विज्ञापन

शिक्षिका की हत्या कर पांच किमी तक कटा सिर लेकर दौड़ता रहा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जमशेदपुर Updated Wed, 04 Jul 2018 05:37 AM IST
after killed the teacher he ran for five km with chopped head
विज्ञापन
ख़बर सुनें
दिमागी तौर पर अस्वस्थ युवक ने एक शिक्षिका की उसके स्कूल के पास ही सिर काटकर हत्या कर दी। वारदात के बाद वह तलवार और कटा सिर लेकर भागा। इस बीच भीड़ ने उस पर पत्थर बरसाए। सूचना पर पहुंची पुलिस किसी प्रकार लोगों के गुस्से से बचाकर उसे थाने ले आई। भीड़ से बचाने के चक्कर में सरायकेला थाना प्रभारी रणविजय सिंह समेत चार पुलिसकर्मी घायल हो गए।
विज्ञापन
 
सरायकेला खारसवान जिले में खपरासय प्राइमरी स्कूल में मिड डे मील वितरण के बाद युवक हरि हेमब्रम (26) ने स्कूल की शिक्षिका सुक्रा हेसा (30) को दबोचा और घसीटते हुए पास में अपने घर ले गया जहां वह अकेला रहता है। वहां उसने तलवार से उसका सिर काट दिया।

सूचना पर पुलिस पहुंची तो वह शिक्षिका का कटा सिर और दो तलवारें लिए खड़ा था और भीड़ ने उसे घेर रखा था। लोग डर के मारे उसके पास जाने से डर रहे थे। अचानक वह जंगल की ओर भागा तो लोगों ने उस पर पत्थर बरसाने शुरू कर दिए। पुलिस ने घेराबंदी कर जंगल में उसे दबोच लिया।

इस पर भीड़ उसे पीटने लगी। किसी तरह पुलिसवाले उसे बचाकर थाने ले गए। इस दौरान एसओ समेत चार पुलिसवाले जख्मी हो गए। आरोपी को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां से उसे एमजीएम अस्पताल जमशेदपुर ले जाया गया। 

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all crime news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Jharkhand

झारखंड : गैंगरेप और गुप्तांग में डंडा डाले जाने के बाद महिला की मौत

झारखंड के जामताड़ा जिले में एक महिला के साथ उसके पूर्व पति ने अपने दो दोस्तों के साथ मिलकर कथित तौर पर दुष्कर्म किया और महिला के गुप्तांग में लकड़ी का डंडा डाल दिया, जिसके बाद तड़प कर उसकी मौत हो गयी।

9 नवंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

पढ़ाई करने के लिए बच्चों ने उठाए तीर-कमान, नक्सलियों से ले रहे लोहा!

आपको झारखंड की एक तस्वीर दिखाते हैं जहां नक्सल प्रभावित क्षेत्र सिंहभूम में बच्चों ने अपने हाथों में तीर-कमान उठा लिए हैं। इन बच्चों का इरादा किसी को नुकसान पहुंचाना नहीं बल्कि खुद को नक्सलियों से बचाने और पढ़ाई करने का है।

12 नवंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree