विज्ञापन
विज्ञापन

चुनावी हिंसा में बिहार की 'शर्मनाक' परंपरा से कहीं आगे निकला ममता का बंगाल

Sanjiv Pandeyसंजीव पांडेय Updated Wed, 15 May 2019 01:19 PM IST
2019 के लोकसभा चुनाव में मतदान के हर चरण के दौरान पश्चिम बंगाल में हिंसा हो रही है।
2019 के लोकसभा चुनाव में मतदान के हर चरण के दौरान पश्चिम बंगाल में हिंसा हो रही है। - फोटो : Social media
ख़बर सुनें

बंगाल 1990 के दशक का बिहार बनता नजर आ रहा है। 2019 के लोकसभा चुनाव में मतदान के हर चरण के दौरान पश्चिम बंगाल में हिंसा हो रही है। अब कोलकाता में भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह के चुनावी रोड शो के दौरान हिंसा हुई है। भाजपा और टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने एक दूसरे पर हमला किया है। बंगाल में दुखद हिंसा को अब चुनावी लाभ में तब्दील करने की कोशिश की गई है। ईश्वर चंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़ी गई है। पूरे देश में समाज सुधारक के तौर पर विद्यासागर की पहचान है। टीएमसी ने इसी को मुद्दा बनाया है। भाजपा पर मूर्ति तोड़ने का आरोप लगाया है। वहीं बीजेपी डिफेंसिव है और टीएमसी पर मूर्ति तोड़ने का आरोप लगा रही है।

विज्ञापन
यह हिंसा छठे चरण की हिंसा के बाद की हिंसा है। छठे चरण के दौरान भी झारग्राम में एक भाजपा कार्यकर्ता रमण सिंह की हत्या हो गई थी। पश्चिम बंगाल में भारी मतदान के बीच लगातार हिंसा ने यह साबित कर दिया है कि बंगाल भाजपा और टीएमसी के लिए प्रतिष्ठा का प्रश्न बन गया है, क्योंकि दोनों दलों का राजनीतिक भविष्य़ बंगाल से तय होता दिख रहा है।

भाजपा को लग रहा है कि बाकी राज्यों में लोकसभा सीटों के नुकसान की भरपाई पश्चिम बंगाल से पूरी की जा सकती है। जबकि तृणमूल कांग्रेस को लग रहा है कि ज्यादा से ज्यादा सीटें हासिल कर इस बार केंद्र में ममता बनर्जी निर्णायक भूमिका में आएंगी।

बंगाल में क्यों हिंसा के साये में हो रहा है चुनाव? 
अभी तक हुए छ चऱणों के चुनाव में पश्चिम बंगाल मे हिंसा हुई है। पांचवे चरण के मतदान के दौरान बैरकपुर में भाजपा और टीएमसी समर्थकों के बीच संघर्ष हो गया। बीजेपी ने टीएमसी पर भाजपा प्रत्य़ाशी अर्जुन सिंह पर हमले की कोशिश का आऱोप लगाया। चौथे चरण में आसनसोल में भाजपा प्रत्याशी बाबुल सुप्रियों की कार पर हमला किया। तीसरे चरण में सीपीएम और कांग्रेस समर्थकों पर हमला किया गया। मुर्शिदाबाद में कांग्रेस समर्थक की हत्या कर दी गई।

दूसरे चरण में रायगंज के इस्लामपुर में सीपीआई एम के सांसद मोहम्मद सलीम की गाड़ी पर हमला किया गया। पहले चरण में भी अलीपुरदुआर और कूच बिहार में टीएमसी और भाजपा समर्थकों के बीच संघर्ष हो गया। टीएमसी ने लेफ्ट प्रत्याशी पर भी हमला किया, उनकी गाड़ी तोड़ी।

विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन

Recommended

देखिये लोकसभा चुनाव 2019 के LIVE परिणाम विस्तार से
Election 2019

देखिये लोकसभा चुनाव 2019 के LIVE परिणाम विस्तार से

जानिए अपने शहर के लाइव नतीजों की पल-पल की खबर
Election 2019

जानिए अपने शहर के लाइव नतीजों की पल-पल की खबर

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Blog

भाजपा की जीत में मोदी के अलावा इन नेताओं की रही भूमिका, इन्हें मिल सकता है अहम पद

जीत छोटी हो या बड़ी, बिना सांगठनिक आधार के लोकतांत्रिक व्यवस्था में उसकी कल्पना भी बेमानी है। लेकिन यह भी सच है कि सांगठनिक व्यवस्था को प्रेरित करने के पीछे उसके

23 मई 2019

विज्ञापन

भाजपा की धमाकेदार जीत के बाद नई सरकार से जनता की क्या हैं मांग, देखिए

भाजपा की धमाकेदार जीत के बाद जनता नई सरकार से आखिर क्या चाहती है। क्या हैं जनता के मन की बात, देखिए

24 मई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election