विज्ञापन
विज्ञापन

इंग्लैंड में भारतीय संस्कृति का परचम लहराएंगे भागवत, रहेंगे तंबू में

ब्यूरो/ अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Mon, 27 Jun 2016 10:01 PM IST
rashtriya swayamsevak sangh chief mohan Bhagwat will be in england in last of july 2016
- फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें
 प्रधानमंत्री मोदी के बाद अब संघ प्रमुख मोहन राव भागवत भी विदेशों में भारतीय संस्कृति का परचम लहराएंगे। जुलाई के अंतिम सप्ताह में संघ प्रमुख इंग्लैंड के एक सप्ताह के दौरे पर हैं। ईयू से अलग होने के मामले में ब्रिटेनवासियों का मत सामने आने के बाद भागवत का यह दौरा अहम हो गया है।
विज्ञापन
इस दौरे के जरिये भागवत ब्रिटेन और यूरोप में रह रहे भारतीयों को संस्कार, सेवा और संगठन की सीख देंगे। वहां संघ के स्वयंसेवकों को संबोधित करने के अलावा संघ प्रमुख ब्रिटेन की आम जनता को भी संबोधित करेंगे। उन्हें भारत की संस्कृति से अवगत कराने के साथ विश्व की वर्तमान चुनौतियों से निपटने में कारगर भारतीय सोच को सामने रखेंगे।

इंग्लैंड में भागवत का यह पहला दौरा नहीं है। संघ प्रमुख बनने से पहले वे इंग्लैंड और यूरोप के पालक अधिकारी रह चुके हैं।

मगर देश के वर्तमान नेतृत्व में भारत की छटा दुनिया में जिस कदर उभरी है, उसे ध्यान में रखते हुए भागवत का यह दौरा अहम बन गया है। इंग्लैंड में संघ की करीब 100 शाखाएं लगती हैं। बताया जा रहा है कि संस्कृति महाशिविर के जरिये भागवत पूरे यूरोप के स्वयं सेवकों को संस्कार, सेवा और संगठन का पाठ पढ़ाएंगे।

यूरोप के विभिन्न हिस्सों से आए 2200 स्वयंसेवकों के साथ भागवत पूरे तीन दिन तक तंबू में रहेंगे। इनके रहने के लिए 400 विशेष तंबू लगाए गए हैं। हालांकि इन तंबुओं में सभी विशिष्ट सुविधाएं हैं। बावजूद इसके यह संघ की सादगी की मिशाल बनेगा।

इस आशय की पुष्टि करते हुए संघ के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया की पूरे तीन दिन तक भागवत तंबू के अंदर स्वयं सेवकों के साथ रहेंगे। भागवत यहां एक बड़ी सभा को भी संबोधित करेंगे। स्वयंसेवकों का तीन दिवसीय महाशिविर 29 से 31 जुलाई तक चलेगा। इस विशेष आयोजन में पर्यावरण हित को पूरी तरह से ध्यान में रखा गया है। तंबुओं में पूरी तरह रीसाइकिल होने वाली वस्तुओं का उपयोग हुआ है। प्लास्टिक के वस्तुओं से दूरी बरती गई है।

Published By Rahul Sankrityayan
विज्ञापन

Recommended

प्रथम श्रेणी के दुग्ध उत्पादों के लिए प्रतिबद्ध है धौलपुर फ्रेश
Dholpur Fresh

प्रथम श्रेणी के दुग्ध उत्पादों के लिए प्रतिबद्ध है धौलपुर फ्रेश

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

India News

हिंदुत्व-असमिया पहचान और सत्ता संघर्ष के दांवपेंच में फंसा असम

असम संघ के हिंदुत्व और असमिया पहचान के बीच फंस गया है और सत्ताधारी दल के आंतरिक संघर्ष ने स्थानीय टीवी न्यूज चैनलों की होड़ ने उस घी का काम किया है, जिससे नागरिकता संशोधन विधेयक-2019 को लेकर सुलग रही चिंगारी आग बन कर भड़क उठी।

13 दिसंबर 2019

विज्ञापन

घर के पास दिखा अजगर, महिला ने हाथ से पकड़कर बैग में रखा, वीडियो वायरल

करीब 20 किलो के अजगर को हाथ से पकड़कर बैग में भरने का एक अफसर की पत्नी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

12 दिसंबर 2019

Related

आज का मुद्दा
View more polls
Safalta

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election