लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Diwali 2020: भूलकर भी अपनों को न दें इस तरह के उपहार, माने जाते हैं अशुभ

लाइफस्टाइल डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: तेजस्वी मेहता Updated Sat, 14 Nov 2020 02:01 AM IST
प्रतीकात्मक तस्वीर
1 of 5
विज्ञापन
दिवाली पर जब आप अपने दोस्तों , रिश्तेदारों और मिलने-जुलने वालों को तोहफा देते हैं तो ऐसे ही कोई भी उपहार नहीं दे सकते । जिस प्रकार दिवाली पर दूसरे को उपहार स्वरुप देने के लिए हम शुभ चिह्नों का चयन करते हैं, उसी प्रकार कई सारी वस्तुएं ऐसी भी हैं जिन्हें दिवाली पर अपनों को देना अशुभ माना जाता है। यहां तक कि यह भी कहा जाता है कि यदि इन वस्तुओं को तोहफे के रुप में दिया तो देने वाले का भी नुकसान हो सकता है। इसलिए बहुत जरूरी है कि यदि आप दिवाली पर दूसरों को देने के लिए उपहार खरीदने जा रहे हैं तो एक बार इन स्लाइड्स को जरूर देखें ताकि आप भी जान सकें कि किन तोहफों को देना माना जाता है अशुभ।
 
 
 
 
प्रतीकात्मक तस्वीर
2 of 5
लक्ष्मी जी
दिवाली पर जहां लक्ष्मी पूजन से शुभ कुछ भी नहीं माना जाता है वहीं किसी अन्य व्यक्ति को देवी कमला की मूर्ति या तस्वीर भेंट करने से अशुभ भी कुछ भी नहीं माना जाता है। कहा जाता है कि लक्ष्मी जी की मूर्ति को मनुष्य को खुद से ही खरीदना चाहिए। यदि हम किसी को ये तोहफा देते हैं तो साथ में हम हमारे घर की लक्ष्मी अर्थात यश, समृद्धि भी सामने वाले व्यक्ति को दे देते हैं।
विज्ञापन
प्रतीकात्मक तस्वीर
3 of 5
काले रंग का तोहफा
दिवाली के दिन काले रंग का कोई भी तोहफा देना बहुत अशुभ माना गया है। कहा जाता है कि ऐसा करने से उपहार स्वीकार करने वाले के जीवन में नकारात्मकता छाती है। यदि उपहार में कोई वस्त्र भेंट करना है तो किसी अच्छे रंग का चयन करें। गिफ्ट को पैक करने के लिए भी काले रंग का पेपर उपयोग में नहीं लेना चाहिए। इलेक्ट्रॉनिक आइटम जरूर काले रंग में भेंट की जा सकती है।
प्रतीकात्मक तस्वीर
4 of 5
घड़ी
दिवाली के दिनों में घड़ी को उपहारस्वरुप देना भी अशुभ माना गया है। ऐसा कहा जाता है कि यदि हम किसी को घड़ी तोहफे के रुप में देते हैं तो साथ ही में हम अपना वक्त भी उसे दे देते हैं। यदि हमारा समय अच्छा चल रहा है तो सामने वाले को अच्छा वक्त मिल जाता है और यदि संकट का समय है तो सामने वाला भी परेशानियों से जुझता है इसलिए घड़ी को उपहार में बिल्कुल नहीं देना चाहिए।
विज्ञापन
विज्ञापन
leather bag
5 of 5
चमड़े का तोहफा
चमड़े का तोहफा देना भी हिंदु धर्म में अच्छा नहीं माना गया है खासकर दिवाली पर तो बिल्कुल भी नहीं। चमड़े के बेल्ट, जैकेट, बैग इत्यादि कभी किसी को दिवाली के समय तो उपहार में न दें। जूते तो चमड़े के ही क्या किसी भी प्रकार के नहीं देना चाहिए और यदि चमड़े का कोई उपहार देना जरूरी ही है तो साथ में मिठाई जरूर से देंवे।
 
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें  लाइफ़ स्टाइल से संबंधित समाचार (Lifestyle News in Hindi), लाइफ़स्टाइल जगत (Lifestyle section) की अन्य खबरें जैसे हेल्थ एंड फिटनेस न्यूज़ (Health  and fitness news), लाइव फैशन न्यूज़, (live fashion news) लेटेस्ट फूड न्यूज़ इन हिंदी, (latest food news) रिलेशनशिप न्यूज़ (relationship news in Hindi) और यात्रा (travel news in Hindi)  आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़ (Hindi News)।  

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|

विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00