रिपोर्ट में दावा- भारत में हैं सबसे ज्यादा गुलाम, आईबी ने कहा- देश की छवि खराब करने की साजिश

amarujala.com- Presented By: पूजा मेहरोत्रा Updated Wed, 04 Oct 2017 01:33 PM IST
गुलाम
गुलाम - फोटो : social media
ख़बर सुनें
विश्वभर में सबसे ज्यादा गुलाम और दास भारत मे हैं। अमेरिकी सरकार से फंडेड आईएलओ 2017 की इस रिपोर्ट पर भारत की इंटेलीजेंस ब्यूरो ने कड़ा विरोध जताया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनियाभर में 40 मिलियन गुलाम हैं जिसमें एशिया-पैसिफिक में 25 मिलियन है। जिनमें सबसे अधिक भारत में हैं। 
भारत में सबसे अधिक गुलाम और दास कहे जाने पर इंटेलीजेंस ब्यूरो ने विरोध जताते हुए कहा है कि यह भारत को बदनाम करने की साजिश है। ब्यूरो ने इस बाबत पीएमओ, नेशनल सिक्योरिटी एडवाइजर, विदेश मंत्रालय और लेबर मिनिस्ट्री को एक गुप्त पत्र भी  लिखा है। 

पढ़ें: UN में एनजीओ का दावा, भारत में हाल में बने कानूनों से वैध हो गई है बाल मजदूरी

दासता पर यह रिपोर्ट इंटरनेशल लेबर ऑरगेनाइजेशन,यूएनए और ऑस्ट्रेलिया आधारित डब्ल्यूएफएफ ने जारी की है।   इंटेलीजेंस ब्यूरो ने कहा है कि इस रिपोर्ट से भारत में हो रहे सतत विकास के लक्ष्य 8.7 पर सीधा असर पड़ेगा और इससे भारत की छवि और निर्यात को भी नुकसान पहुंचने की संभावना है। यह मानव तस्करी, श्रम उन्मूलन कार्य को प्रभावित करेगा। 

रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में 14-18 मिलियन गुलाम है, जो विश्वभर के किसी भी देश में सबसे अधिक है। जबकि 2016 के सर्वे में एशिया पैसिफिक  में 30 मिलियन और अकेले भारत में 18 मिलियन गुलाम बताए गए थे जबकि विश्वभर में गुलामों की गिनती 46 मिलियन की गई थी।  
 

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

India News

कर्नाटक : झोपड़ी में मिले आठ वीवीपीएटी मशीन पर येदियुरप्पा ने चुनाव आयोग को लिखा पत्र

कर्नाटक में सरकार जाने के बाद भी बीजेपी नेता बी एस येदियुरप्पा चुप बैठने वालों में से नहीं हैं। येदियुरप्पा ने विजयपुरा जिले में झोपड़ी में मिले आठ वीवीपीएटी मशीन पर सवाल उठाया है।

22 मई 2018

Related Videos

मुंबई में जेजे अस्पसताल के डॉक्टटर इस वजह से छुट्टी पर, मरीज परेशान

मुंबई के जेजे अस्पाताल में रेजिडेंट डॉक्टपर से मारपीट के बाद सामूहिक अवकाश पर गए डॉक्टीरों का प्रदर्शन सोमवार को भी जारी रहा। अब मुंबई के बाकी अस्प तालों के डॉक्टीर्स भी इनके समर्थन में आ गए हैं।

22 मई 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen