Hindi News ›   Uttarakhand ›   Rishikesh ›   Thousands of people bathed on Somvati Amavasya

सोमवती अमावस्या पर सैकड़ों लोगों ने त्रिवेणीघाट पर किया गंगा स्नान

Dehradun Bureau देहरादून ब्यूरो
Updated Tue, 13 Apr 2021 12:46 AM IST
सोमवती अमावस्या के शाही स्नान के अवसर पर कृष्ण कुंज आश्रम से त्रिवेणी घाट तक कलश यात्रा निकालती म
सोमवती अमावस्या के शाही स्नान के अवसर पर कृष्ण कुंज आश्रम से त्रिवेणी घाट तक कलश यात्रा निकालती म - फोटो : RISHIKESH
विज्ञापन
ख़बर सुनें
ऋषिकेश। सोमवती अमावस्या के पर्व पर त्रिवेणी घाट पर सुबह से शाम तक लोग गंगा स्नान के लिए उमड़े। कुंभ मेला प्रशासन की ओर से घाटों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। डोलियों ने भी त्रिवेेणी घाट पहुंचकर स्नान किया। वहीं कलश यात्रा भी निकाली गई।
विज्ञापन

तड़के चार बजे से ही त्रिवेणीघाट पर श्रद्धालु गंगा स्नान के लिए पहुंचने लगे थे। 10 बजे तक स्नान करने वालों की भीड़ लगी थी। त्रिवेणी घाट से नाव घाट तक गंगा स्नान करने के लिए लोगों की भीड़ लगी रही। वहीं अर्द्धसैनिक बल के जवान, कुंभ पुलिस और जल पुलिस के जवान भी तैनात रहे। मुखर्जी चौक और त्रिवेणीघाट चौक के कट को बंद कर दिया गया था। हालांकि इससे लोगों को परेशानी भी हुई। पार्किंग की उचित व्यवस्था न होने के कारण कई लोगों को बैरंग भी लौटना पड़ा।

वहीं, नगर निगम की टीम भी सुबह से ही तिह्रवेणीघाट पर डटी थी। नगर निगम के तीनों सफाई निरीक्षक दिनभर त्रिवेणीघाट पर डटे रहे। वहीं भद्रकाली, केदारपुर देहरादून और चौदहबीघा से भी देव डोली त्रिवेणीघाट पहुंचीं। डोलियों को स्नान कराने के बाद गंगा तट पर मंडाण और देव स्तुति गाई गई, इस दौरान के कई महिलाओं पर देवी अवतरित भी हुई। इस दौरान मौके पर उपस्थित लोगों ने डोली पर पैसे चढ़ाकर मन्नत मांगी। उसके बाद डेलियां वापस चली गई।
श्रीकृष्ण कुंज के भक्तों ने निकाली कलश यात्रा
ऋषिकेश। जगद्गुरु स्वामी कृष्णाचार्य महाराज के सानिध्य में श्रीकृष्ण कुंज के भक्तों की ओर से भगवान वेणुगोपाल की विधि विधान से पूजा कर शोभायात्रा निकाली गई। इस शोभायात्रा का शुभारंभ किया। त्रिवेणी घाट पर गंगा के पावन तट पर भरत मंदिर के महंत वत्सल प्रपन्नाचार्य और हर्षवर्धन शर्मा ने 108 रजत कलश की पूजा अर्चना की। कृष्ण कुंज के सचिव स्वामी गोपालाचार्य महाराज ने पंचामृत से भरे हुए रजत कलशों से जगद्गुरु कृष्णाचार्य का अभिषेक किया। इस अवसर पर मेयर अनिता ममगाईं, रमावल्लभ भट्ट, देवेंद्र कौशिक, राजेश पांडेय, गुरविंदर सलूजा, पंडित रवि शास्त्री, पंकज शर्मा कपिलाचार्य, मनीष बनवाल, अभिषेक शर्मा, रामहृदय, शिवकुमार,संजय दीक्षित, लक्ष्मीनारायण, भीम दास आदि मौजूद थे।
वृक्ष दान और ध्यान का विशेष महत्व: स्वामी चिदानंद
ऋषिकेश। महापर्व कुंभ के पावन अवसर पर सोमवती अमावस्या के शाही स्नान तिथि पर परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती और विख्यात श्री राम कथाकार संत मुरलीधर ने प्रात:काल परमार्थ गंगा तट पर वेद मंत्रों के साथ स्नान कर मां गंगा और भगवान सूर्य का पूजन किया। इस अवसर पर स्वामी चिदानंद ने कहा कि सनातन धर्म में सोमवती अमावस्या का बड़ा महत्व है। अमावस्या तिथि के दिन सूर्य और चंद्रमा एक ही राशि में होते हैं। जहां सूर्य आग्नेय तत्व को दर्शाता है तो वहीं चंद्रमा शीतलता का प्रतीक है। सूर्य के प्रभाव में आकर चंद्रमा का प्रभाव शून्य हो जाता है।
नववर्ष विक्रम संवत की शुभकामनाएं
ऋषिकेश। विधान सभा अध्यक्ष प्रेम चन्द अग्रवाल ने नववर्ष विक्रम संवत 2078 और चैत्र नवरात्रि के शुभारंभ के अवसर पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कहा है कि नव वर्ष हम सब के जीवन में सुख, समृद्धि और शांति लाए। अग्रवाल ने नवरात्रों के शुभारंभ अवसर पर देशभर में कोरोना की समाप्ति के लिए भगवान से प्रार्थना की है।
कुंभ पैकेज के साथ लगाएं
विस अध्यक्ष ने सपरिवार गंगा में डुबकी लगाई
अमर उजाला ब्यूरो
ऋषिकेश। महाकुंभ में सोमवती, चैत्र अमावस्या के शाही स्नान पर विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने सपरिवार हरकी पैड़ी पर गंगा में आस्था की डुबकी लगाई। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने गंगा मैया से प्रदेश वासियों के सुख-समृद्धि की कामना करते हुए सभी के स्वस्थ जीवन की कामना की है। इससे पूर्व विधानसभा अध्यक्ष ने जूना अखाड़ा, निरंजनी अखाड़ा, श्री पंचायती बड़ा उदासीन अखाड़ा, श्री पंचायती नया उदासी अखाड़ा सहित विभिन्न अखाड़ों में पहुंचकर महामंडलेश्वरों से आशीर्वाद प्राप्त किया। कुंभ स्नान के बाद विधानसभा अध्यक्ष ने शाही अखाड़ों की पेशवाई के भी दर्शन किए। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष की धर्मपत्नी शशि प्रभा अग्रवाल, सुपुत्र पीयूष अग्रवाल, सुपुत्री निमिका गर्ग, ऋषभ गर्ग सहित अन्य लोग मौजूद थे।

सोमवती अमावस्या में शाही स्नान के लिए त्रिवेणी घाट पहुंचे संत समाज।

सोमवती अमावस्या में शाही स्नान के लिए त्रिवेणी घाट पहुंचे संत समाज।- फोटो : RISHIKESH

  त्रिवेणी घाट में सोमवती अमावस्या पर गंगा में डुबकी लगाते श्रद्धालु।

त्रिवेणी घाट में सोमवती अमावस्या पर गंगा में डुबकी लगाते श्रद्धालु।- फोटो : RISHIKESH

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00