IPL 2020: 'खिलाड़ियों के साथ जरूरी लोगों को ही 'बायो बबल' का हिस्सा होना चाहिए'

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला Published by: मुकेश कुमार झा Updated Thu, 03 Sep 2020 06:25 PM IST
CSK
CSK - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन
ख़बर सुनें
किंग्स इलेवन पंजाब के सह मालिक नेस वाडिया ने गुरूवार को कहा कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) बायो-बबल में केवल वही लोग होने चाहिए, जिनका खिलाड़ियों के साथ होना 'सचमुच जरूरी' हो। उन्होंने कहा कि चेन्नई सुपरकिंग्स दल में आए कोरोना पॉजिटिव मामले आठ में से किसी भी फ्रेंचाइजी में आ सकते थे।
विज्ञापन


चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) दल के दो खिलाड़ियों सहित 13 सदस्यों को पिछले हफ्ते वारयस के लिए पॉजिटिव पाया गया, जिससे महामारी के बीच संयुक्त अरब अमीरात में होने वाले टूर्नामेंट के लिए सुरक्षा चिंताएं बढ़ गई हैं। वाडिया ने समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा, 'सीएसके घटना ने हमें बताया कि यह किसी के साथ भी हो सकता है, जबकि सभी एहतियात बरते जा रहे हैं इसलिये हमें बायो-बबल प्रोटोकॉल का और अच्छी तरह सख्ती से पालन करना चाहिए। हमें सुनिश्चित करना चाहिए कि केवल वे ही बबल का हिस्सा हों जिनका खिलाड़ियों के साथ होना सचमुच जरूरी है।'


फ्रेंचाइजी के गैर खिलाड़ी और गैर कोचिंग स्टाफ में टीम परिचालन प्रबंधक और सोशल मीडिया विशेषज्ञ शामिल हैं। फोटो शूट के दौरान क्रिकेटरों को मार्केंटिंग स्टाफ के साथ भी समय बिताना पड़ता है जो 19 सितंबर से शुरू हो रही लीग के करीब ही होंगे। टीमों के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और मालिकों को भी बायो-बबल में प्रवेश की अनुमति है, इनमें से ज्यादातर यूएई नहीं पहुंचे हैं लेकिन मानक परिचालन प्रक्रिया (एसओपी) उल्लंघन के कारण उन्हें भी सात दिन के पृथकवास में जाना पड़ सकता है।

बीसीसीआई एसओपी के अनुसार, 'टीमों के बाहर के स्टाफ की संख्या, सहयोगी स्टाफ और मैच अधिकारियों की संख्या को न्यूनतम तक सीमित रखना चाहिए।' जब उनसे पूछा गया कि वे टूर्नामेंट के लिए जाएंगे तो वाडिया ने कहा, 'मैंने अभी फैसला नहीं किया है लेकिन मैं सामान्य रूप से ज्यादा खिलाड़ियों से बातचीत नहीं करता। मैंने अभी तक अनिल कुंबले (मुख्य कोच) से दो बार बात की है कि क्या चल रहा है। मैं जूम या अन्य किसी ऑनलाइन मंच पर बात करने में ज्यादा सहज हूं।'

वाडिया ने कहा कि सीएसके में पॉजिटिव मामले आने से चिंता की कोई बात नहीं है क्योंकि यूरोपीय फुटबॉल लीग प्रतियोगिता में भी बहाली के बाद कोविड-19 पॉजिटिव मामले सामने आए थे। यहां तक कि एनबीए खिलाड़ी भी कोविड-19 पॉजिटिव आए हैं।

उन्होंने कहा, 'बीसीसीआई ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्य प्रोटोकॉल लगाई है। अगर आप फुटबॉल लीग को देखो तो शुरू में मामले सामने आए और फिर सबसे ज्यादा एहतियात बरती गई। मुझे नहीं लगता कि लोगों को बिलकुल भी चिंता करने की जरूरत है। जैसे हम आगे बढ़ेंगे चीजें बेहतर होंगी।'

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें क्रिकेट समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। क्रिकेट जगत की अन्य खबरें जैसे क्रिकेट मैच लाइव स्कोरकार्ड, टीम और प्लेयर्स की आईसीसी रैंकिंग आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00