विज्ञापन
विज्ञापन

रोजमर्रा के जीवन में हो आध्यात्मः श्री श्री रविशंकर

नई दिल्ली/इंटरनेट डेस्क। Updated Tue, 11 Dec 2012 10:47 AM IST
sprituality in daily life sri sri ravi shankar
ख़बर सुनें
आध्यात्म की आवश्यकता रोज़मर्रा की ज़िंदगी में ही सबसे अधिक है। हिमालय की कंदराओं में बैठने वालों को आध्यात्म की कोई ज़रूरत नहीं है। जो बाज़ार में जाएगा उसे ही तो पैसे की ज़रूरत पड़ेगी। मरुभूमि में पैसे ले जाने की ज़रूरत है। रोज़मर्रा की जिंदगी में तरह-तरह के लोगों से मिलना पड़ता है। ज़िम्मेदारियाँ उठानी पड़ती हैं। ऐसे में आध्यात्म का बल बहुत ज़रूरी है।
विज्ञापन
अध्यात्म के बिना व्यक्ति टूट जाता है। आध्यात्म के बिना धर्म नहीं रह जाता इसलिए व्यक्ति के लिए अध्यात्म जरूरी है। समाज में परिस्थितियों का सामना करने के लिए अध्यात्म अनुकूलन क्षमता देता है। आध्यात्म से जीवन आसान हो जाता है। समाज में समरसता बनाए रखने के लिए भी अध्यात्म की आवश्यकता है।

आध्यात्म व्यक्ति को संसार की परिस्थितियों से जीत दिलाता है और जीवन के अंतिम लक्ष्य तक पहुंचा देता है। रोजमर्रा की जरूरत में आध्यात्म के प्रयोग के लिए थोड़ा सीखना पड़ता है। इसके लिए योग, ध्यान और प्रायाणाम करना पड़ता है। सत्संग और भजन करें, योग वशिष्ठ, अष्टावक्र गीता, भगवद् गीता और महात्मा बुद्ध की वाणी पढ़ें, इससे काफ़ी ज्ञान मिलता है और अध्यात्मिक सुख भी प्राप्त होता है।

श्री श्री रविशंकरपरिचय
मानवीय मूल्य्वादी, शांतिदूत और आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रवि शंकर, का जन्म 13 मई 1956 को तमिलनाडु के पापानासम में हुआ था। इनके पिता आरएसवी रत्नम ने इनकी आध्यात्मिक रुचि को देखते हुए इन्हें महर्षि महेश योगी के सान्निध्य में भेज दिया। महर्षि के अनेकों शिष्यों में से रवि उनके सबसे प्रिय थे। 1982 में रवि शंकर दस दिन के मौन में चले गए। कुछ लोगों का मानना है कि इस दौरान वे परम ज्ञाता हो गए और उन्होंने सुदर्शन क्रिया (श्वास लेने की तकनीक) की खोज की।
विज्ञापन

Recommended

बनाएं डिजिटल मीडिया में करियर, कोर्स के बाद प्लेसमेंट का भी मौका
TAMS

बनाएं डिजिटल मीडिया में करियर, कोर्स के बाद प्लेसमेंट का भी मौका

अपनी संतान की लंबी आयु के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में संतान गोपाल पाठ और हवन करवाएं - 24 अगस्त 2019
Astrology Services

अपनी संतान की लंबी आयु के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में संतान गोपाल पाठ और हवन करवाएं - 24 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वशनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें आस्था समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। आस्था जगत की अन्य खबरें जैसे पॉज़िटिव लाइफ़ फैक्ट्स, परामनोविज्ञान समाचार, स्वस्थ्य संबंधी योग समाचार, सभी धर्म और त्योहार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Religion

जब राधा ने श्रीकृष्ण से कहा मत छूना मुझे...

एक बार श्री कृष्ण ने ऐसा काम किया कि राधा संग समस्त गोपियां कृष्ण से दूर-दूर रहने लगी। राधा ने कृष्ण से यह भी कहा कि मत छूना मुझे।

14 अगस्त 2019

विज्ञापन

राम मंदिर में सोने की ईंट लगवाएगा ये मुगल वंशज !

खुद को मुगल साम्राज्य के अंतिम शासक बहादुर शाह जफर का वंशज बताने वाले राजकुमार याकूब हबीबुद्दीन तुसी ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए सोने की ईंट दान देने का प्रस्ताव दिया है।

19 अगस्त 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree