AFCAT 2020: वायुसेना से जुड़ने का है सपना तो 'सफलताडॉटकॉम' दे रहा है सुनहरा मौका, आज ही करें आवेदन

एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला Updated Mon, 22 Jun 2020 05:49 PM IST
विज्ञापन
AFCAT 2020
AFCAT 2020 - फोटो : SAFALTA CLASS

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
AFCAT 2020: वायु सेना कॉमन एडमिशन टेस्ट (AFCAT) परीक्षा 19 और 20 सितंबर को आयोजित की जाएगी। इस परीक्षा के लिए अभ्यर्थी 14 जुलाई तक आधिकारिक वेबसाइट के जरिए आवेदन कर सकते हैं। जो अभ्यर्थी इस परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, उनके लिए safalta.com सुनहरा अवसर लेकर आया है। इस परीक्षा की तैयारी कर रहे विद्यार्थी safalta.com के ऑनलाइन कोर्स में दाखिला लेकर घर बैठे ही पक्की तैयारी कर सकते हैं। विद्यार्थी अगर आज ही इस ढाई महीने के ऑनलाइन कोर्स में दाखिला लेते हैं, तो उनको सबसे कम फीस भरनी पड़ेगी।

सिर्फ 4,499 रुपये में लें एफकैट (AFCAT) के दूसरे बैच में दाखिला

AFCAT परीक्षा की तैयारी के लिए नए बैच की शुरुआत 24 जून से हो रही है। अगर विद्यार्थी safalta.com के इस ऑनलाइन कोर्स में आज ही दाखिला लेते हैं, तो उनको सिर्फ 4,499 रुपये देने होंगे।

'सफलताडॉटकॉम' के AFCAT ऑनलाइन कोर्स की खासियत

यह ऑनलाइन कोर्स ढाई महीने का है और इसमें विद्यार्थियों को 300 घंटे से ज्यादा ऑनलाइन कक्षाएं दी जाएंगी। एक्सपर्ट शिक्षक विद्यार्थियों को पढ़ाएंगे। विद्यार्थियों को जूम एप के जरिए लाइव इंटरैक्टिव कक्षाएं दी जाएंगी। परीक्षा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थी डेस्कटॉप और मोबाइल से क्लासेस ले सकेंगे। विद्यार्थियों की सुविधा के लिए सभी कक्षाएं रिकॉर्ड होंगी ताकि कक्षा छूटने पर विद्यार्थी फिर से देख सकें। विद्यार्थियों के लिए हर हफ्ते मॉक टेस्ट का आयोजन किया जाएगा और पीडीएफ फॉर्म में क्लासरूम नोट्स दिए जाएंगे। विद्यार्थियों की पक्की तैयारी के लिए विशेष प्रश्न-उत्तर सत्र का आयोजन किया जाएगा। विद्यार्थियों के लिए पर्सनलाइड काउंसलिंग सेशंस भी आयोजित किए जाएंगे। 

वायुसेना में मिलने वाले भत्ते और वजीफा

भारतीय वायुसेना में अभ्यर्थियों को अधिकारी के रूप में अधिकृत होने से पहले ही प्रशिक्षण के दौरान मासिक वजीफा मिलना शुरू हो जाता है। अभ्यर्थियों को प्रशिक्षण ट्रेनिंग के आखिरी वर्ष प्रति माह 56,100 रुपये का वजीफा मिलता है। जब अभ्यर्थियों को फ्लाइंग ऑफिसर के तौर पर मान्यता मिल जाती है तो उनको विभिन्न तरह के भत्ते मिलने लगते हैं। इनमें परिवहन भत्ता, बाल शिक्षा भत्ता और एचआर शामिल है। उड़ान और तकनीकी शाखाओं में नए कमीशन अधिकारियों को फ्लाइंग भत्ता और तकनीकी भत्ता भी मिलता है।

एफकैट परीक्षा (AFCAT Exam) क्या होती है और कैसा होता है इसका पैटर्न?

एएफसीएटी परीक्षा के जरिए अभ्यर्थी  भारतीय वायुसेना में फ्लाइंग और ग्राउंड ड्यूटी के लिए चुने जाते हैं। इस परीक्षा के लिए एयरफोर्स में तकनीकी और गैर-तकनीकी दोनों पदों के लिए वायुसेना अधिकारी चुने जाते हैं। परीक्षा में सफलता पाने के बाद अभ्यर्थियों को दूसरे दौर के मुल्यांकन के लिए बुलाया जाता है जिसमें उनका व्यक्तित्व और शारीरिक फिटनेस के साथ ही विभिन्न तरह के कौशल का परीक्षण होता है। इसमें साक्षात्कार की प्रक्रिया पांच दिनों तक चलती है और उसके बाद उम्मीदवारों के नाम की घोषणा होती है। AFCAT की परीक्षा दो घंटे 45 मिनट की होती है और सामान्य जागरुकता, अंग्रेजी में मौखिक क्षमता, संख्यात्मक क्षमता, रिजनिंग और मिलिट्री एप्टीट्यूड से 100 सवाल पूछे जाते हैं जो कि 300 नंबरों के होते हैं। इकेटी पैटर्न से 45 मिनट में 50 प्रश्न पूछे जाते हैं जो कि 150 नंबर के होते हैं।

एफकैट (AFCAT) में लड़कियां भी बना सकती हैं करियर 

सबसे खास बात है कि लड़कियां भी AFCAT परीक्षा के जरिए भारतीय वायुसेना में अधिकारी बन सकती हैं। लड़कियां फ्लाइंड और तकनीकी किसी भी ब्रांच में वायुसेना अधिकारी बन सकती हैं।

विज्ञापन

दाखिले के लिए इस लिंक पर क्लिक करें- https://bit.ly/37GioGC

विज्ञापन
विज्ञापन

सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें शिक्षा समाचार आदि से संबंधित ब्रेकिंग अपडेट। उत्तराखंड बोर्ड 2020 का हाईस्कूल और इंटरमीडिएट का रिजल्ट जानने के लिए आज ही रजिस्टर करें।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us