राज्य संघों को भेजे पत्र में BCCI से हुई गलती, कॉपी-पेस्ट की वजह से निकली फजीहत

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला Updated Wed, 14 Feb 2018 11:59 AM IST
बीसीसीआई
बीसीसीआई
ख़बर सुनें
बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड) की एक छोटी से गलती के चलते उसे बड़ी फजीहत का सामना करना पड़ा है। दरअसल बीसीसीआई ने राज्य संघों को भेजे एक पत्र में 2017-18 सत्र की जगह 2016-17 लिख दिया। यह पत्र बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने राज्य संघों को मुंबई में 28 फरवरी को होने वाली कप्तानों और कोचों की सालाना बैठक में शामिल होने के लिए भेजा था।
बता दें कि इस सालाना बैठक में बीसीसीआई के आला अधिकारी 2016-17 सत्र की रणजी ट्रॉफी के बारे विचार-विमर्श करना चाहते हैं। इसलिए रणजी टीम के सभी कप्तानों और कोचों को आमंत्रित करने के लिए यह पत्र भेजा गया था। हालांकि इस गलती को 'टाइपिंग मिस्टेक' मानकर दरकिनार कर दिया गया, लेकन राज्य संघ इस बात से नाराज हैं कि गलती पता चलने के बाद भी उसमें अभी तक सुधार नहीं हुआ है।

वहीं नाम न बताने की शर्त पर बीसीसीआई के ही एक सदस्य ने बताया कि यह गलती टाइपराइटर से कॉपी-पेस्ट करने की वजह से हुई है। किसी भी पेशे में रहते हुए इस तरह की गलतियां होना वास्तविक है, लेकिन एक अधिकारी होने के नाते ऐसे किसी भी पत्र पर हस्ताक्षर करने से पहले उसे ध्यानपूर्वक पढ़ लेना जरूर है।

RELATED

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get cricket news in Hindi live update of Sports News, live cricket score and more cricket news etc. Stay updated with us for all breaking hindi news from Sports and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Cricket News

ENGvPAK 1st test: दूसरे दिन का खेल खत्म, पाकिस्तान ने ली 166 रन की बढ़त 

पाकिस्तान ने मेजबान इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स मैदान पर खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के दूसरे दिन आठ विकेट पर 350 रन बनाकर अपनी पकड़ मजबूत कर ली है।

26 मई 2018

Related Videos

खुल गए IPL 2018 के कार्यक्रम से जुड़े सारे राज, देखें वीडियो

6 अप्रैल 2018 से आईपीएल के 11वें सीजन का आगाज होगा। सीजन का फाइनल भी मुंबई में ही खेला जाएगा।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे कि कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स और सोशल मीडिया साइट्स के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज़ नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज़ हटा सकते हैं और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डेटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy और Privacy Policy के बारे में और पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen