विज्ञापन
Home ›   Video ›   Specials ›   Special report on Eminent hindi poet Kedarnath singh

‘जाने’ को खौफनाक क्रिया बताने वाला कवि चला गया

वीडियो डेस्क, अमर उजाला टीवी/ नई दिल्ली Updated Wed, 21 Mar 2018 11:06 PM IST

हिन्दी की समकालीन कविता और आलोचना के सशक्त हस्ताक्षर कवि डॉ. केदारनाथ सिंह का बीते दिनों निधन हो गया। वे 84 वर्ष के थे। बलिया में जन्में केदारनाथ सिंह हिंदी कविता में नए बिंबों के प्रयोग के लिए जाने जाते हैं। उनके निधन से हिंदी साहित्य की दुनिया में शोक की लहर है। 

विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00