विज्ञापन

अब आधुनिक जीवन शैली की वजह से आम नेत्र समस्याओं को अलविदा कहें

हेल्थ डेस्क, अमर उजाला Updated Wed, 21 Feb 2018 12:30 PM IST
फाइल फोटो
फाइल फोटो
ख़बर सुनें
आज लाखों लोग कंप्यूटर, टैबलेट और स्मार्ट फोन को अपनी रोज़मर्रा की जरुरत के आधार पर उपयोग करते हैं। कंप्यूटर स्क्रीन की चमक एवं ज्यादा इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के प्रयोग के कारण व्यापक रूप से आंखों में असुविधा पैदा हो सकती है – थकान , धुंधली दृष्टि, सिरदर्द , सूखी आँखें और आइस्ट्रेन जैसे कई अन्य लक्षण भी आँखों को तकलीफ दे सकते हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन
लगभग 80% कंप्यूटर और लैपटॉप डिवाइस उपयोगकर्ताओं को कईं तरह से आंखों की समस्या का अनुभव होता है , जैसे कम या धुंधली दृष्टि, आँखों में जलन , रोशनी से संवेदनशीलता , आंखों में सूजन, सूखी आंखें, और सिरदर्द । कंप्यूटर से उत्पन्न होने कि वजह से इसका  नाम  दिया है: कंप्यूटर विजन सिंड्रोम (सीवीएस)। सीवीएस कई लक्षणों के साथ आता है , डॉक्टरों ने स्क्रीन-प्रेरित असुविधा  से होने वाली आँखों की समस्या के लिए इसका आसान नाम रखा है: "कंप्यूटर विजन सिंड्रोम" आपके कंप्यूटर स्क्रीन के करीब बैठने (एवं चेहरे के बहुत ही करीब अपना सेल फोन से बात करना) से भी कुछ दृष्टि समस्याएं हो सकती हैं।

जैसे-जैसे मौसम बदल रहा है  सूखी सर्दियों के दिन आ रहे हैं , एवं धीरे धीरे गर्मी आएगी - आंखों की समस्याएं बढ़ती जाएगी। इससे आँखों में सूखेपन, जलन, लालिमा और एलर्जी की स्थिति होने लगेगी। आँखों में  यह समस्याएं शहरी क्षेत्रों में अधिक स्पष्ट है। इसका मूल कारण है हवा में उच्च स्तर में प्रदूषण  का होना जिसकी वजह से आँखों में जलन, रस्सा निर्वहन, खुजली, किरकिरी एवं उत्तेजना, आदि बढ़ जाती है और उस कारण देखने में कठिनाई होती है। हमारी आँखें प्रदूषण  और धूल के प्रति संवेदनशील हैं जो हवा में मौजूद हैं। कृषि कचरे , खनन, बिजली उत्पादन, परिवहन एवं वाहनों के धुएं, जो हवा में  हानिकारक प्रदूषण  निकालने का प्रमुख स्रोत माना जा सकता है, आँखों में जलन जैसे लक्षण से गंभीर एलर्जी  हो सकती है ।    

अक्सर आँखों की समस्या हर किसी में अलग अलग होती है जैसे किसी में सूखी आंखों की तकलीफ, तो कोई आंखों की धुंध, जलन या डंकने लगने जैसी तकलीफ से परेशान है। प्रत्येक व्यक्ति अलग-अलग समस्याओं से पीड़ित है। आज के दौर में हर कोई कंप्यूटर, टैबलेट और स्मार्ट फ़ोन पर दैनिक आधार पर कम से कम 8 से 10 घंटे बिताता है। अगर आपकी आँखों में किसी भी प्रकार कि तकलीफ हो तो "हैसलैब ममीरा  आइड्रॉप" का प्रयोग सबसे सुरक्षित उपचार है, क्योंकि ये एक होमियोपैथी की दवा है जो पूरी तरह से जाँचा एवं परखा हुआ है। "हैसलैब ममीरा  आइड्रॉप" बहुत प्रभावी है और  इसका प्रमाण कई लोगों ने दिया है। इसकी सबसे महत्वपूर्ण बात यह है की यह एक विश्वसनीय और सुरक्षित उत्पाद है जिसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है। 

Haslab Mamira eyedrop

हैसलैब ममीरा  आइड्रॉप के बारे में अधिक जानकारी नीचे दी गयी है:

कम्पोजीशन : Acidum Boracicum , Natrum Muraticum, Natrum Sulphuricum, Camphora, Euphrasia Officialis , Mamira : Coptis Teeta, Berberine

खुराक: Instill 1-2 drops in both eyes 2 to 3 times a day, allowing the tears to irrigate the entire eye by closing & opening the eyelids simultaneously.

रोग: Acute or chronic conjunctivitis

लक्षण: Acute or chronic conjunctivitis. Discharge – acrid, profuse, muco-purulent, stringy.Photophobia. Dull pain with burning. Blurring vision releived by winking. Oedma and bulging of lids from pus beneath or from sub conjunctival tissues. Styes, inflammation of meibomian glands.Conjunctiva – inflamed, red bloodshot, granulated. Pterygium (adventitious growth on ocular conjunctiva.) Keratitis, pannus. Asthenopia, inability to maintain the adjustment of the eye muscles.
 

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all health tips in Hindi yoga tips in hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news from lifestyle and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Yoga and Health

मरीजों को बाहर की दवा लिख रहे चिकित्सक

जिला अस्पताल में चिकित्सकों को बाहर की दवा लिखने की मनाही होने के बाद भी कुछ चिकित्सक बाहर की मंहगी दवाएं मरीजों के पर्चे पर लिख रहे हैं।

30 नवंबर 2018

विज्ञापन

इन बीमारियों का संकेत होता है सिर दर्द, ले सकता है आपकी जान

इन बीमारियों का संकेत होता है सिर दर्द, ले सकता है आपकी जान

11 दिसंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election