लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   BJP Sambit patra Over waris pathan and Amulya controversial statement asaduddin owaisi Caa Protest

वारिस और अमूल्या के बयान पर संबित पात्रा बोले- ओवैसी के हाथ में संविधान और दिल में पठान है

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: देव कश्यप Updated Fri, 21 Feb 2020 02:42 PM IST
भाजपा नेता संबित पात्रा
भाजपा नेता संबित पात्रा - फोटो : Twitter
ख़बर सुनें

असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के पूर्व विधायक वारिस पठान के बयान और बंगलूरू में आयोजित विवादित नारे लगाने वाली लड़की अमूल्या को लेकर बवाल मचा हुआ है। इन दोनों मामलों को लेकर भाजपा नेता संबित पात्रा ने शुक्रवार को पार्टी मुख्यालय में मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि ओवैसी ने लड़की का तो माइक छीन लिया, लेकिन अपने विधायक वारिस पठान का माइक क्यों नहीं छीना। वह मंच पर मौजूद थे और वारिस 15 मिनट तक बोलते रहे।



ओवैसी के हाथ में संविधान और दिल में वारिस पठान है

संबित पात्रा ने कहा कि इससे साफ होता है कि उनकी नीयत में खोट है। उनको किस तरह की आजादी चाहिए? ओवैसी के हाथ में संविधान और दिल में वारिस पठान है। उन्होंने आगे कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में पूरे देश में जिस प्रकार की घृणा की राजनीति कुछ लोग जो कर रहे हैं उसका उदाहरण ये हैं। देश में हो रहे इस पूरे प्रदर्शन में उनका कोई तथाकथित लीडर है तो वो असदुद्दीन ओवैसी और एआईएमआईएम पार्टी है।



संबित पात्रा ने आगे कहा कि गुरुवार को ओवैसी के मंच पर पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगे। जब मंच के पीछे सिखाया जाता है तो कभी-कभी मंच के आगे हकीकत निकल जाती है। जब मंच के पीछे पाकिस्तान को ऑक्सीजन देने की बात होती है और मंच के आगे संविधान, तिरंगा पकड़ने का नाकट किया जाता है तो कभी-कभी हकीकत मुंह से निकल जाती है।

भाजपा के नेता वारिस पठान की तरह बयान देते तो कहोराम मच जाता

पात्रा ने कहा कि ओवैसी की पार्टी के कद्दावर नेता वारिस पठान कहते हैं कि हम छीन कर लेंगे आजादी। मैं इन तथाकथित लिबरल से पूछना चाहता हूं कि कौन सी आजादी चाहिए, किससे आजादी चाहिए? ओवैसी की पार्टी ने कहा है कि 15 करोड़, 100 करोड़ पर भारी पड़ेंगे। अगर भाजपा के नेता ने ऐसा कोई बयान दे दिया होता तो आज सारे तथाकथित लिबरल सड़क पर उतर जाते, पूरे देश में कोहराम मचा देते। लेकिन आज एक भी सामने नहीं आ रहा है, एक भी सवाल नहीं पूछ रहा है। ये सारे लोग हमारे मुस्लिम भाइयों को बरगला रहे हैं, भ्रमित कर रहे हैं। इन सभी लोगों के हाथ में संविधान और दिल में वारिस पठान है, ये साबित कर दिया है।

क्या कहा था वारिस पठान ने

एआईएमआईएम नेता और महाराष्ट्र के पूर्व विधायक वारिस पठान ने कर्नाटक के गुलबर्ग में हुई एक रैली के दौरान हिन्दू-मुसलमान का मुद्दा उठाते हुए भड़काऊ बयान दिया था।  पठान ने कहा कि वे कहते हैं कि हमने अपनी महिलाओं को सामने रखा है, अभी तो केवल शेरनियां बाहर आई हैं और आप पसीना-पसीना होने लगे हैं। तब क्या होगा जब हम सभी साथ आ जाएंगे। 15 करोड़ हैं लेकिन सौ पर भी भारी हैं, ये याद रखना। पठान ने यह बयान एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की मौजूदगी में ही दिया। 

अमूल्या को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया

सीएए के खिलाफ बंगलूरू में आयोजित की गई रैली में एआईएमआईएम के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी के सामने अमूल्या लियोन ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए। उसपर देशद्रोह का मामला दर्ज करके 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।  इस मामले में कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा का कहना है कि वह नक्सलियों से जुड़ी है। अमूल्या को जमानत नहीं मिलनी चाहिए। उसके पिता का भी कहना है कि वह उसे नहीं बचाएंगे। इससे साबित होता है कि वह नक्सलियों से संपर्क में है। उसे उचित सजा दी जानी चाहिए।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00