अब नहीं हो सकेगी वोटिंग में धांधली, गुजरात IIM के इस ग्रेजुएट ने बनाई वोटिंग एप

amarujala.com-presented by: मोहित Updated Thu, 13 Jul 2017 04:40 PM IST
Here's The IIM Graduate From Gujrat Who come up with RIGHT2VOTE mobile app 
इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन
बीते दिनों पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी को भारी जनमत मिला। जिनमें से चार राज्यों में भाजपा सत्ता तक पहुंचने में कामयाब रही। वहीं चुनाव में उतरी अन्य पार्टियों ने इस पूरी चुनाव प्रक्रिया पर ही सवाल खड़े कर दिए।
सबसे पहले बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की प्रमुख मायावती ने वोटिंग मशीनों को शक के दायरे में रखते हुए चुनाव में धांधली (ईवीएम हैकिंग) की बात कही। इसके बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जो कि पंजाब में जीत का सपना देख रहे थे उन्होंने भी हार के लिए इसी तरह के इल्जाम लगाए। जिसके बाद भविष्य में होने वाले चुनाव पर चुनाव आयोग ने वीवीपैट से करवाने की बात कही।

लेकिन गुजरात आईआईएम के नीरज गुटगुटिया ने 'राइट2वोट' नाम की एक एप बनाई है जिसके जरिए उन्होंने 100 प्रतिशत निष्पक्ष वोटिंग का दावा किया है।दावा है कि इस एप के जरिए वोटिंग को आसान और प्रभावी ढंग से काम करने में सक्षम है।

नीरज बताते हैं कि 'मेरे इस प्लेटफॉर्म के जरिए चुनाव के दौरान कई तरह के फायदे होंगे जिनमें 90 प्रतिशत खर्च, समय और मेहनत बचेगी। इस प्लेटफॉर्म को चुनाव आयोग जिला परिषद् चुनावों में पॉयलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू करने पर भी विचार कर रहा है।'
आगे पढ़ें

ऐसे काम करेगी राइट2वोट एप

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

India News

भारत में जन्म के 28 दिनों के भीतर 6 लाख नवजातों की होती है मौत: यूनिसेफ

दुनिया में नवजात बच्चों की मृत्यु दर की स्थिति बेहद चिंताजनक है। हर साल जन्म के 28 दिन के भीतर 26 लाख बच्चे दम तोड़ देते हैं।

20 फरवरी 2018

Related Videos

पीएनबी घोटाले पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने तोड़ी चुप्पी, कहा...

पीएनबी घोटाले पर वित्ति मंत्री अरुण जेटली ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि, धोखेबाजों को सरकार नहीं छोड़ेगी। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने ऑडिटर्स, मैनेजमेंट और निगरानी एजेंसियों पर सवाल उठाए हैं।

21 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen