बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

UP Board Exam 2021: प्रधानमंत्री मोदी ने बताए बोर्ड छात्रों के लिए कुछ खास टिप्स, जिन्हें परीक्षा से पहले आपको जान लेना जरूरी है

Media Solution Initiative Published by: वर्तिका तोलानी Updated Sat, 10 Apr 2021 03:15 PM IST

सार

  • माता-पिता रिपोर्ट कार्ड से न आंके अपने बच्चों की प्रतिभा
  • इसे परीक्षा को अपने जीवन की अंतिम परीक्षा न मानें
विज्ञापन
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी - फोटो : ANI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें

विस्तार

बीते गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आने वाले बोर्ड एग्जाम के मद्देनजर छात्रों के साथ वर्चुअल संवाद किया। प्रधानमंत्री मोदी ने परीक्षा पे चर्चा नाम के इस कार्यक्रम के माध्यम से बोर्ड परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के साथ-साथ उनके माता-पिता और शिक्षकों से भी सीधा संवाद किया। उन्होंने अपने संवाद में कहा छात्र इन परीक्षाओं को ही अपनी मंजिल न समझें यह तो मात्र एक जीवन के पड़ाव में आने वाली कसौटी की तरह हैै और  इस तरह की तमाम कसौटियों से लडने के लिए हमें खुद को तैयार रखना चाहिए। प्रधानमंत्री के इस कार्यक्रम का  मूल उद्देश्य बोर्ड परीक्षाओं से पहले छात्रों के डर को दूर करना था, जिससे छात्र आने वाले एग्जाम को चिंता मुक्त रहकर दे सकें। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री के इस कार्यक्रम में लाखों छात्रों ने जुड़कर अपने सवाल पूछे थे। इस कार्यक्रम के दौरान उन्होंने छात्रों को बोर्ड एग्जाम से जुड़े सवालों के उत्तर देने के साथ-साथ उनके अभिभावकों और शिक्षकों के लिए कुछ अहम बातें  बताईं  ।
विज्ञापन


क्या हैं खास टिप्स

कार्यक्रम के दौरान  उन्होंने कहा  कि विद्यार्थियों की तैयारी, और तैयारियों के दौरान उनके माता-पिता, टीचर्स की किस तरह की भूमिका होनी चाहिए। इस पर कुछ खास टिप्स साझा किए गए
  • प्रधानमंत्री मोदी कहते हैं कि छात्रों को जो विषय या पाठ सबसे ज्यादा कठिन लगे, उसे पहले पढ़ना चाहिए। आप देखेंगे कि एक समय बाद वह आपको रुचिकर लगने लगेगा। मुश्किल पाठ से भागे नहीं।
  • जीवन में अवसरों की कमी नहीं है, इसे ही जीवन की अंतिम परीक्षा न मानें,यह तो सिर्फ एक कसौटी मात्र है, जिस पर आपको होकर गुजरना है और खरा उतरने का पूरा प्रयास करना चाहिए।
  • माता-पिता को चाहिए कि छात्रों की प्रतिभा को उनके रिपोर्ट कार्ड से न आकें, उसके अंदर जो प्रकाश है, उसे स्वयं से प्रकाशमान होने का अवसर दें।
  • शिक्षकों को सलाह दी कि वे पढ़ाई से बाहर निकलकर भी बच्चों से बात करें। टोकने, रोकने के बजाय उन्हें सलाह दें। किसी बच्चे में कोई कमी दिखे तो अलग से चलते-फिरते आसान तरीके से समझाएं।

फ्री क्रैश कोर्स से करें तैयारी  
जहां एक ओर कोरोना का कहर है वहीं दूसरी ओर परीक्षा का दबाव। ऐसे में यूपी बोर्ड के छात्रों को अपनी तैयारी में तालमेल बैठाना थोड़ा मुश्किल का सबब बनता जा रहा है। कोविड के कारण पूरे साल छात्रों की पढ़ाई प्रभावित रही थी और अब नजदीकी समय में भी सभी स्कूल, कोचिंग संस्थान बंद पड़े हुए हैं। इन सभी समस्याओं के चलते safalta.com ने बाेर्ड छात्रों की बेहतर तैयारी कराने के लिए फ्री क्रैश कोर्स लांच किया था। जहां छात्रों की अनुभवी शिक्षकों द्वारा प्रत्येक विषय की लाइव क्लासेज के माध्यम से तैयारी कराई जा रही है। साथ ही एक्सपर्ट फैकल्टी द्वारा तैयार किए गए पीडीएफ नोट्स भी छात्रों को उपलब्ध कराए जा रहे हैं। जिसकी मदद से स्टूडेंट्स बोर्ड परीक्षाओं की घर बैठे सुरक्षित तैयारी कर सकें।

तो देर किस बात की अभी इस लिंक  http://bit.ly/safaltaapp  पर क्लिक करें और Safalta App Download करें।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें शिक्षा समाचार आदि से संबंधित ब्रेकिंग अपडेट।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us