया कि वह रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के हाथों की कठपुतली हैं। उन्होंने कहा कि ट्रंप की खराब नीतियों की वजह से देश में कोरोना वायरस का प्रभाव इतना ज्यादा बढ़ा। साथ ही अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर ट्रंप को घेरा।

ट्रंप ने कोरोना वायरस से दुनियाभर में हो रही मौतों को लेकर भारत पर बड़ा आरोप लगाया। बिडेन के एक सवाल का जवाब देते हुए ट्रंप ने कहा कि भारत, रूस और चीन ने कोरोना मृतकों का सही आंकड़ा नहीं दिया है। 

प्रेसिडेंशियल डिबेट के दौरान ट्रंप ने सुप्रीम कोर्ट की जज की नियुक्ति को लेकर हो रहे बवाल पर कहा कि हमने चुनाव जीता है, इसलिए हमें इस बात का अधिकार प्राप्त है कि हम जज एमी कोनी बैरेट को सुप्रीम कोर्ट का जज नियुक्त करें। 

वहीं, इस पर डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बिडेन ने कहा, मैं न्याय का विरोध नहीं कर रहा हूं। दोनों ही नेताओं के बीच इस डिबेट में तीखी बहस भी देखने को मिली। क्लीवलैंड में 90 मिनट तक चलने वाली यह बहस भारतीय समयानुसार बुधवार की सुबह करीब 6:30 बजे शुरू हुई। 

जज बैरेट के नामांकन पर ट्रंप और बिडेन में हुई बहस
डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि उन्हें दिवंगत उच्चतम न्यायालय की न्यायमूर्ति रूथ बदर गिंसबर्ग की जगह किसी दूसरे न्यायमूर्ति को चुनने का अधिकार है, जबकि पूर्व उपराष्ट्रपति जो बिडेन ने आरोप लगाया कि राष्ट्रपति ने जिन्हें चुना है उनकी उम्मीदवारी लाखों लोगों के लिए स्वास्थ्य कवरेज को समाप्त कर देगी। 

प्रेसिडेंशियल डिबेट के दौरान ट्रंप ने सुप्रीम कोर्ट के न्यायमूर्ति की नियुक्ति को लेकर हो रहे बवाल पर कहा कि हमने चुनाव जीता है, इसलिए हमें इस बात का अधिकार प्राप्त है कि हम न्यायमूर्ति एमी कोनी बैरेट को सुप्रीम कोर्ट का जज नियुक्त करें।  

ओबामाकेयर पर हुई बहस
ओबामाकेयर को लेकर ट्रंप और बिडेन दोनों के बीच खासा बहस हुई। ट्रंप ने कहा कि आप इस योजना को कितने भी बेहतर तरीके से लागू करें, ओबामाकेयर एक आपदा है। कितना भी बेहतर तरीके से इस योजना को लागू किया जाए, इससे किसी को फायदा नहीं होता है। 
विज्ञापन
आगे पढ़ें

जो बिडेन ने कहा, सब जानते हैं कि ट्रंप झूठे हैं

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us