बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

एशियन गेम्स स्वर्ण विजेता अजय ठाकुर पर लगा प्रतिबंध, नाडा से ऐसी सजा भुगतने वाले पहले एथलीट

हेमंत रस्तोगी, नई दिल्ली Published by: अंशुल तलमले Updated Fri, 09 Apr 2021 10:40 AM IST

सार

कबड्डी टीम के कप्तान ने तीन नोटिस के बावजूद नहीं बताया पता...पहली बार खिलाड़ी पर टेस्टिंग के लिए अपना पता नहीं बताने पर लगाया अस्थाई प्रतिबंध..वाडा के नियम 2.4 के तहत 12 माह के समय में तीन नोटिस का जवाब नहीं देने पर खिलाड़ी को एंटी डोपिंग नियमों का उल्लंघन करने वाला माना जाता है...
विज्ञापन
Former Kabaddi captain Ajay Thakur suspended for whereabouts failure by NADA
- फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें

विस्तार

विश्व चैंपियनशिप और 2014 के इंचियोन एशियाई खेलों का स्वर्ण जीतने वाली भारतीय कबड्डी टीम के सदस्य नामी खिलाड़ी अजय ठाकुर को नाडा ने अस्थाई रूप से प्रतिबंधित कर दिया है। पूर्व कप्तान और अर्जुन अवार्डी को व्हेयर अबाउट (टेस्टिंग के लिए अपना पता) नहीं देने पर एंटी डोपिंग गतिविधियों का आरोपी माना गया। व्हेयर अबाउट के लिए नाडा की ओर से तीन नोटिस का जवाब नहीं देने पर उनका मिस टेस्ट घोषित किया गया है। यह पहली बार है जब नाडा ने बड़े खिलाड़ी को मिस टेस्ट के लिए अस्थाई रूप से प्रतिबंधित किया है। उन पर 19 मार्च से प्रतिबंध लगा है। एंटी डोपिंग सुनवाई पैनल के समक्ष अगर अजय अपनी बेगुनाही साबित नहीं कर पाए तो उन पर दो साल का प्रतिबंध लग सकता है। ऐसे में अगले वर्ष होने वाले एशियाई खेलों में वह नहीं खेल पाएंगे। 
विज्ञापन


साल में चार बार टेस्टिंग के लिए बताना होता है पता
नाडा ने अजय को अपने रजिस्टर्ड टेस्टिंग पूल (आरटीपी) में शामिल कर रखा है। आरटीपी में शामिल होने वाले खिलाडिय़ों को साल में चार बार (तीन माह का एक क्वार्टर पर) अपना व्हेयर अबाउट देना पड़ता है। एक क्वार्टर में पता नहीं देने पर एक नोटिस जाता है। साल में ऐसे तीन नोटिस का जवाब नहीं देने पर वाडा के नियम 2.4 के तहत खिलाड़ी का मिस टेस्ट घोषित कर दिया जाता है, जिसके तहत दो साल के प्रतिबंध का प्रावधान है। नाडा ने व्हेयर अबाउट नहीं भेजने पर कड़ा रुख अपना रखा है।


क्रिकेटर्स को भी मिला था नोटिस
बीते वर्ष उसने पांच क्रिकेटरों समेत 42 खिलाड़ियों को अपना व्हेयर अबाउट नहीं देने पर पहला नोटिस भेजा था। जिस पर काफी हंगामा हुआ था। इस साल अंतरराष्ट्रीय स्तर पर व्हेयर अबाउट नहीं देने पर लंबी कूद में ओलंपिक का रजत जीतने वाले दक्षिण अफ्रीकी लूवो मोनयांगो और जकार्ता एशियाई खेलों में 400 मीटर की स्वर्ण पदक विजेता बहरीन की सलवा ईद नासेर पर अस्थाई प्रतिबंध लग चुका है।नाडा महानिदेशक नवीन अग्रवाल का कहना है कि उनकी ओर से सुनिश्चत किया जा रहा है कि आरटीपी में शामिल खिलाड़ी अपना व्हेयर अबाउट निश्चित समय पर उपलब्ध कराएं, जिससे उनकी आउट ऑफ कंपटीशन टेस्टिंग बिना नोटिस के कभी भी कराई जा सके। व्हेयर अबाउट नहीं देने पर नोटिस भेजा जाता है जिसमें वह इसका कारण स्पष्ट कर सकें।

एशियाई यूथ चैंपियन रेस वॉकर समेत चार डोप में फंसे
नाडा ने चार अन्य खिलाडिय़ों को प्रतिबंधित दवाओं के सेवन के लिए अस्थाई रूप से प्रतिबंधित किया है। इनमें एशियाई यूथ चैंपियन रेस वॉकर विश्वेंदर सिंह भी शामिल हैं। रांची में हुई राष्ट्रीय पदचालन चैंपियनशिप में अंडर-20 10 किलोमीटर पदचाल में स्वर्ण जीतने वाले विश्वेंदर यहां डोप पॉजिटिव पाए गए। ओलंपिक क्वालिफायर एशियाई चैंपियनशिप में खेलने से रोकी गईं वेटलिफ्टर राखी हलदर, राष्ट्रीय चैंपियनशिप में ग्रीको रोमन के 60 किलो भार में स्वर्ण जीतने वाले मनीष कुंडू और पद चालक अनिल विश्वकर्मा अस्थाई रूप से प्रतिबंधित होने वाले अन्य खिलाड़ी हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Sports news in Hindi related to live update of Sports News, live scores and more cricket news etc. Stay updated with us for all breaking news from Sports and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X