कन्‍या राश‌ि

कन्या राशि के व्यक्ति का स्वभाव और व्यक्तित्व जानिए

राशि चक्र का छठवां चिह्न कन्या हैं। ये बहुत मेहनती होते हैं। इन्हे कार्य करने और उसका प्रबंधन करने में मजा आता हैं। ये अक्सर मजाक का कारण बनते हैं अपनी मीन मेख निकालने की आदत और समीक्षात्मक होने के कारण| लेकिन ये किसी भी बात का बुरा नहीं मानते हैं और अपना ध्यान दूसरों की मदद पर लगा कर रखते हैं और ये नहीं सोचते हैं कि लोग उनके बारे में क्या सोच रहे हैं।

मेहनती और व्यवस्थित, कन्या राशि के जातक प्रत्येक कार्य की निगरानी खुद रखना चाहते हैं। ये कुशल और व्यावहारिक व्यक्ति अपने कार्यस्थल के बहुत अच्छे कर्मचारी साबित होते हैं। क्योंकि इनकी नजर से कुछ भी चुकता नहीं हैं। इनके आस पास रहने से कर्तव्यपरायणता अपने आप वातावरण में फैल जाती हैं।

संतुलित और निष्पक्ष कन्या राशि के लोग अनावश्यक रुप से भावनाओं में नहीं बहते हैं चाहे कैसी भी स्थिति सामने आए ये अपने आप को शांत रखने में कामयाब रहते हैं।लेकिन यदि सर्वश्रेष्ठ प्रयासों के बावजूद काम में सफलता नहीं मिलती हैं तो ये टूट जाते हैं।

अपने कार्य में अति सावधान कन्या राशि के जातक शांत, सुव्यवस्थित और अपने आप में रहने वाले होते हैं। हालांकि, ये शायद ही कभी चुनौतियों को स्वीकारने से दूर भागते हैं बल्कि कड़ी मेहनत और शांत संकल्प के साथ अपनी क्षमताएं साबित करके दिखाते हैं।

और ये अपनी पूर्णता और छोटी से छोटी चीज का ध्यान रखकर सफलता हासिल करते हैं। ये संयमहीन नहीं होते हैं हालांकि,ये ईमानदार और स्पष्टवादी प्राणी झगड़े और बहस में तब पड़ते हैं जब कोई इनका विरोध करता हैं। शायद यही वजह है कि अंत में इनके कई दुश्मन बन जाते हैं।

द्रुतगामी और ऊर्जा के स्त्रोत शारीरिक और मानसिक दोनो रूप से, कन्या जातक तेज दिमाग वाले होते हैं, शायद यही वजह है कि ये बहुत कुछ कर पाते हैं। ये अच्छे वार्ताकार होते हैं और अधिकतम लाभ लेने के लिए अपनी मानसिक तीक्ष्णता का उपयोग करते हैं। कई बार इन्हे संदेह में पड़ने का भी खतरा हो सकता हैं। ये मेहनती और सावधानी से विश्लेषण करने वाले होते हैं। लेकिन, पूर्णता का इनका आग्रह कई बार इनकी स्पष्ट सोच के रास्ते में आ जाता हैं।

ये बुनियाद पर विश्वास करने वाले होते हैं और विनम्र और सहज भी होते हैं। ये भौतिक संपत्ति का भी आनंद लेते हैं। इनकी सबसे बड़ी ताकत इनकी व्यावहारिकता, तेज दिमाग और सेवा करने की इच्छा होती हैं। ये उत्कृष्ट संवेदनशील और विश्लेषणात्मक होते हैं। ये घबराहट की वजह से अक्सर विषाद का शिकार हो जाते हैं। इनमें से कईयों को मनोवैज्ञानिक समस्याओं का सामना करना पड़ता हैं। ये जन्मजात चिन्ता करने वाले माने जाते हैं।

हमेशा पूर्णता की चाहत रखने वाले कन्या राशि के लोग अगर कुछ कमी रह जाए तो आसानी से निराश हो जाते हैं। अगर कुछ भी कम दिए गए, और इन्हे दुख इस बात का होता हैं कि ये दूसरों की कमजोरी की अनदेखी नहीं कर सकते हैं। अपने घर और आसपास की स्वच्छता के बारे में इनका जुनून इनके साथी को क्रुद्ध कर सकता हैं। जो कन्या जातक के मानकों पर खरे नहीं उतर पाते हैं।

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen