लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Education ›   UGC extends CUET UG 2022 application deadline to May 31

CUET UG 2022: यूजीसी ने आगे बढ़ाई सीयूईटी के लिए आवेदन की आखिरी तारीख, छात्रों के पास एक और मौका

पीटीआई, नई दिल्ली Published by: Jeet Kumar Updated Sat, 28 May 2022 10:14 AM IST
सार

CUET UG 2022: यूजीसी प्रमुख ने मार्च में घोषणा की थी कि 45 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए सीयूईटी स्कोर, न कि कक्षा 12 के अंक अनिवार्य होंगे, और केंद्रीय विश्वविद्यालय अपनी न्यूनतम पात्रता मानदंड तय कर सकते हैं।

CUET 2022
CUET 2022 - फोटो : Amar Ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

CUET UG 2022: विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने शुक्रवार को कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (सीयूईटी)-यूजी के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 31 मई तक बढ़ाने की घोषणा की है। बता दें कि 11.5 लाख से अधिक उम्मीदवारों ने पहले ही परीक्षण के लिए पंजीकरण कराया है। इनमें से 9 लाख से अधिक ने आवेदन शुल्क का भी भुगतान कर दिया है। इसके साथ ही सीयूईटी देश की दूसरी सबसे बड़ी प्रवेश परीक्षा बन गई है। जिन उम्मीदवारों को स्नातक के पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए सीयूईटी परीक्षा में शामिल होने की इच्छा है और अपना आवेदन नहीं कर सके हैं, वे इस दूसरे मौके को हाथों से न जाने दें। उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट  cuet.samarth.ac.in पर जाकर अपना आवेदन कर सकते हैं। 

CUET UG 2022: यूजीसी के अध्यक्ष ने दी जानकारी
यूजीसी के अध्यक्ष एम जगदीश कुमार ने कहा कि सीयूईटी (यूजी)-2022 के लिए अपने ऑनलाइन आवेदन पत्र जमा करने का अवसर देने के संबंध में उम्मीदवारों से प्राप्त अभ्यावेदन के मद्देनजर, हमने 27 मई से 31 मई तक आवेदन प्रक्रिया को फिर से खुला रखने का फैसला किया है। यूजीसी प्रमुख ने मार्च में घोषणा की थी कि 45 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए सीयूईटी स्कोर, न कि कक्षा 12 के अंक अनिवार्य होंगे। हालांकि, केंद्रीय विश्वविद्यालय अपनी न्यूनतम पात्रता मानदंड तय कर सकते हैं।

CUET UG 2022: कब होगी परीक्षा?
राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी की ओर से कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट यानी सीयूईटी परीक्षा की तारीख की घोषणा नहीं की है। हालांकि, यह तय माना जा रहा है कि परीक्षा जुलाई महीने में होगी ताकि छात्रों की बोर्ड परीक्षाएं समाप्त हो गई रहे। परीक्षा का प्रवेश पत्र भी परीक्षा से कुछ दिनों पहले जारी कर दिया जाएगा। छात्र किसी भी जानकारी या नए अपडेट के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर नजर बनाकर रखें।
 

छात्रों को एआईपीएचएस में प्रवेश लेने का अधिकार नहीं
विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने शुक्रवार को छात्रों को अखिल भारतीय सार्वजनिक एवं शारीरिक स्वास्थ्य विज्ञान संस्थान (एआईपीएचएस) में प्रवेश लेने के खिलाफ चेतावनी देते हुए कहा कि स्वयंभू संस्थान को डिग्री देने का अधिकार नहीं है।

यूजीसी के सचिव रजनीश जैन ने कहा कि यह हमारे संज्ञान में आया है कि अखिल भारतीय सार्वजनिक और शारीरिक स्वास्थ्य विज्ञान संस्थान (एआईपीएचएस) जिसका कार्यालय अलीपुर, दिल्ली में है, यूजीसी अधिनियम, 1956 के घोर उल्लंघन में विभिन्न डिग्री पाठ्यक्रम चला रहा है। उल्लिखित संस्थान न तो यूजीसी द्वारा मान्यता प्राप्त है न ही कोई डिग्री प्रदान करने का अधिकार है।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें शिक्षा समाचार आदि से संबंधित ब्रेकिंग अपडेट।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00